scriptStudents will wear colorful uniforms | रंग-बिरंगी यूनिफॉर्म पहन मनाएंगे आजादी का उत्सव, वजह है यह | Patrika News

रंग-बिरंगी यूनिफॉर्म पहन मनाएंगे आजादी का उत्सव, वजह है यह

दो सत्र से सरकारी स्कूलों में विद्यालय गणवेश का इंतजार, दो बार बदली पोशाक, नहीं पहुंची पाठशाला

बाड़मेर

Published: August 01, 2022 08:52:49 pm

दिलीप दवे

बाड़मेर . सरकारी स्कूल हो या फिर निजी विद्यालय, हरेक में ड्रेस कोड होता है जिसके अनुरूप ही विद्यार्थियों को स्कूल आना होता है। यूनिफॉर्म विद्यार्थियों को अनुशासन की पहली सीख देती है लेकिन प्रदेश के सरकारी विद्यालयों में दो साल से स्कूल ड्रेस ही नहीं है। सरकार ने निशुल्क यूनिफॉर्म देने की घोषणा तो कर दी लेकिन यह तय करने में वक्त लग गया कि स्कूल ड्रेस का वितरण कैसे हो। ऐसे में इस बार स्वतंत्रता दिवस पर बच्चे कौनसी डेस पहन कर आएं यह तय नहीं है।

br0208c12.jpg
दो सत्र से सरकारी स्कूलों में विद्यालय गणवेश का इंतजार

मुख्यमंत्री ने वर्ष 2021 के बजट भाषण में पहली से आठवीं कक्षा तक के बच्चों को निशुल्क यूनिफॉर्म उपलब्ध कराने की घोषणा की थी। इसके बाद प्रदेश के 64479 सरकारी स्कूलों में पहली से आठवीं तक के 70 लाख बच्चों को सिली हुई स्कूल ड्रेस देने की घोषणा की गई। इसके बाद निर्णय बदला और तय किया कि सरकार विद्यार्थियो के यूनिफ़ोर्म के लिए कपड़ा देगी, सिलवाने का काम स्कूल मैनेजमेंट कमेटी करेगी।

पीटी, परेड में नजर नहीं आएगी समानता -अमूमन स्कूलों में पीटी, परेड में बच्चे एक साथ एक ड्रेस में नजर आते हैं और नजारा भी मनमोहक होता है लेकिन इस बार बच्चे अपने घर की ड्रेस पहन कर आएंगे जिस पर समानता नजर नहीं आएगी।

यह भी पढ़ें

आठवीं में करनी होगी छठी-सातवीं की पढ़ाई, यह है कारण |

राष्ट्रीय पर्व पर होगी परेशानी-सरकार के निर्णय की पालना नहीं होने के कारण अभी तक स्कूलों को न तो ड्रेस मिली है और ना ही सिलाई के रुपए। यह भी तय नहीं है कि कैसे वितरण होगा। इधर, निशुल्क ड्रेस मिलने की घोषणा पर अभिभावक भी यूनिफॉर्म नहीं बना रहे हैं। ऐसे में दो सत्र से बच्चे मनमर्जी की ड्रेस पहन कर स्कूल आ रहे हैं। अब स्वतंत्रता दिवस पर भी ऐसा ही होगा। एक विद्यार्थी को 2 यूनिफॉर्म मिलेगी। प्रति विद्यार्थी राजस्थान सरकार अधिकतम 600 रुपए खर्च करेगी। साथ ही तय हुआ कि छात्रों को हल्की नीली शर्ट व गहरी भूरी/धूसर नेकर/पेंट, छात्राओं को हल्की नीली शर्ट/ कुर्ता, गहरी भूरी/धूसर सलवार/ स्कर्ट दी जाएगी। कक्षा 5वी तक छात्राओं को चुन्नी नहीं मिलेगी जबकि कक्षा 6 से 8 तक की छात्राओं को चुन्नी जाएगी।

यह भी पढ़ें

अब अंग्रेजी में मिलेगा कला का ज्ञान, महात्मागांधी विद्यालयों में इसी सत्र से शुरूआत

जल्द ही मिले ड्रेस-सरकार जल्द ही बच्चों को निशुल्क स्कूल ड्रेस देने की घोषणा पर अमल करे। पहली से आठवीं के बच्चे स्कूली यूनिफॉर्म में नहीं आते जिस पर अनुशासन नहीं दिखता। सरकार स्कूल ड्रेस उपलब्ध करवाए।- बसंत कुमार जांणी, जिलाध्यक्ष राजस्थान वरिष्ठ शिक्षक संघ रेस्टा बाड़मेर




सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

शिमला में सेवाओं की पहली 'गारंटी' देने पहुंचेगी AAP, भगवंत मान और मनीष सिसोदिया कल हिमाचल प्रदेश के दौरे परममता बनर्जी के ट्विटर प्रोफाइल में गायब जवाहर लाल नेहरू की तस्वीर, बरसी कांग्रेसमुंबई पुलिस की बड़ी कार्रवाई, गुजरात के भरूच में पकड़ी ‘नशे’ की फैक्ट्री, 1026 करोड़ के ड्रग्स के साथ 7 गिरफ्तारभूस्खलन से हिमाचल में 100 से अधिक सड़कें ठप, चार दिन भारी बारिश का अलर्टबिहारः मंत्रियों में विभागों का बंटवारा, गृह मंत्रालय नीतीश के पास, तेजस्वी के पास 4 विभाग, तेज प्रताप का घटा कद, देखें ListVideo मध्यप्रदेश में बाढ़ के हालात, सात जिलों में राहत-बचाव का काम शुरू, लोगों को घरों से निकालाMaharashtra: खाने को लेकर कैटरिंग मैनेजर पर भड़के शिवसेना MLA संतोष बांगर, कर्मचारी को जड़ दिए थप्पड़कश्मीरी पंडित की हत्या मामले में सामने आई मनोज सिन्हा, महबूबा मुफ्ती व उमर अब्दुल्ला की प्रतिक्रिया, जानिए क्या कहा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.