ग्लैमरस जिंदगी जीता था आनंदपाल, ऐसे आया था अपराध की दुनिया में

ग्लैमरस जिंदगी जीता था आनंदपाल, ऐसे आया था अपराध की दुनिया में

Amit Kakra | Updated: 24 Jun 2019, 02:29:54 PM (IST) Ajmer, Ajmer, Rajasthan, India

लुक्स को लेकर रहता था सतर्क, आज ही के दिन हुआ था एनकाउन्टर

अजमेर.

राजस्थान में अपराध की दुनिया का बेताज बादशाह रहा गैग्सटर आनंदपाल ग्लैमरस जिंदगी जीता था। आनंदपाल पढ़ा लिखा था और लोगों को अपनेआप पर लगे आरोपों का खुलकर जवाब भी देता था।
आनंदपाल गैल्मरस जिंदगी जीता था। अपने लुक को लेकर काफी सतर्क रहता है। उसे देखकर उसके आपराधिक रिकार्ड का कोई अंदाजा भी नहीं लगा सकता है। वह सिर पर हैट और आंखों पर चश्मा रहता था और चमकदार कोट पहनने का आदी था। दबंगई से रहने वाला गैंगस्टर आनंदपाल फर्राटेदार अंग्रेजी भी बोलता था। कई लोगों के सामने उसकी छवि रॉबिनहुड जैसी थी। सोशल मीडिया पर भी उसके काफी फॉलोअर्स थे।
दिग्गज कांग्रेस नेता के बेटे से हारा था चुनाव
आनंदपाल ने बीएड कर रखा था। वह शिक्षक बनना चाहता था। बाद में उसे सीमेंट का व्यापार शुरू किया। आनंदपाल ने लाडनूं क्षेत्र के कांग्रेस के कद्दावर नेता और पूर्व केबिनेट मंत्री हरजीराम बुरडक़ के बेटे के सामने चुनाव लड़ा था। उसे काफी वोट भी मिले। लेकिन वह 2 वोटों से हार गया था। बाद में 2006 में अपराध की दुनिया में आ गया।

ऐसे गैंग्सटर बना था आनंदपाल
गैग्सटर राजू ठेहट की 2005 में ठेके पर बैठने वाले एक सेल्‍समैन विजयपाल से कहासुनी हो गई। राजू ने अपने साथियों के साथ मिलकर विजयपाल की हत्या कर दी। विजयपाल रिश्ते में बलबीर का ***** लगता था। उसकी हत्‍या के बाद बलबीर और राजू की दोस्‍ती, दुश्‍मनी में बदल गई। बलबीर ने राजू का साथ छोडक़र अपना अलग गैंग बना लिया। इसी गैंग में 2006 में आनंदपाल सिंह शामिल हुआ और उसके बाद इस गैंग का दबदबा बढ़ता चला गया। दोनो गैंग्स में दुश्मनी चरम पर रहती थी।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned