वैशालीनगर स्कूल में द्वितीय पारी में हिन्दी मीडियम शुरू कराएं, बच्चों का भविष्य खतरे में

-विधायक देवनानी ने शिक्षा राज्यमंत्री डोटासरा से मिलकर किया आग्रह

-महात्मा गांधी स्कूल अंग्रेजी मीडियम के चलते बच्चों को कटवानी पड़ रही टीसी

-पत्रिका ने उठाया था टीकमचंद/वैशालीनगर स्कूल के अस्तित्व

खतरे का मामला

By: CP

Published: 11 Jul 2019, 02:51 PM IST

 

 

अजमेर. पूर्व शिक्षा राज्यमंत्री व विधायक अजमेर उत्तर वासुदेव देवनानी ने प्रदेश के शिक्षा राज्यमंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा से मुलाकात कर आग्रह किया है कि राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय वैशालीनगर अजमेर को उसके स्वयं के भवन में ही द्वितीय पारी में संचालित किए जाने के आदेश जारी कराए जाएं। ताकि बच्चों को भविष्य संकट में नहीं हो। देवनानी ने शिक्षा राज्य मंत्री डोटासरा को बताया कि राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय वैशाली नगर अजमेर जो कि पूर्व में टीकमचंद विद्यालय के नाम से जाना जाता था, जो कि शहर के प्रमुख राजकीय विद्यालयों में से एक है जिसमें अध्ययन कर कई प्रतिभावान विद्यार्थियों ने शहर का नाम रोशन किया है।
राज्य सरकार की ओर से इसी सत्र से इस विद्यालय के स्थान पर अंग्रेजी माध्यम का नया राजकीय महात्मा गांधी विद्यालय प्रारम्भ किया गया है जिससे वैशालीनगर विद्यालय में पूर्व से अध्ययनरत कक्षा 1 से 8 तक के विद्यार्थियों के सामने संकट उत्पन्न हो गया है। उन्होंने कहा कि शहर के प्रतिष्ठित राजकीय विद्यालय वैशालीनगर के अस्तित्व को बचाने तथा यहां अध्ययनरत कक्षा 1 से 12 तक के बालक-बालिकाओं के भविष्य को ध्यान में रखते हुए इस विद्यालय का संचालन इसी स्थान पर इसके स्वयं के भवन में द्वितीय पारी में कराए जाने के आदेश जारी कराए। शिक्षा राज्य मंत्री डोटासरा ने देवनानी को इस संबंध में शीघ्र सकारात्मक कार्यवाही कराने का आश्वासन दिया है।

CP Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned