Residents Doctors Strike_ रेजीडेंट चिकित्सकों की हड़ताल-ओपीडी, आईपीडी (मरीज भर्ती) एवं ऑपरेशन भी घटे

Chandra Prakash Joshi

Updated: 04 Dec 2019, 11:52:19 PM (IST)

Ajmer, Ajmer, Rajasthan, India

अजमेर. रेजीडेंट चिकित्सकों की हड़ताल (कार्य बहिष्कार) बुधवार को दूसरे दिन भी जारी रहीं। सुबह जवाहर लाल नेहरू अस्पताल की आपातकालीन इकाई के सामने रेजीडेंट चिकित्सकों ने प्रदर्शन किया। रेजीडेंट चिकित्सकों की हड़ताल के चलते मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। करीब 290 रेजीडेंट कार्य बहिष्कार पर है। जेएलएन मेडिकल कॉलेज में रेजीडेंट चिकित्सकों की हड़ताल के चलते ओपीडी, आईपीडी (मरीज भर्ती) एवं ऑपरेशन भी घटे हैं।

जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के रेजीडेंट चिकित्सकों की एसोसिएशन ने राज्यव्यापी रेजीडेंट हड़ताल का समर्थन कर कार्य बहिष्कार कर दिया है। दूसरे दिन भी हड़ताल जारी रहने से ओपीडी में भी मरीजों की लम्बी कतारें रहीं। खास बात यह है कि रेजीडेंट हड़ताल के चलते वार्डों में मरीज नर्सिंगकर्मियों के भरोसे हैं। हालांकि अस्पताल प्रशासन की ओर से सीनियक डॉक्टर व सीनियर रेजीडेंट की ड्यूटी लगाई गई है। हड़ताल के चलते मरीजों की भी भर्ती करने में चिकित्सक सावधानी बरत रहे हैं। वार्डों से भी कई मरीज डिस्चार्ज होने लगे हैं।

Read More : आईसीयू में मासूमों का बढ़ा दर्द

जेएलएन मेडिकल कॉलेज में रेजीडेंट चिकित्सकों की हड़ताल के चलते ओपीडी, आईपीडी (मरीज भर्ती) एवं ऑपरेशन भी घटे हैं।

ओपीडी- 3250
आईपीडी -45

मेजर ऑपरेशन-50
माइनर ऑपरेशन-10

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned