scriptनव दीक्षित साध्वी जयणाश्री की हुई बड़ी दीक्षा | Big initiation of newly initiated Sadhvi Jayanashree | Patrika News
बैंगलोर

नव दीक्षित साध्वी जयणाश्री की हुई बड़ी दीक्षा

मुमुक्षु क्षायिक का अभिनन्दन

बैंगलोरNov 12, 2022 / 07:32 pm

Yogesh Sharma

नव दीक्षित साध्वी जयणाश्री की हुई बड़ी दीक्षा

नव दीक्षित साध्वी जयणाश्री की हुई बड़ी दीक्षा

बेंगलूरु. राजाजीनगर संघ के तत्वावधान में श्रमण संघीय उपप्रवर्तक श्रुतमुनि, साध्वी सुशीलाकंवर एवं साध्वी चैतन्यश्री के संयुक्त तत्वावधान में नव दीक्षित साध्वी जयणाश्री की बड़ी दीक्षा का आयोजन संपन्न हुआ। 6 नवम्बर को गोडवाड़ भवन में विल्सन गार्डन संघ के तत्वावधान में मालेगांव निवासी चंदाबाई संचेती जैन भागवती दीक्षा ग्रहण कर साध्वी जयणाश्री बनी थीं। शुक्रवार को उन्हें विधिवत रूप से बड़ी दीक्षा का पाठ श्रवण करवाकर साध्वी के रूप में जिनशासन को समर्पित किया।
इस आयोजन साध्वी सुशीलाकंवर एवं साध्वी चैतन्यश्री चातुर्मास संपन्न कर राजाजीनगर स्थानक पहुंचे। श्रुतमुनि के मंगलाचारण के बाद राजाजीनगर के त्रिशला महिला मंडल एवं त्रिशला बहु मंडल ने स्वागत गीत प्रस्तुत किया। विल्सन गार्डन की प्रेरणा बहु मंडल ने भी नवदीक्षित के लिए मधुर स्तवन प्रस्तुत किया। साध्वी चैतन्यश्री एवं सुशीलाकंवर ने दीक्षा का महत्व बताया। संघ अध्यक्ष जंबुकुमार दुग्गड़ ने स्वागत किया।
ताम्बरम संघ चेन्नई के पदाधिकारियों ने संघ अध्यक्ष खेमराज गांधी के नेतृत्व में साध्वी सुशीलाकंवर से आगामी वर्षावास की विनती की। साध्वी ने स्वीकृति प्रदान की। राजाजीनगर संघ के युवाओं को समाहित कर-राजाजीनगर जिनेश्वर युवा मंडल की घोषणा श्रुतमुनि ने की। चातुर्मास में सक्रिय सहयोग प्रदान करने वाले भंवरसिंह जगदीशसिंह, संघ सेवा में सक्रिय धर्मराज बहादुर, नागवेणी एवं गुरुदेव की सेवा में समर्पित धीरज एवं निलेश का अभिनंदन किया गया।

नव दीक्षित साध्वी जयणाश्री की हुई बड़ी दीक्षा
बड़ी दीक्षा के बाद मध्याह्न दौंड में मुमुक्षु क्षायिक जैन जो श्रमण संघीय युवाचार्य महेन्द्रऋषि के पास ज्ञान ध्यान अर्जित कर रहे हैं, उनका आगमन राजाजीनगर संघ में हुआ। क्षायिक की दीक्षा 3 फरवरी को नागपुर में होगी। इस अवसर पर संघ के अध्यक्ष जंबुकुमार दुग्गड़, उपाध्यक्ष कनकराज चोरडिय़ा, मंत्री गौतम मेहता, सहमंत्री राकेश दलाल, कोषाध्यक्ष भागचंद गुगलिया, भोजन समिति सह संयोजक नेमीचंद बाबेल के साथ साथ जैन कॉन्फ्रेंस के राष्ट्रीय युवा महामंत्री पदम आच्छा, राष्ट्रीय वैय्यावच्च अध्यक्ष रतन सिंघी, प्रांतीय युवा अध्यक्ष विकास कोठारी उपस्थित थे। श्रुतमुनि का प्रथम विहार रविवार सुबह 8 बजे पूर्व अध्यक्ष मिश्रीमल कटारिया के निवास स्थान पर होगा।

Hindi News/ Bangalore / नव दीक्षित साध्वी जयणाश्री की हुई बड़ी दीक्षा

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो