Indonesia में 5.0 तीव्रता के का भूकंप, आखिर यहां पर क्यों लगते हैं इतने झटके

Highlights

  • भूकंप से किसी तरह के जानमाल का कोई नुकसान नहीं हुआ है, साल भर में तीसरी बार लगे झटके।
  • 18 अगस्त को भी समुद्र के अंदर दो शक्तिशाली भूकंप के झटके महसूस किए गए थे।

By: Mohit Saxena

Updated: 14 Sep 2020, 12:12 PM IST

जकार्ता। इंडोनेशिया (Indonesia) में रविवार को भूकंप (Earthquake)के तेज झटके महसूस किए गए। जिसकी तीव्रता रिक्टर स्केल पर 5.0 मापी गई। अमरीकी भूगभीर्य सवेर्क्षण के अनुसार स्थानीय समय के अनुरूप करीब छह बजे ये महसूस किए गया। भूकंप का केंद्र घरती की सतह से 131.31 की गहराई में था। हालांकि इससे कोई नुकसान होने की खबर नहीं है।

इससे पहले पश्चिमी इंडोनेशिया में 18 अगस्त को समुद्र के अंदर दो शक्तिशाली भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। अमरीकी भूगर्भीय सर्वे के अनुसार समुद्र के अंदर 10 किलोमीटर की गहराई पर 6.8 तीव्रता का भूकंप आया था। इसका केंद्र सुमात्रा (Sumatra Island) द्वीप पर बेंगकुलु प्रांत में था।

अमरीकी भूगर्भीय सर्वे ने बताया कि इसके करीब छह मिनट बाद ही 6.9 तीव्रता का एक दूसरा भूकंप महसूस किया गया था। गौरतलब है कि इंडोनेशिया 'रिंग ऑफ फायर पर है और इस वजह से यहां भूकंप का खतरा मंडराता रहता है। ज्वालामुखी और सुनामी आने का खतरा बना रहता है।

क्या है रिंग ऑफ फायर ?

दरअसल इंडोनेशिया का इलाका 'रिंग ऑफ फायर' (ring of Fire) में आता है। प्रशांत महासागर के किनारे-किनारे स्थित यह इलाका दुनिया का सबसे खतरनाक भू-भाग है। इंडोनेशिया एक एक्टिव भूकंप जोन में स्थित है। यही कारण है कि यहां पर इतने ज्यादा भूकंप आते हैं। इंडोनेशिया प्रशांत महासागर में मौजूद 'रिंग ऑफ फायर' का पार्ट है। 'रिंग ऑफ फायर' प्रशांत महासागर के बेसिन का इलाका है। जहां पर कई ज्वालामुखी फटते रहते हैं। इसके कारण यहां पर तगड़े भूकंप के झटके आते हैं। भूकंप के कारण ही समुद्र में सुनामी का खतरा बना रहता है। यह रिंग ऑफ फायर का इलाका करीब 40 हज़ार किमी के दायरे में फैला है। यहां पर विश्व पर 75 फीसदी सक्रिय ज्वालामुखी हैं।

इधर, भारत ने मुंबई में बीते कुछ समय से लगातार भूकंप के झटके महसूस किए जा रहे हैं बीते शुक्रवार को भी भूकंप के झटकों ने मुंबईवालों को हिला दिया। मुंबई में सुबह 3.37 बजे भूकंप आया, जिसकी तीव्रता रिक्टर स्केल पर 3.5 मापी ग तक गई। इसमें किसी के जानमाल की कोई खबर नहीं है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned