script6400 quintals of rice rotted due to negligence of the responsible, los | जिम्मेदारों की लापरवाही में सड़ गई 6400 क्विंटल चावल, 19 करोड़ का नुकसान | Patrika News

जिम्मेदारों की लापरवाही में सड़ गई 6400 क्विंटल चावल, 19 करोड़ का नुकसान

पूर्व में आरएम सतना और खाद्य विभाग ने अमानक बताकर अपग्रेडेशन के लिए भेजा था पत्र, नान ने नहीं की कोई कार्रवाई

अनूपपुर

Published: July 20, 2022 10:33:01 am

अनूपपुर। प्रदेश के खाद्य मंत्री बिसाहूलाल सिंह के गृह जिले अनूपपुर में अनाजों के भंडारण और देखभाल में विभागीय अधिकारियों की लापरवाही बरकरार है। जहां पूर्व में सजहा वेयरहाउस से ७ करोड़ १५ लाख रुपए के चावल के खुदबुर्द का मामला तीन साल बाद कोतवाली थाने में दर्ज हुआ। वहीं ९०० क्विंटल चावल के लोडिंग-अनलोडिंग सहित करोड़ों के अन्य कई प्रकरण पर कार्रवाई के अभाव में कागजों में दम तोड़ रहे हैं। वहीं अब बिजुरी स्थित शुभ वेयरहाउस में भंडारित ६४०० क्विंटल चावल के सडऩे का मामला सामने आया है। वेयरहाउस में पिछले पांच साल से भंडारित चावलों की चार लॉट में दो लॉट के १२००० से अधिक बोरी चावल खराब हो गए हैं। यहां खराब हुए चावल काले पड़ गए हैं। क्वालिटी के अनुसार देखा जाय तो इसे जहरीला चावल भी कहा जा सकता है। अब विभाग इन चावलों की लॉट में छंटनी कर सड़ गए चावल को बाहर निकालने और शेष को अपग्रेडेशन की तैयारी कर रही है। हालंाकि विभागीय अधिकारी ने इस सम्बंध में भोपाल को पत्र लिखकर निराकरण की अपील है। जिला नागरिक आपूर्ति अधिकारी एके रावत ने बताया कि यहां वर्ष २०१७-१८ और वर्ष २०१९-२० के चावल भंडारित हैं। यहां तीन मिलों आयशा, अन्नपूर्णा और गजानंद मिल से चावल के खेप वेयरहाउस में भंडारण के लिए पहुंचे थे। लेकिन यहां वेयरहाउस प्रबंधक की लापरवाही में करोड़ों की चावल खराब हो गए हैं। आरएम सतना ने इस सम्बंध में पत्र भेजा था, जहां १३ जुलाई में गोदाम की जांच में गोदाम खुलवाने पर चावल खराब होने की मात्रा सामने आई।
विभागीय और वेयरहाउस प्रबंधक की लापरवाही में १९ करोड़ के चावल खराब
विभागीय सूत्रों के अनुसार मिलों से वर्ष २०१७-१८ और वर्ष २०१९-२० में यहां तीन मिलों से चावल का भंडारण हुआ था। जिसमें संभावना है कि मिलरों ने अमानक चावल का भंडार किया। हालंाकि जिला नागरिक आपूर्ति विभाग की ओर से मिलर को एफएक्यू किया गया है, यानी मानक चावल। लेकिन बाद में उसका उठाव नहीं होने पर इनमें कीड़े लग गए। इस दौरान यहां से कुछ चावल की बोरियों का उठाव कराते हुए द्वार प्रदाय योजना के तहत आसपास के कुछ दुकानों पर भेजा गया। जिसकी शिकायत जिला खाद्य आपूर्ति विभाग के पास आई। यहां जिला खाद्य आपूर्ति विभाग ने चावल की जांच पड़ताल कर इसे अमानक बताते हुए वितरण नहीं किए जाने और अपग्रेडेशन के लिए जिला नागरिक आपूर्ति विभाग को पत्र लिखा। बावजूद जिला नागरिक आपूर्ति विभाग ने न तो वेयरहाउस के खिलाफ कार्रवाई कर इसके प्रबंधन के लिए जिम्मेदारी सौंपी और ना ही उसका अपग्रेडेशन कराया। जिसका परिणाम यह हुआ है कि अब यह ६४०० क्विंटल लगभग १९ करोड़ २ लाख की चावल खराब हो गई है।
आरएम सतना ने पूर्व में भी अपग्रेडेशन के लिए लिखा था पत्र, विभाग ने की अनदेखी
जिला नागरिक आपूर्ति विभाग के अनुसार इस सम्बंध में आरएम सतना ने दो साल पूर्व अमानक हुए चावल को देखते हुए तत्कालीन अधिकारी को पत्राचार कर अपग्रेडेशन के लिए पत्र लिखा था। इसके अलावा जिला खाद्य आपूर्ति विभाग ने भी पत्र जारी किया था। जिसमें नागरिक आपूर्ति विभाग ने चावल का अपग्रेडेशन नहीं कराया। वहीं विभागीय अधिकारियों ने वेयरहाउस के साथ सांठगांठ करते हुए चावल का उठाव तक नहीं कराया और उसे गोदाम में ही भंडारित कर फ्यूमीनिगेशन कर दिया।
दवा के छिडक़ाव के बाद नहीं हटाया कवर, काले पड़ गए चावल, हो गया जहरीला
तत्कालीन वेयर हाउस कोतमा के शाखा प्रबंधक ने भी गोदाम में भंडारित चावल की सुरक्षा मानको की अनदेखी कर दी। यहां कीड़ों से बचाव में गोदाम प्रबंधक ने दवाई का छिडक़ाव कर छोड़ दिया। समय पर कवर नहीं हटाने से चावल अब काले पड़ गए हैं, यानी सल्फर की मात्रा चावल के दानों के भीतर तक पहुंच गई है, जो अब जहरीला कहा जा सकता है। ये अब खाने योग्य भी नहीं बचा है।
वर्सन:
वेयरहाउस प्रबंधक और तत्कालीन अधिकारियों की लापरवाही में यह चावल सड़ा है। इसके लिए हमने निराकरण के लिए भोपाल पत्र लिखा है। वसूली की जाएगी।
एके रावत, प्रबंधक जिला नागरिक आपूर्ति अनूपपुर।
---------------------------------------------------------
6400 quintals of rice rotted due to negligence of the responsible, los
जिम्मेदारों की लापरवाही में सड़ गई 6400 क्विंटल चावल, 19 करोड़ का नुकसान

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहारः मंत्रियों में विभागों का बंटवारा, गृह मंत्रालय नीतीश के पास, तेजस्वी के पास 4 विभाग, तेज प्रताप का घटा कद, देखें Listबिहार कैबिनेट में अगड़ी जातियों का दबदबा खत्म, भूमिहार से 2 तो ब्राह्मण से मात्र 1 मंत्री, यादव से सबसे अधिक 8 मंत्रीगुजरात में कांग्रेस को बड़ा झटका, 6 MLA बीजेपी में हो सकते हैं शामिलTarget Killing In Kashmir: 'मोदी सरकार कश्मीरी पंडितों की हिफाजत करने में हुई फेल', AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसीJammu-Kashmir: शोपियां में नाम पूछकर आतंकियों ने कश्मीरी पंडितों पर बरसाईं गोलियां, एक की मौत, लश्कर फ्रंट ने ली जिम्मेदारीJammu-Kashmir: पहलगाम में 39 ITBP जवानों को ले जा रही बस खाई में गिरी, 7 जवान शहीद, अमित शाह ने जताया दुखKejriwal Press Conference: केजरीवाल ने बताया कैसे बनेगा देश का हर गरीब अमीर, इन 4 बड़े कामों पर दिया जोरMumbai Rains: मुंबई और ठाणे में सुबह से हो रही तेज बारिश, कई जगहों पर जलभराव, जानें- लोकल ट्रेन और बेस्ट बस की स्थिति
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.