Ajmer: colleges में चहल-पहल, पहले दिन किसी के साथ आए बड़े भैया, किसी के साथ पेरेन्टस

कैंटीन-थडिय़ां भी आबाद हो गई

By: Amit

Published: 01 Jul 2019, 03:43 PM IST

अजमेर.

सरकारी और निजी कॉलेज में सोमवार से चहल-पहल हो गई। सालाना परीक्षा और गर्मियों की छुट्टियों के बाद सत्र 2019-20 की शुरुआत हुई। प्रथम वर्ष के विद्यार्थियों की नियमित कक्षाएं लगना प्रारंभ हो गई। उधर विद्यार्थी प्रथम वर्ष की रिक्त सीटों पर भी आवेदन में व्यस्त रहे। यह प्रक्रिया 4 जुलाई तक चलेगी।
सम्राट पृथ्वीराज चौहान राजकीय महाविद्यालय, सोफिया और राजकीय कन्या महाविद्यालय, दयानंद कॉलेज, श्रमजीवी कॉलेज सोमवार को खुल गए। कॉलेज में प्रथम वर्ष कला, वाणिज्य और विज्ञान संकाय के छात्र-छात्राएं कक्षाएं में पहुंचे। हालांकि पहला दिन होने से विद्यार्थियों की कक्षाओं में उपस्थिति ज्यादा नहीं दिखी।

आबाद हुई कैंटीन-थडिय़ां

कॉलेज खुलते ही कैंटीन-थडिय़ां भी आबाद हो गई। सूने कैंटीन में लम्बे अर्से बाद छात्र-छात्राएं गपशप करते दिखे। यहां नौजवान कक्षाओं में पढ़ाई के साथ-साथ अगस्त में होने वाले छात्रसंघ चुनाव की योजनाएं बनाने में जुटेंगे। सोमवार को कॉलेज खुलते ही छात्र संगठनों के पदादिकारी भी नए विद्यार्थियों से मुलाकात करते दिखे।

नए सत्र की शुरुआत

निदेशालय के कार्यक्रम के अनुसार सत्र 2019-20 की शुरुआत हो गई। सोफिया कॉलेज में पहले दिन अभिभावकों-शिक्षकों की बैठक हुई। उधर सरकारी कॉलेज में चार जुलाई तक रिक्त सीट के लिए आवेदन प्रक्रिया चलेगी। इनमें बीए, बी.कॉम, बीएससी के पास और ऑनर्स कोर्स शामिल हैं। इसी तरह स्नातकोत्तर पूर्वाद्र्ध कक्षाओं के ऑनलाइन आवेदन 3 जुलाई से भरे जाएंगे। विद्यार्थी 17 जुलाई तक फार्म भर सकेंगे।

विश्वविद्यालय में भी रौनक
महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय में भी रौनक बढ़ गई। हालांकि यहां सेमेस्टर प्रणाली और परीक्षाओं के चलते विद्यार्थियों की आवाजाही बनी रहती है। यहां स्नातकोत्तर पूर्वाद्र्ध की प्रवेश प्रक्रिया अब तक शुरू नहीं हो पाई है। विश्वविद्यालय ने 8 जुलाई से आवेदन लेने की योजना बनाई है, पर इसकी अधिसूचना जारी नहीं हुई है। कुलपति के कामकाज पर लगी रोक से प्रवेश में विलंब हो रहा है।

Show More
Amit Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned