अजमेर जिले में मादक पदार्थ तस्करों पर पुलिस की नजर

स्पेशल टीम, एसओजी और एसटीएस ने समन्वय से शुरू किया काम

अजमेर. शहर में मादक पदार्थों की खरीद-फरोख्त पर पुलिस की कड़ी नजर है। जिला पुलिस की स्पेशल टीम ने एसओजी-एटीएस और थानों के समन्वयन में कामकाज शुरू कर दिया है।

Read more- मुंबई से फरार आतंकी आतंकी डॉ. बम कानपुर में गिरफ्तार https://www.patrika.com/ajmer-news/terrorist-absconding-from-mumbai-arrested-from-doctor-bomb-kanpur-5659203/

एटीएस जयपुर की टीम ने बीते साल 20 दिसंबर को लोहाखान इलाके में बड़ी कार्रवाई अंजाम दी। टीम ने छापा मारकर चार किलो एमडी ड्रग का जखीरा पकड़ा था। अजमेर में मादक पदार्थों की खेप पहुंचने की सूचना लगातार एटीएस के पास पहुंच रही थी। यहां गोरू खान के ठिकानों पर छानबीन की। इस दौरान 4 किलो से ज्यादा एमडी ड्रग पकड़ा था। इसके अलावा बांदनवाड़ा के निकट गोवलिया और सराधना में अफीम-डोडा चूरी की खेप पकड़ी थी। पुष्कर में कैटामाइन इंजेक्शन पकड़ा गया था।
मादक पदार्थ रोकथाम पर नजर
पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप ने बताया कि मादक पदार्थ रोकथाम पुलिस की प्राथमिकता है। जिले में पुष्कर, सराधना, गोवलिया में मादक पदार्थों की खेप पकड़ी गई है। जिले की स्पेशल टीम एसओजी-एटीएस और थानों के समन्वयन में कामकाज कर रही है। संगठित अपराध और माफियाओं की नकेल कसने के अलावा जेल से नेटवर्क चलाने वाले अपराधियों पर नजर रखी जा रही है।

baljeet singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned