टीकाकरण के लिए प्रदेश कांग्रेस 100 करोड़ देने को तैयार

कांग्रेस के सभी विधायक, विधान पार्षद और सांसद देंगे एक-एक करोड़

By: Sanjay Kulkarni

Updated: 15 May 2021, 05:17 AM IST

बेंगलूरु. राज्य में टीके की कमी के कारण १८-४४ वर्ष के लिए अस्थायी तौर पर टीकाकरण स्थगित जाने के बीच प्रदेश कांग्रेस ने शुक्रवार को कहा कि सीधे उत्पादकों से टीका खरीदने के लिए उसने 100 करोड़ रुपए की योजना तैयार की है।
कांग्रेस विधायक दल के नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या ने कहा कि यह एक अप्रत्याशित फैसला है। प्रदेश में कांग्रेस के 95 विधायक एवं विधान पार्षद हैं जबकि एक लोकसभा और 4 राज्य सभा के सांसद हैं। ये सभी अपने क्षेत्रीय विकास निधि (एलएडी) से एक-एक करोड़ रुपए देंगे। कुल मिलाकर इसके लिए 100 करोड़ रुपए का फंड इकट्ठा किया जाएगा।
सिद्धरामय्या ने कहा कि वे यह नहीं कहते कि इससे सब कुछ ठीक हो जाएगा। लेकिन, वे सरकार के लिए मदद का हाथ बढ़ा रहे हैं। केंद्र और राज्य सरकार को मालूम है कि इस महामारी से लडऩे के लिए टीकाकरण ही एक मात्र उपाय है। लेकिन, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा दोनों नींद में हैं। टीकाकरण के लिए कोई तैयारी नहीं की गई।
उधर, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डीके शिवकुमार ने कहा कि 'मैं येडियूरप्पा सरकार से अपील करता हूं कि हमें पारदर्शी तरीके से सीधे टीके खरीदने के लिए विधायक/विधान पार्षद कोष का उपयोग करने की अनुमति दें।Ó उन्होंने कहा कि मोदी और येडियूरप्पा की सरकार महीनों से ऐसा करने में विफल हो रही है। यह सभी राजनीतिक दलों का दायित्व है कि वे लोगों की जान बचाने में सहयोग करें।
उन्होंने कहा, 'केंद्र और राज्य सरकारें सामूहिक रूप से जनता का टीकाकरण करने में विफल रही हैं, हम इसे स्वयं करना चाहते हैं। हमें बस दो छोटी अनुमति चाहिए। एक केंद्र से और दूसरी राज्य सरकार से। भाजपा से मेरी अपील है कि राजनीति को आड़े नहीं आने दें और आत्मनिर्भर भारत की भावना से कांग्रेस को सीधे टीके खरीदने और उसे लोगों के लगाने की अनुमति दें।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned