America: बिडेन सरकार में बढ़ रहा भारतीयों का दबदबा, तीन और अहम पदों पर नियुक्त हुए भारतीय-अमरीकी

HIGHLIGHTS

  • बिडेन प्रशासन ने तीन महत्वपूर्ण पदों पर भारतवंशियों की नियुक्ति की है। इसमें पहला नाम सोनाली निझावन का है, जिन्हें बिडेन सरकार में सामुदायिक स्तर पर काम करने वाले सरकारी संगठन अमेरीकॉ‌र्प्स का निदेशक बनाया गया है।
  • दूसरा नाम प्रेस्टन कुलकर्णी का है, जिन्हें विदेशी मामलों का प्रमुख बनाया गया है। इसके अलावा तीसरा नाम रोहित चोपड़ा का है, जिन्हें कन्जूमर फाइनेंशियल प्रोटेक्शन ब्यूरो के प्रमुख पद के लिए नामित किया गया है।

By: Anil Kumar

Updated: 14 Feb 2021, 03:49 PM IST

वाशिंगटन। अमरीका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बिडेन अपने प्रशासन में भारतवंशियों पर पूरा विश्वास जता रहे हैं। यही कारण है कि बिडेन सरकार में लगातार भारतीयों का दबदबा बढ़ता जा रहा है। पहले से ही भारी संख्या में बिडेन सरकार में भारतीय शामिल हैं और अब तीन और भारतीयों को अहम जिम्मेदारी सौंपी गई है।

बिडेन प्रशासन ने तीन महत्वपूर्ण पदों पर भारतवंशियों की नियुक्ति की है। इसमें पहला नाम सोनाली निझावन का है, जिन्हें बिडेन सरकार में सामुदायिक स्तर पर काम करने वाले सरकारी संगठन अमेरीकॉ‌र्प्स का निदेशक बनाया गया है। दूसरा नाम प्रेस्टन कुलकर्णी का है, जिन्हें विदेशी मामलों का प्रमुख बनाया गया है। इसके अलावा तीसरा नाम रोहित चोपड़ा का है, जिन्हें कन्जूमर फाइनेंशियल प्रोटेक्शन ब्यूरो के प्रमुख पद के लिए नामित किया गया है।

अमरीका ने चीन को एक बार फिर लगाई लताड़, आक्रामक नीतियों पर जताई चिंता

अमेरीका‌र्प्स ने बयान जारी करते हे बताया है कि निझावन और कुलकर्णी बिडेन प्रशासन की योजनाओं को मूर्त रूप देने में सहयोग करेंगे। कोरोना महामारी, आर्थिक व्यवस्था को अच्छी स्थिति में लाना, नस्ली समानता और जलवायु परिवर्तन जैसे मुद्दों पर बेहतरी के साथ काम करने के लिए इनकी सेवाएं ली जाएंगी।

सीनेट की मंजूरी के बाद लगेगी मुहर

बता दें की तीनों को अपने-अपने कार्यक्षेत्र में काफी लंबा अनुभव है। प्रेस्टन कुलकर्णी सामाजिक रूप से सक्रिय रहते हैं। वे दो बार सांसद का चुनाव भी लड़ चुके हैं। कुलकर्णी को सामाजिक जीवन का लंबा अनुभव है और 14 साल विदेशी सेवा में अफसर रहे हैं। इन्हें अंतरराष्ट्रीय मामलों पर अच्छा ज्ञान है।

सोनाली निझावन की बात करें तो इन्हें सामुदायिक स्तर पर काम करने का लंबा अनुभव है। सोनाली ने छह साल स्टोकटन सर्विस कॉ‌र्प्स में कार्यकारी निदेशक के रूप में काम किया है। शिक्षा के क्षेत्र में भी इनकी बेहतरीन सेवाएं रही हैं।

जो बाइडेन ने भारतीय-अमरीकी मूल की भव्य लाल को बनाया नासा की कार्यकारी प्रमुख

बिडेन प्रशासन में कंजूमर फाइनेंशियल प्रोटेक्शन ब्यूरो के प्रमुख पद के लिए नामित रोहित चोपड़ा का कार्यकाल पांच साल का होगा। चोपड़ा अमरीकी शिक्षा विभाग में विशेष सलाहकार के रूप में काम कर चुके हैं। बता दें कि सीनेट की मंजूरी मिलने के साथ ही इनकी नियुक्ति पर मुहर लग जाएगी।

कई भारतवंशियों की हो चुकी है नियुक्ति

आपको बता दें कि इससे पहले कई भारतवंशियों की बिडेन सरकार में नियुक्ति हो चुकी है। जो बिडेन ने अपनी सरकार में चार भारतीय-अमरीकियों को अहम जिम्मेदारी सौंपी है। तारक शाह को ऊर्जा विभाग में चीफ ऑफ स्टाफ नियुक्त किया गया है। यह पहला मौका है जब किसी भारतीय को इस पद पर नियुक्ति हुई है।

तान्या दास को ऑफिस ऑफ साइंस में चीफ ऑफ स्टाफ बनाया गया है। वहीं, ऑफिस ऑफ लीगल कौंसिल में नारायण सुब्रह्मणयम को लीगल एडवाइजर बनाया गया है। मालूम हो कि अमरीका में उपराष्ट्रपति के तौर पर पहली बार किसी महिला की नियुक्ति हुई है। भारतीय मूल की कमला हैरिस उपराष्ट्रपति बनीं हैं।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned