श्रीलंका: मुस्लिम विरोधी दंगे भड़के, एक की मौत, सरकार ने पूरे देश में सात घंटे का कर्फ्यू लगाया

श्रीलंका: मुस्लिम विरोधी दंगे भड़के, एक की मौत, सरकार ने पूरे देश में सात घंटे का कर्फ्यू लगाया

Mohit Saxena | Publish: May, 14 2019 08:52:47 AM (IST) | Updated: May, 14 2019 03:59:52 PM (IST) एशिया

  • कोलंबो के कई जिलों में मुस्लिम विरोधी दंगे
  • मस्जिदों पर हमले किए और दुकानों में तोड़फोड़ की
  • सोशल मीडिया पर दोबारा से प्रतिबंध लगा

कोलंबो। श्रीलंका में बीते माह हुए सीरियल बम धमाकों के बाद हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं। यहां मुस्लिम विरोधी दंगे भी भड़क गए हैं। इससे निपटने के लिए श्रीलंका सरकार ने सोमवार को पूरे देश में सात घंटे के लिए रात का कर्फ्यू लागू करने की घोषणा की।इन दंगों में एक व्यक्ति की मौत हो गई। पुलिस के अनुसार राजधानी कोलंबो के कई जिलों में मुस्लिम विरोधी दंगे भड़क गए हैं।

अमरीका: रूस व चीन के साथ तनाव के बीच G20 सम्मेलन में पुतिन व जिनपिंग से मुलाकात करेंगे ट्रंप

पुलिस को आंसू गैस के गोले भी दागने पड़े

सोमवार को मुस्लिमों की दुकानों और मस्जिदों पर हमले से भीड़ को रोकने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले भी दागने पड़े। उत्तर पश्चिम प्रांत के मुस्लिम इलाकों में लोगों ने मस्जिदों पर हमले किए और दुकानों में तोड़फोड़ की। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सैकड़ों की संख्या में दंगाइयों ने मस्जिदों में आग लगा दी और दुकानें तोड़ डालीं।

सोशल मीडिया पर भी प्रतिबंध

गौरतलब है कि श्रीलंका सरकार ने देश में अल्पसंख्यक मुसलमानों और बहुसंख्यक सिंहली समुदायों के बीच हिंसा की घटनाओं के बाद सोशल मीडिया पर दोबारा से प्रतिबंध लगा दिया है। फेसबुक और वॉट्सऐप पर प्रतिबंध से एक दिन पहले श्रीलंकाई पुलिस ने रविवार को देश के पश्चिम तटीय शहर चिला में भीड़ द्वारा एक मस्जिद और मुस्लिमों की कुछ दुकानों पर हमला किए जाने के बाद तत्काल प्रभाव से कर्फ्यू लगा दिया था।

सूडान: बेदखल राष्ट्रपति बशीर पर प्रदर्शनकारियों की हत्या कराने का आरोप

फेसबुक पोस्ट से बिगड़ा माहौल

गौरतलब है कि एक मुस्लिम दुकानदार के फेसबुक पोस्ट के बाद यह विवाद शुरू हुआ। इसके बाद चिला शहर में भीड़ ने एक मस्जिद और कुछ दुकानों पर हमला किया था। अधिकारियों ने बताया कि मुसलमानों और सिंहलियों के साथ झड़प के बाद फेसबुक और वॉट्सऐप पर प्रतिबंध लगा दिया गया। देश में 21 अप्रैल को तीन चर्च और तीन बड़े होटलों में आत्मघाती हमले हुए थे। इसमें 253 लोगों की मौत हो गई थी और 500 से अधिक लोग घायल हो गए। इन हमलों के बाद से देश में हिंसा की घटनाएं बढ़ी हैं।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned