उइगर मुसलमानों के लिए शाहिद अफरीदी ने उठाई आवाज, इमरान सरकार को दुविधा में डाला

  • अफरीदी ने कहा चीन के उइगर मुसलमानों के साथ होने वाले जुल्म पर आवाज उठाएं
  • शहीद अपने जमाने के प्रसिद्ध गेदबाज और बल्लेबाज रहे हैं

By: Mohit Saxena

Updated: 24 Dec 2019, 08:57 PM IST

कराची। पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शाहिद अफरीदी इमरान सरकार के सामने धर्म संकट में डालने वाली मांग रख दी है। उन्होंने इमरान से कहा है कि वह चीन के उइगर मुसलमानों के साथ होने वाले जुल्म पर आवाज उठाएं। शहीद अपने जमाने के प्रसिद्ध गेदबाज और बल्लेबाज रहे हैं।

चीन पर पाकिस्तान की निर्भरता किसी से छिपी नहीं है। ऐसे में पाकिस्तान ने लगातार उइगर मुसलमानों हो रही बर्बता पर चुप्पी साध रखी है। अफरीदी ने ट्वीट किया, ‘उइगर मुसलमानों के खिलाफ जुल्म सुनकर दिल टूट जा रहा है। प्रधानमंत्री इमरान खान से खास गुजारिश है कि आप मुस्लिम समुदाय को संगठित करने की बात कहते हैं तो इस बारे में भी थोड़ा सोचें। चीनी हुकूमत से अपील है कि वह भगवान के लिए,अपने मुल्क में मुसलमानों का उत्पीड़न रोके।’

चीन के शिनजियांग इलाके में एक करोड़ से अधिक उइगर मुसलमान रहते हैं जिन्हें कथित रूप से डिटेंशन सेंटर में रखा जा रहा है। उइगर और अन्य अल्पसंख्यकों के उत्पीड़न के आरोप में अमरीका ने चीन की 28 सरकारी व गैरसरकारी संस्थाओं पर प्रतिबंध लगा दिया है। हाल ही में तुर्की मूल के जर्मन फुटबॉलर मेसुत ओजिल ने भी उइगर मुसलमानों का मुद्दा उठाते हुए उनके मामले में चीन की नीतियों की निंदा की थी।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned