एएमयू में “श्री अटल बिहारी वाजपेयी अनुसंधान चेयर’ के गठन को लेकर उठी मांग, पढ़िये पूरी खबर

एएमयू में “श्री अटल बिहारी वाजपेयी अनुसंधान चेयर’ के गठन को लेकर उठी मांग, पढ़िये पूरी खबर

Dhirendra yadav | Publish: Aug, 23 2018 06:25:30 PM (IST) Aligarh, Uttar Pradesh, India

एएमयू के पूर्व मीडिया सलाहकार ने अटल चेयर बनने पर दो लाख अनुसंधान के लिए छात्रों को दान देने की भी घोषणा की है।

आगरा। भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन 16 अगस्त 2018 को दिल्ली में हो गया। पूरा भारत वर्ष उनके महान व्यक्तित्व को नमन कर रहा है। उनकी महानता और सबको साथ लेकर चलने का नेतृत्व को देश का सभी वर्ग सम्मान से देखता रहा है। इसी को लेकर अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में श्री अटल बिहारी वाजपेयी अनुसंधान चेयर के गठन की मांग उठाई गई है। एएमयू के पूर्व मीडिया सलाहकार ने अटल चेयर बनने पर दो लाख अनुसंधान के लिए छात्रों को दान देने की भी घोषणा की है।

एएमयू के कुलपित के नाम लिखा ये पत्र
अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के पूर्व मीडिया सलाहकार डॉक्टर जसीम मोहम्मद ने बताया कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कुलपति द्वारा भी अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया गया। आपके द्वारा पूर्व प्रधानमंत्री को एक महान वक्ता, सर्वप्रिय कवि, सच्चे देश भक्त और कुशल राजनीतिज्ञ थे कहा गया और उनके लिए आपने कहा कि, श्री वाजपेयी जी की समाज के हर वर्ग के लोगों में उनके प्रति अगाध स्नेह था। आपके द्वारा कहा कहा गया कि श्री वाजपेयी जी के निधन से जो शून्य पैदा हुआ है उसकी भरपाई बहुत मुश्किल है। इसलिए भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की याद को संजोते हुए डॉक्टर जसीम मोहम्मद ने ने कुलपति के समक्ष ये प्रस्ताव रखा है।

1- भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी एक ऐसे महान पुरुष थे, जिन्होंने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के अल्पसंख़यक स्वरूप के पक्षधर थे।
2- अटल बिहारी वाजपेयी के जीवन पर आज की युग में अनुसंधान करने की आवश्यकता है।
3- जिस प्रकार देश के विभिन्न विश्वविद्यालय में डॉ. अम्बेडकर चेयर, नेहरु चेयर की स्थापना की गई है और उनपे शोध किया जा रहा है। आज जिसे देश के सभी धर्मों के युवा, बच्चा और बुज़ुर्ग उनका सम्मान कर रहे हैं और अब उनपे शोध करने की आवश्यकता है।
4- अटल बिहारी वाजपेयी जी का अनुशरण देश के सभी विद्वान करते हैं और उनके कविता, उनके जीवन और उनके कार्यशैली पर शोध करने की आवश्यकता है।

ये की गई मांग
डॉक्टर जसीम मोहम्मद ने ने कहा है कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय का दानदाता, पूर्व छात्र एवं पूर्व मीडिया सलाहकार होने के नाते आपसे एएमयू में ‘श्री अटल बिहारी वाजपेयी अनुसंधान चेयर’ का गठन की मांग करता हूं। आपके द्वारा अटल बिहारी वाजपेयी अनुसंधान चेयर गठन के पश्चात वे उक्त चेयर या अनुसंधान केंद्र को दो लाख रूपया उसमें शोध कर रहे छात्र- छात्रों को अनुसंधान कार्य हेतु छात्रवित्ति प्रदान करेंगे।

Ad Block is Banned