रेलकर्मी ने की थी युवती की हत्या, पुलिस ने किया गिरफ्तार

खुलासा : चैटिंग में फंसकर मिलने आई थी युवती

रेलवे कॉलोनी में ब्यावर निवासी थी युवती

अजमेर/सवाईमाधोपुर.

रेलवे कॉलोनी में चार दिन पहले ब्यावर निवासी युवती की हत्या का पुलिस ने शुक्रवार को खुलासा कर दिया। पढ़ाना हाल ब्रह्मपुरी रेलवे कॉलोनी निवासी आरोपी धर्मेन्द्र शर्मा (30) को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपी सवाईमाधोपुर में रेलवे में ग्रुप डी में प्वाइंटमैन है। युवती फेसबुक चैटिंग में फंसकर देवली टोंक निवासी फेसबुक फ्रेंड से मिलने यहां पहुंची थी, लेकिन वह आया नहीं और रेलकर्मी उसे मिल गया।

बुजुर्ग करता था चैटिंग-

पुलिस ने बताया कि फेसबुक फ्रेंड 54 वर्षीय था। वह युवक बनकर चैटिंग कर रहा था। जब उसे पता चला कि युवती उससे मिलने आ रही है तो वह घबरा गया। उसने अपना मोबाइल बंद कर लिया। युवती सवाईमाधोपुर स्टेशन पर उतरी तो उसे अकेले पाकर आरोपी धर्मेन्द्र ने मदद का भरोसा दिया। वह युवती के साथ अपने क्वार्टर में गलत काम करना चाहता था। कामयाब नहीं होने पर उसने मफलर से गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। जांच के दौरान पुलिस को आरोपी सीसीटीवी फुटेज में युवती के साथ जाता नजर आया था।


यूं पहुंची सवाई माधोपुर -

पुलिस अधीक्षक सुधीर चौधरी ने बताया कि युवती 2 जनवरी को अजमेर स्थित नर्सिंग हॉस्टल से निकली। वह 4 जनवरी रात्रि 8.30 बजे सवाईमाधोपुर रेलवे स्टेशन पहुंची। देवली निवासी अब्दुल हक अब्बासी (54) सवाईमाधोपुर निवासी फिरोज खान के नाम से फर्जी आईडी बनाकर युवती से चैटिंग करता था। वह उससे मिलने के लिए निकली। 3 जनवरी को बातचीत के दौरान उसने युवती से मिलने से इन्कार कर दिया, लेकिन युवती अजमेर से उदयपुर, चित्तौडगढ़़, कोटा होते हुए 4 जनवरी को सवाईमाधोपुर पहुंच गई। चैटिंग करने वाले आरोपी की मोबाइल कॉल डिटेल देवली आई। वह सवाईमाधोपुर नहीं आया। युवती के पास खुद का मोबाइल नहीं था। ऐसे में उसने रास्ते में यात्रियों के मोबाइल से अब्दुल हक से बात की थी।

Show More
KR Mundiyar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned