scriptसिक्किम की भीषण बाढ़ में फंसे राजस्थान के 7 लोग, परेशान परिजनों से प्रशासन ने की बात | 7 people from Rajasthan trapped in the severe floods of Sikkim, administration spoke to worried family members | Patrika News
बांसवाड़ा

सिक्किम की भीषण बाढ़ में फंसे राजस्थान के 7 लोग, परेशान परिजनों से प्रशासन ने की बात

बांसवाड़ा के बाहुबली कॉलोनी निवासी टैक्स सलाहकार एडवोकेट प्रणम पुत्र राजकुमार जैन पत्नी नीलम जैन के साथ बतौर पर्यटक गत 9 जून को सिक्किम गए थे।

बांसवाड़ाJun 15, 2024 / 02:41 pm

Akshita Deora

बांसवाड़ा जिले से घूमने के लिए गए दो दंपतियों सहित सात जने सिक्किम में आई भीषण बाढ़ के चलते फंस गए हैं। उनकी वापसी संभव नहीं हो रही। हालांकि उन्हें इंडो तिब्बतियन बॉर्डर पुलिस (आइटीबीपी) की मदद मिल गई है और फिलहाल वे एक कैंप में ठहराए हुए हैं, लेकिन संपर्क-संवाद के साथ निकल नहीं पाने की परेशानी सता रही है।
बांसवाड़ा के बाहुबली कॉलोनी निवासी टैक्स सलाहकार एडवोकेट प्रणम पुत्र राजकुमार जैन पत्नी नीलम जैन के साथ बतौर पर्यटक गत 9 जून को सिक्किम गए थे। एक उनके साथ हाउसिंग बोर्ड से सुरेश पंचाल, उनकी पत्नी और तीन बच्चे भी हैं। जैन ने बताया उन्हें 12 जून को वापसी करनी थी, लेकिन उससे पहले यहां बाढ़ के चलते फंस गए। 27 वर्षीय प्रणम ने बताया कि इन दिनों राजस्थान से बहुल लोग यहां आए हुए हैं। उपखंड मुख्यालय चुंबथांग पर झालरापाटन के एक परिवार सहित डेढ़ हजार राजस्थानी फंसे हैं, जबकि वे दो किलोमीटर दूर आईटीबीपी के टेगोंग स्थित कैंप में है और निकलने का रास्ता नहीं मिल रहा।
यह भी पढ़ें

राजस्थान में चंबल नदी के किनारे इस घाट पर क्रूज चलाने की तैयारी, वाटर टूरिज्म का बनेगा केंद्र

दो दिन बीतने पर आईटीबीपी ने भी हाथ खड़े कर दिए तो चुंबथांग एसडीएम से मिलकर मदद भी मांगी। इस पर मौसम साफ होने और पानी उतरने पर कुछ कर पाने का भरोसा दिलाया गया। सिक्किम में फंसे लोगों की दिक्कत यह भी है कि किसी का भी फोन काम नहीं कर रहा। प्रणम ने बताया कि सभी नेटवर्क फेल हो चुके हैं। केवल उनका एक बीएसएनएल का ही चल रहा है। उसी से उन्होंने मां ममता जैन और परिजनों से बात की और पंचाल के अलावा राजस्थान के अन्य लोगों के रिश्तेदारों से संपर्क करवाकर हालचाल बताए।

पत्रिका प्रयास: बांसवाड़ा जिला प्रशासन सक्रिय


इस बीच, पत्रिका ने इस संबंध में संभागीय आयुक्त नीरज के पवन से बात कर प्रणम से संपर्क करवाया तो मामला जानकर उन्होंने सक्रियता दिखाई। संभागीय आयुक्त को प्रणम ने बताय कि यहां बनाया अस्थायी पुल उखड़ बादल फटने से चुका है और भू स्खलन से चट्टाने गिरने से सभी भयभीत हैं। इस पर संभागीय आयुक्त ने आईटीबीपी के कैंप में सुरक्षित बने रहने और मजबूत रहने की सलाह दी। साथ ही हरसंभव मदद का आश्वासन दिया।

Hindi News/ Banswara / सिक्किम की भीषण बाढ़ में फंसे राजस्थान के 7 लोग, परेशान परिजनों से प्रशासन ने की बात

ट्रेंडिंग वीडियो