Love Mary's- प्रेम विवाह के बाद विवाहिता को जबरन उठा ले गए भाई व जीजा

Love Mary's- प्रेम विवाह के बाद विवाहिता को जबरन उठा ले गए भाई व जीजा
Love Mary's- प्रेम विवाह के बाद विवाहिता को जबरन उठा ले गए भाई व जीजा

Manish Singh | Updated: 19 Sep 2019, 04:30:00 AM (IST) Ajmer, Ajmer, Rajasthan, India

प्रेम विवाह के बाद पति के साथ ससुराल में रह रही विवाहिता को उसके पीहर पक्ष के लोग बुधवार रात जबरन उठा ले गए। युवती पन्द्रह दिन पहले प्रेम विवाह के बाद पति के साथ रहने आई थी।

अजमेर.

प्रेम विवाह के बाद पति के साथ ससुराल में रह रही विवाहिता को उसके पीहर पक्ष के लोग बुधवार रात जबरन उठा ले गए। युवती पन्द्रह दिन पहले प्रेम विवाह के बाद पति के साथ रहने आई थी। बुधवार शाम उससे मिलने आए भाई और जीजा जबरन उठा ले गए। मामले में प्रेमी युवक ने पत्नी के अपहरण का मुकदमा दर्ज करवाया है। पुलिस ने शिकायत पर नाकाबंदी कर तलाश शुरू कर दी है।
गुलाबबाड़ी क्षेत्र में रहने वाले एक युवक ने चित्तौडग़ढ़ क्षेत्र में रहने वाली युवती से पांच माह पहले आर्य समाज रीति रिवाज से प्रेम विवाह कर लिया। प्रेम विवाह के पांच माह बाद युवती करीब १५ दिन पहले युवक के साथ परिजन को बताए बिना गुलाबबाड़ी आ गई। करीब एक सप्ताह पहले उसके परिजन उसको तलाश करते हुए गुलाबबाड़ी पहुंच गए। वे बेटी से मिलकर वापस लौट गए लेकिन बुधवार रात सफेद रंग की वैन में आए करीब आधा दर्जन युवक विवाहिता को जबरन उठा ले गए। युवक ने बताया कि उसकी पत्नी को अगवा करने वालों में उसका भाई, जीजा व अन्य रिश्तेदार शामिल है। पुलिस ने शिकायत पर चित्तौडग़ढ़ पुलिस को इत्तला देते हुए नाकाबंदी करवा दी। पुलिस मामले की पड़ताल में जुटी है।

युवक ने शिकायत दी है
युवक ने पत्नी के अपहरण की शिकायत दी है। दोनों ने मई २०१९ में प्रेम विवाह कर लिया था लेकिन युवती कुछ दिन पहले ही उसके साथ रहने आई थी। युवती के पीहर पक्ष पर आरोप लगे है। मामले में चित्तौडग़ढ़ के संबंधित थाना पुलिस को इत्तला दी है।

मुकेश चौधरी, थानाप्रभारी अलवर गेट

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned