scriptअमूल पशुपालकों की पहचान, भरोसा और विकास- पीएम मोदी | Amul is the identity of cattle herders, Amul means trust, Amul means development - PM Modi | Patrika News

अमूल पशुपालकों की पहचान, भरोसा और विकास- पीएम मोदी

locationअहमदाबादPublished: Feb 22, 2024 04:12:07 pm

Submitted by:

Khushi Sharma

प्रधानमंत्री मोदी अपने आज गुजरात दौरे पर अहमदाबाद में गुजरात सहकारी दुग्ध विपणन महासंघ (GCMMF) के स्वर्ण जयंती समारोह में शामिल हुए। वहां उन्होंने कई डेयरी संयंत्रों का उद्घाटन भी किया।
जीसीएमएमएफ भारत में किसानों की एक सहकारी संस्था है जो गुजरात राज्य में डेयरी उत्पादों का व्यापार करती है। यह एक सफल उद्यम है और इसका प्रमुख ब्रांड अमूल भारत में सबसे मान्यता प्राप्त ब्रांड नामों में से एक बन गया है।

गुजरात सहकारी दुग्ध विपणन महासंघ के स्वर्ण जयंती समारोह में मोदी

अमूल पशुपालकों की पहचान, अमूल का मतलब है भरोसा, अमूल का मतलब विकास- पीएम मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी आज गुजरात दौरे पर हैं। वे आज सुबह अहमदाबाद पहुंचे और गुजरात सहकारी दुग्ध विपणन महासंघ के स्वर्ण जयंती समारोह में भाग लिया। यह कार्यक्रम अहमदाबाद के मोटेरा स्थित नरेंद्र मोदी स्टेडियम में रखा गया।

इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए राजकोट, सुरेंद्रनगर, लिंबडी, मेहसाणा, पालनपुर, चोटिला सहित विभिन्न शहरों से किसान नेता, व्यापारी नेता, किसान और महिलाएं पहुंची हैं। आने वाले सभी लोगों को अमूल लिखी टोपी दी गई।

जीसीएमएमएफ अध्यक्ष ने सभी को संबोधित किया

जीसीएमएमएफ के अध्यक्ष श्यामलभाई पटेल बोले “गुजरात के लाखों दूध उत्पादकों को धन्यवाद। गुजरात सबसे बड़े दूध उत्पादक राज्यों में से एक है। 1973 में स्थापित अमूल आज दुनिया की आठवीं सबसे बड़ी डेयरी बन गई है। अमूल को आपका सहयोग मिला। दुनिया के देश आज भारत को एक बड़े बाजार के रूप में देख रहे। प्रधानमंत्री भी आज पहली बार अमूल डेयरी कार्यक्रम में शामिल हुए हैं यह गौरवपूर्ण पल।

अमूल का मतलब है विश्वास – पीएम

पीएम मोदी ने कहा, ’50 साल पहले, गुजरात के गांवों ने मिलकर जो पौधे लगाए, वे आज विशाल वटवृक्ष बन गए और इस वटवृक्ष की शाखाएं देश-विदेश तक फैली हैं। गुजरात सहकारी दुग्ध विपणन महासंघ की स्वर्ण जयंती पर आप सभी को बधाई।’

भारत की आजादी के बाद देश में कई ब्रांड बने, लेकिन अमूल जैसा कोई नहीं – पीएम मोदी ने स्वर्ण जयंती समारोह के अपने संबोधन में कहा।

मोदी ने अपने संबोधन में अमूल ब्रांड की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए बोला आज अमूल भारत के पशुपालकों की शक्ति का प्रतीक बन गया है।

“अमूल का मतलब है विश्वास, विकास, जन भागीदारी, किसानों का सशक्तिकरण, समय के साथ आधुनिकता का समावेश, आत्मनिर्भर भारत की प्रेरणा, बड़े सपने, बड़ी महत्वाकांक्षाएं और उससे भी बड़ी उपलब्धियां”।

भारत में डेयरी सेक्टर 6 फीसदी की दर से आगे बढ़ रहा – पीएम

‘हम दुनिया के सबसे बड़े दूध उत्पादक देश हैं’। भारत के डेयरी सेक्टर से 8 करोड़ लोग सीधे तौर पर जुड़े। पिछले 10 वर्षों में दूध उत्पादन लगभग 60% बढ़ा। दुनिया में डेयरी सेक्टर सिर्फ 2 फीसदी विकास कर रहा जबकि भारत में 6 फीसदी की दर से बढ़ रहा।

डेयरी सेक्टर की असली रीढ़ महिला शक्ति

पीएम बोले : भारत डेयरी सेक्टर की असली रीढ़ महिला शक्ति ही है। अमूल इस बात का उदाहरण है नारी शक्ति के कारण यह आज सफलता के शिखर पर। आज जब भारत महिला नेतृत्व वाले विकास के साथ आगे बढ़ रहा है, तो भारत के डेयरी क्षेत्र की यह सफलता एक बड़ी प्रेरणा है।

1200 करोड़ की पांच नई परियोजनाओं का उद्घाटन

सम्मेलन में पीएम ने 1200 करोड़ की पांच नई परियोजनाओं का उद्घाटन भी किया। जिसमें पनीर, आइसक्रीम और चॉकलेट प्लांट शामिल हैं। पीएम अमुल द्वारा लगाई गई एक विशेष प्रदर्शनी का अवलोकन करने भी पहुंचे।

ट्रेंडिंग वीडियो