मूसलाधार बारिश के कारण लटका स्कूलों पर ताला

घर में पानी घुसने से सैंकड़ो परिवार हुए परेशान, पानी से भरी टूटी सड़कों पर गिरते रहे लोग

इलाहाबाद. मूसलाधार बारिश होने के कारण शुक्रवार को सैंकड़ो परिवार परेशान नजर आए। कई स्कूलों की कक्षाएं बीच में ही बंद कर छुट्टी कर दी गई। सर्वाधिक प्रभावित क्षेत्र संगम व आसपास के क्षेत्र हुए। जहां झोपड़ी बना कर बसे लोग सूखे जगह की तलाश में भटकते रहे।


शुक्रवार को सुबह पांच बजे से ही बूंदाबांदी शुरू हो गई। सुबह करीब आठ बजे से तेजी बारिश होते ही शहर में काफी परिवार की सांसे रूक गई। लगातार तीन घंटे तक मुसलाधार बारिश होने से शहर के सैंकड़ो घरों में लबालब पानी भर गया। सर्वाधिक प्रभावित क्षेत्रों में अल्लापुर, दारागंज, बैरहना, राजरूपपुर, कालिंदीपुरम, चकिया, अटाला, लूकरगंज, धूमनगंज, झूंसी, बक्शी बांध सहित आसपास क्षेत्रों में नालियों का पानी सड़क पर व सड़क का गंदा पानी लोगों के घरों में घुस गया। पानी भरते ही लोग घर का सामान अपने घर की छतों पर रखने लगे। कई परिवार तो अपना सामान समेट खाली जगह की तलाश में निकल पड़े। 



गरीब तबके के लोगोें की झुग्गियों पानी में डूब गई। इन लोग सामान ट्राॅली पर लेकर सूखे जगह पर अपना बसेरा बनाना शुरू किया। बारिश के कारण संगम भी पूरी उफान पर है। पानी के लगातार बढ़ने से संगम व आसपास रहने वाले सैंकड़ों लोगों का जनजीवन अस्तव्यथ हो गया। जलमग्न वाली जगहों पर सड़कों के गड्ढे नजर नहीं आ रहे थे। इसके कारण कई जगह तो लोग पानी में गिरते तक नजर आए। चकिया में बिहारी लाल इंटर काॅलेज व आसपास की कालोनियों में पानी घर कें अंदर घुस गया। स्कूल के बगल से गुजर रहे काफी लोग बाइक सहित गिरते नजर आए। कुछ ऐसी ही स्थिति शहर में कई जगहोें पर देखने को मिली।

कक्षाएं बंद, हुई छुट्टी
दारागंज के बख्शी बांध क्षेत्र स्थित एमएल काॅन्वेंट स्कूल में बारिश का पानी घुसते ही अफरताफरी मच गई। स्कूल में लगातार बढ़ रहे पानी से स्कूल प्रंबधन की भी हालत खराब हो गई। आनन फानन में स्कूल की छुट्टी आसपास के लोगों की मदद से नन्हें छात्रों को स्कूल से बाहर निकाला गया। राजरूपपुर स्थित सेंट क्रिस्टोफस स्कूल में भी पानी भरने से बच्चों की छुट्टी कर दी गई।

Show More
अखिलेश त्रिपाठी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned