script महंत राजूदास ने किया कंडक्‍टर हरिकेश की मौत का दावा, पुलिस ने बताया जिंदा, जानिए क्या है पूरा सच! | Injured conductor Harikesh Vishwakarma dies during treatment prayagraj | Patrika News

महंत राजूदास ने किया कंडक्‍टर हरिकेश की मौत का दावा, पुलिस ने बताया जिंदा, जानिए क्या है पूरा सच!

locationप्रयागराजPublished: Nov 25, 2023 06:01:49 pm

Submitted by:

Aniket Gupta

Prayagraj news: प्रयागराज में एक बड़ी घटना सामने आई है। यहां एक युवक ने इस्लाम के अपमान करने पर सिटी ई-बस के कंडक्टर के गर्दन पर चापड़ से हमला कर दिया। अब कंडक्टर हरिकेश विश्वकर्मा को लेकर दो दावे किए जा रहे हैं।

conductor_harikesh_vishwakarma_.jpg
Prayagraj News: फाफामऊ से रेमंड करछना जाने वाली इलेक्ट्रॉनिक बस में मौजूद इंजीनियरिंग का छात्र लारेब हाशमी निवासी सोरांव ने कॉलेज के सामने किसी बात को लेकर कंडक्टर हरिकेश विश्वकर्मा निवासी सरायममरेज और चालक पर अचानक चापड़ से बस में ही हमला कर दिया। अब इस मामले में हनुमानगढ़ी अयोध्या के महंत राजू दास ने कंडक्टर की मौत का दावा किया है। इस दावे को लेकर प्रयागराज पुलिस कमिश्नरेट ने नोटिस जारी करते हुए इसे गलत बताया है
क्या है पूरा मामला?
कल घटना के बाद औद्योगिक क्षेत्र थाना प्रभारी सुभाष सिंह ने बताया कि सिटी बस में कंडक्टर और चालक पर हमले की सूचना के तत्काल बाद मौके पर पुलिस पहुंची और घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया। साथ ही आरोपी छात्र को हिरासत में ले लिया। कंडक्टर की गर्दन और हाथ में गंभीर चोटे आई हैं। वहीं मामले की जानकारी होते ही सिटी बस के अन्य चालक और कंडक्टर हड़ताल पर चले गए साथ ही खूब नारेबाजी की।
किराये को लेकर पहले भी हो चुका था विवाद
पुलिस का कहना है कि पूर्व भी छात्र व कंडक्टर के बीच किराए को लेकर विवाद हुआ था। यही कारण है कि उसने बैग में चापड रखा था और शुक्रवार को हुए विवाद के बाद चालक और परिचालक पर हमला कर दिया।
पुलिस ने आरोपी को मारी गोली
प्रयागराज के औधोगिक थाना क्षेत्र चांडी गांव के समीप बंदरगाह के निकट पुलिस मुठभेड़ में भागने की कोशिश करने वाले अपराधी छात्र लारेब हाशमी को पुलिस ने गोली मार दी, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। शुक्रवार की सुबह ही आरोपी छात्र ने बस कंडक्टर व चालक पर चापड़ से हमला कर दिया था। पुलिस द्वारा निशानदेही पर हथियार बरामद करने ले जाया गया था। वहीं पर उसने पिस्टल छुपा रखा था। छात्र ने इस पिस्टल से पुलिस पर हमला कर दिया। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने उसे गोली मार दी।
msg5960542447-57876.jpgदावे को लेकर पुलिस ने जारी किया नोटिस
प्रयागराज पुलिस कमिश्नरेट ने नोटिस जारी करते हुए इस दावे का खंडन किया। जारी नोटिस में पुलिस ने लिखा, सोशल मीडिया पर उक्त बस कंडक्टर की मृत्यु की ख़बरें चल रही हैं, जो गलत है। उक्त कंडक्टर का इलाज SRN अस्पताल में चल रहा है।

ट्रेंडिंग वीडियो