script महिला स्व सहायता समूह को नहीं दिया धान खरीदी का कार्य | Paddy procurement work not given to women self-help group | Patrika News

महिला स्व सहायता समूह को नहीं दिया धान खरीदी का कार्य

locationबालाघाटPublished: Nov 24, 2023 10:07:36 pm

Submitted by:

Bhaneshwar sakure

समूह की महिलाओं ने जताया विरोध
जिला मुख्यालय पहुंचकर सौंपा ज्ञापन

24_balaghat_109.jpg

बालाघाट. जिले में समर्थन मूल्य पर 1 दिसंबर से धान की खरीदी प्रारंभ होना है। इसके लिए प्रशासन ने सेवा सहकारी समितियों को ही धान खरीदी केन्द्र बनाया है। इस वर्ष जिले में किसी भी महिला स्व सहायता समूह को धान खरीदी का जिम्मा नहीं दिया गया है। शुक्रवार को अलग-अलग समूह की महिलाओं ने जिला मुख्यालय पहुंचकर इसका विरोध जताया। वहीं प्रशासन को ज्ञापन सौंपकर धान खरीदी की जिम्मेदारी दिए जाने की मांग की है। उल्लेखनीय है कि किसानों से समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी 1 दिसंबर से प्रारंभ होगी। 24 नवंबर से किसानों के स्लॉट बुक करने की प्रक्रिया शुरु होगी। धान खरीदी के लिए जिले में 178 केन्द्र बनाए गए है। इस वर्ष समर्थन मूल्य पर धान की बिक्री करने के लिए 117596 किसानों ने अपना पंजीयन कराया है।
आजीविका स्व सहायता समूह समनापुर की सदस्य कौशल्या ने बताया कि पिछले वर्ष प्रशासन ने उनके समूह को धान खरीदी की जिम्मेदारी थी। समूह ने पूरी इमानदारी के साथ कार्य करते हुए धान की खरीदी की थी। धान खरीदी में किसी भी प्रकार की कोई अनियमितता नहीं बरती। हिसाब-किताब भी बराबर था। बावजूद इसके इस वर्ष उन्हें धान खरीदी का कार्य नहीं दिया गया है।
इसी तरह गोंडवाना स्व सहायता समूह माना की भगवंती उइके ने बताया कि पिछले वर्ष उनके समूह को परसामऊ और गढ़ी में धान खरीदी केन्द्र मिला था। लेकिन इस वर्ष कहीं भी उन्हें धान खरीदी की जिम्मेदारी नहीं दी गई है। उन्होंने मांग की है कि समूह को धान खरीदी की जिम्मेदारी दी जाए। ताकि महिलाओं को रोजगार मिल सकें।
----------------

ट्रेंडिंग वीडियो