कभी झमाझम तो कभी भिगोया फुहारों ने, मौसम खुशगवार

-सुबह से भिगोती रही घटाएं, सडक़ों पर जगह-जगह भरा पानी

 

By: Amit

Updated: 07 Jul 2019, 05:54 PM IST

अजमेर.

रविवार को सुबह से बरसात की झड़ी लगी रही। शहर में कभी झमाझम तो कभी फुहारों ने भिगोया। बारिश से कई जगह सडक़ों पर पानी भर गया। घनघोर बादलों के चलते मौसम खुशगवार रहा। उधर लगातार पानी की आवक के चलते आनासागर के दो चैनल गेट खोलने पड़े। एस्केप चैनल के चलते लगातार पानी की निकासी जारी है। मौसम विभाग ने श्चौबीस घंटे तक 25.4 डिग्री बरसात दर्ज की।
सुबह करीब 5.45 बजे से घटाओं की टपका-टपकी शुरू हो गई। शहर के वैशाली नगर, माकड़वाली रोड, पुष्कर रोड, कोटड़ा, पंचशील, फायसागर क्षेत्र, आनंद नगर, बजरंगढ़ चौराहा, आगरा गेट इलाके में सुबह 9 बजे तक कभी झमाझम तो कभी फुहारों का दौर चला।

Read More- Rain In Pushkar : गुरु पुष्य नक्षत्र की बरसात ने बदली तीर्थराज पुष्कर की फिजा

सडक़ों पर भरा पानी

जयपुर रोड, आनासागर लिंक रोड, सावित्री चौराहा, राजा साइकिल-मेयो कॉलेज, रोडवेज बस स्टैंड, रानाडे मार्ग, शास्त्री नगर, पंचशील, केसरगंज, रामगंज, मदन गोपाल मार्ग और क्षेत्रों में सडक़ों पर पानी भर गया। गंज सर्किल अैार सुभाष उद्यान के सामने भी पानी उफनता रहा। टोडरमल मार्ग, मेडिकल कॉलेज, बजरंगगढ़ चौराहा, आनासागर लिंक रोड पर भी पानी भर गया। सीआरपीएफ ओवरब्रिज पर सीआरपीएफ जाने वाले मार्ग, जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के सामने भी पानी भर गया।

Read More- CBSE: 9वीं और 11वीं के विद्यार्थियों के पंजीयन जल्द

नालों में पानी का तेज बहाव
लोहागल-शास्त्री नगर, धौलाभाटा पहाडिय़ों, काजी का नाला, आंतेड़ का नाला, जवाहर नाडी और अन्य नालों और नालियों में पानी का बहाव तेज रहा। घरों से बहता पानी सडक़ों और नालियों से होकर कई जगह खाली प्लॉट और गड्ढों में भर गया। बरसात बंद होने के बाद भी आनासागर झील में पानी की आवक जारी रही।

मौसम हुआ खुशनुमा

मौसम अरावली की पहाडिय़ों पर काले बादल तैरते रहे। बरसात के कारण मौसम में हल्की ठंडक भी रही। लोगों को कई दिनों बाद उमस और गर्मी से राहत मिली। रविवार छुट्टी होने से कई लोग फायसागर, पुष्कर, आनासार चौपाटी, महाराणा प्रताप स्मारक, बैजनाथ और अन्य पिकनिक स्थलों पर लोगों की भीड़ रही।

जलानी पड़ी लाइटें
घनघोर बादलों के ताबड़तोड़ बरसने से सडक़ों पर एकबारगी कुछ नजर नहीं आया। दोपहिया, तिपहिया और चौपहिया वाहन चालकों को लाइट जलानी पड़ी। कई जगह पानी भरने से वाहन चालकों और राहगीरों को पेड़ों और दुकानों के नीचे रुकना पड़ा।

नीचे लुढक़ा पारा

तेज धूप और गर्मी के चलते तापमान 36.3 डिग्री पर पहुंच गया। इसके बाद लगातार बरसात और मौसम में ठंडक से पारे पर असर पड़ा है। अधिकतम तापमान 29.4 डिग्री रहा। इसमें तीन दिन में 6.9 डिग्री की गिरावट आ चुकी है।

Amit Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned