भूकंप के झटकों से थर्राया इंडोनेशिया और मलेशिया, कोई हताहत नहीं

मलेशिया और इंडोनेशिया में शुक्रवार को दोपहर 12 बजे के करीब भूकंप के जोरदार झटके महसूस किए गए। रिक्टर स्केल पर दोनों ही जगह भूकंप की तीव्रता 6.6 मापी गई। हालांकि किसी के भी हताहत होने की कोई खबर नहीं है।

By: Anil Kumar

Updated: 14 May 2021, 03:28 PM IST

नई दिल्ली। जापान के बाद इंडोनेशिया और मलेशिया में शुक्रवार को दोपहर के करीब भूकंप के जोरदार झटके महसूस किए गए। हालांकि अभी तक किसी के भी हताहत होने की कोई खबर सामने नहीं आई है। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 6.6 मापी गई है।

नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के अनुसार, मलेशिया की राजधानी कुआलालंपुर 642 किमी डब्ल्यूएसडब्ल्यू में आज (शुक्रवार) 12:03 बजे भूकंप के जोरदार झटके महसूस किए गए। वहीं, 12:30 बजे इंडोनेशिया के सुमात्रा द्वीप के पश्चिमी तट पर भूकंप के जोरदार झटके आए।

यह भी पढ़ें :- जापान में एक माह के अंदर दूसरा भूकंप का झटका, रिक्टर स्केल पर 6.0 तीव्रता मापी गई

संयुक्त राज्य भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण ने जानकारी देते हुए बताया है कि शुक्रवार को इंडोनेशिया के सुमात्रा के पश्चिमी तट पर 6.6 तीव्रता का भूकंप आया, जिससे निकटतम द्वीप पर दहशत फैल गई। हालांकि अभी तक किसी के भी हताहत और कुछ भी नुकसान की कोई खबर सामने नहीं आई है।

बता दें कि शुक्रवार तड़के जापान के होंशू द्वीप के पूर्वी तट पर भी भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। इसकी तीव्रता रिक्ट स्केल पर 6.0 मापी गई। नेशनल सेंटर फॉर सीसमोलॉजी ने जानकारी देते हुए बताया कि सुबह 5:28 बजे भूकंप के झटके आए थे। इसमें किसी के हताहत होने की कोई सूचना नहीं है।

सुनामी के डर से घबराए लोग

जानकारी के अनुसार, इंडोनेशिया को सिंहबंग शहर के दक्षिण में लगभग 250 किलोमीटर (160 मील) दूर नियास द्वीप के पास 12:30 बजे भूंकंप आया। नियास सर्च एंड रेस्क्यू एजेंसी के प्रवक्ता एजुस विबिसनो ने कहा कि अभी तक नुकसान या किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है।

यह भी पढ़ें :- न्यूजीलैंड में 7.1 तीव्रता का शक्तिशाली भूकंप, सुनामी की चेतावनी जारी

विबिसनो ने बताया, "मैंने दक्षिण नियास और वेस्ट नियास में खोज और बचाव दल से संपर्क किया था। वे सुरक्षित हैं, कोई हताहत नहीं हुआ और कोई नुकसान नहीं हुआ।" विबिसनो ने आगे कहा कि भूकंप के झटके काफी तेज थे। नतीजतन, लोग घबरा गए, खासकर जो लोग सुनामी के डर से तट के आसपास रह रहे थे।

2004 में आया था 9.1 तीव्रता का भूकंप

आपको बता दें कि इंडोनेशिया प्रशांत "रिंग ऑफ फायर" पर स्थित है, जिसके कारण यहां पर भूकंप और ज्वालामुखी विस्फोट आते रहते हैं। इससे पहले 2004 में 9.1 तीव्रता का एक विनाशकारी भूकंप का झटका आया था। इंडोनेशिया के सुमात्रा के तट पर काफी तबाही हुई थी। इस घटना में इंडोनेशिया में लगभग 220,000 लोगों की जान चली गई थी।

वहीं 2018 में आई एक शक्तिशाली भूकंप ने लोम्बोक द्वीप को हिला कर रख दिया था। यहां पर कुछ दिनों तक भूकंप के झटके आते रहे जिससे हॉलिडे द्वीप और पड़ोसी सुंबावा में 550 से अधिक लोग मारे गए थे। सुलावेसी द्वीप के पालू में 7.5 तीव्रता के भूकंप और उसके बाद आई सुनामी में 4,300 से अधिक लोग मारे गए या लापता हो गए थे।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned