scriptचार जिलों की 115 एकल महिला नेत्रियों ने साझा की समस्याएं | Patrika News
अजमेर

चार जिलों की 115 एकल महिला नेत्रियों ने साझा की समस्याएं

पंचायत स्तरीय एकल महिलाओं का दो दिवसीय क्षमता वृद्धि प्रशिक्षण शिविर

अजमेरJun 13, 2024 / 02:56 am

dinesh sharma

Pushkar

पुष्कर में पंचायत स्तरीय एकल महिलाओं के क्षमता वृ​दि्ध प्रशिक्षण ​शिविर में समस्याओं पर चर्चा करतीं एकल महिलाएं।

पुष्कर. माहेश्वरी सेवा सदन में राजसमंद जन विकास संस्थान के तत्वावधान में पंचायत स्तरीय एकल महिलाओं का दो दिवसीय क्षमता वृद्धि प्रशिक्षण शिविर बुधवार से शुरू हुआ। शिविर में चार जिलों की 11 तहसीलों की 115 एकल महिला लीडर्स हिस्सा ले रही हैं। राज्य समन्वयक चंद्रकला शर्मा ने बताया कि शिविर में प्रशिक्षण का मुख्य उद्देश्य पंचायत स्तर पर एकल महिलाओं को संगठित कर समस्या समाधान करना, संगठन का महत्व समझाना तथा बाल विवाह रोकने के प्रयास करना है।
अजमेर जिले की मोहिनी देवी ने एकल महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए सामूहिक प्रयास पर जोर दिया। राजसमंद की शकुंतला पामेचा ने बाल विवाह के दुष्प्रभाव और रोकथाम की जानकारी दी।

समस्याओं पर चर्चा

अलग-अलग समूह गठित कर एकल महिलाओं की समस्याओं पर चर्चा के दौरान महिलाओं को नरेगा में काम नहीं मिलने, आवास, ग्रामीण क्षेत्र में राशन नहीं देने, पालनहार का पैसा समय पर नहीं मिलने तथा पानी की समस्याएं सामने आई। अंतर्राष्ट्रीय विधवा महिला दिवस के उपलक्ष्य में 15 से 23 जून तक सात दिवसीय एकल महिला सशक्तिकरण दिवस मनाने का निर्णय किया।

संगठन ने दिलाई जमीन

मैना बाई ने बताया कि मेरे पीहर भी नहीं। मेरे भाइयों ने पिताजी की पूरी 15 बीघा जमीन ले ली है। मेरे काफी

हाइवे जाम से बनी बात

सुशीला बाई निवासी दौराई ने नरेगा में काम और पूरी मजदूरी के लिए सामूहिक रूप से हाईवे जाम करने पर मांग पूरी होना बताया।

Hindi News/ Ajmer / चार जिलों की 115 एकल महिला नेत्रियों ने साझा की समस्याएं

ट्रेंडिंग वीडियो