scriptWhy Pakistani Hindus are desperate to come to India? | क्यों पाकिस्तानी हिन्दू छटपटा रहे है भारत आने को? | Patrika News

क्यों पाकिस्तानी हिन्दू छटपटा रहे है भारत आने को?

900 पाकिस्तानी हिन्दुओं को भारत में ब्लैक लिस्ट किया हुआ है, वजह वे जब भारत आए तो ज्यादा ठहर गए। अब वे यहां इसलिए आना चाहते है कि उनका परिवार भारत में है। किसी की बहिन, किसी की बेटी तो किसी के बीवी बच्चे।

बाड़मेर

Published: May 23, 2022 11:57:16 am

बाड़मेर पत्रिका.
सत्तर साल की दरियाकंवर। पाकिस्तान के सिंध इलाके में रहती है। पांच बेटियां और एक बेटा बाड़मेर(भारत)में है। 2016 में भारत मिलने आई थी,तब सोचा था कि जिंदगी के आखिरी वक्त में 70 पार होते ही भारत चली जाऊंगी और फिर जिंदगी का क्या भरोसा? 2018 में पाकिस्तान ने वीजा दे दिया और वह मुनाबाव पहुंची तो यहां उसको कहा तुम तो ब्लैक लिस्ट हों? 70 साल की दरिया बोली मेरा गुनाह-उत्तर था मां तुम भारत में अपनी बेटियों के साथ पहले गई थी,जब ज्यादा रह गई। दरिया गिड़गिड़ाती रही..बेटा,बेटियों ने जिद्द कर ली थी, गुनाह हो गया। जाने दे,अब ज्यादा नहीं रहूंगी,लेकिन एक न सुनी। तब से दरिया हर दिन भारत की ओर देखती है, बार-बार वीजा लगाती है लेकिन उसे भारत आने की इजाजत नहीं मिल रही। आंसू बहाते हुए कहती है..जीते जी एक बार..भारत मुझे आने दे, तूं तो बड़ा भला मुल्क है।
पाकिस्तान के 900 हिन्दू परिवारों को भारत में ब्लैक लिस्ट किया हुआ है और वे अब तड़प रहे है अपनों से मिलने के लिए। ऐसे ही है उदयसिंह पुत्र गुमानसिंह जो उमरकोट सनोई के रहने वाले है। दो भाई और बीवी, दो बेटियां और तीन बेटे भारत में रहते है और वो पाकिस्तान में। 2016 में परिवार से मिलने आए थे, बड़े दिनों बाद परिवार के बीच में आए तो थोड़े दिन और रुकने का मन हो गया। उदयसिंह बताते है कि उन्होंने इसके लिए वीजा अवधि बढ़ाने को राज्य सरकार को लिखा और यहां रुके रहे। जोधपुर से वापिस रवाना हो गए लेकिन 2018 में जैसे ही उन्होंने भारत आने का वीजा मांगा तो ब्लैक लिस्ट कहकर रोक दिया गया। अब वे अपने परिवार से नहीं मिल पा रहे है। उदयसिंह कहते है,तब ही सख्ती से कह देते कि ज्यादा रुके तो फिर आने नहीं देंगे। हम तीन-चार साल में एक बार आते है, तीन-चार माह परिवार के साथ रहकर चले जाते है, भारत इतना तो दिल बड़ा करे। पाकिस्तान के ही सिंध के रहने वाले हडंवंतङ्क्षसह, शक्तिसिंह और उनकी पत्नी को भी ब्लैक लिस्ट किया हुआ है। शक्तिसिंह के परिवार के चार बेटे व बेटियां यहां भारत में है। उनके बेटे का विवाह करना है और दुल्हन की तलाश भारत में ही होगी, क्योंकि पाकिस्तान में रिश्तेदारी का गौत्र नहीं है। शक्तिङ्क्षसह कहते है, हम तो दिल जोडऩे आना चाहते है, भारत हमारा दिल न तोड़े। ये रिश्ते ही तो है जो सबसे ऊपर है।
क्यों पाकिस्तानी हिन्दू छटपटा रहे है भारत आने को?
क्यों पाकिस्तानी हिन्दू छटपटा रहे है भारत आने को?

क्यों बंटे है यह परिवार
सवाल उठता है कि इतना दर्द है तो यह परिवार दो मुल्कों में क्यों बंटे है? जवाब है कि बंटवारे ने इन परिवारों को अलग कर दिया। जमीन जायदाद जहां थी परिवार वहां रह गए। फिर रिश्तेदारी का सवाल आया तो अपने गौत्र में शादियंा नहीं होती,लिहाजा भारत में बसे परिवारों को पाकिस्तान और पाकिस्तान में बसे परिवारों को भारत आना जाना जरूरी हो गया है।

धर्म परिर्वतन नहीं कर रहे
ये परिवार पाकिस्तान में जुल्म सहने के बावजूद भी इतने हिन्दूवादी है कि अपना धर्म नहीं बदल रहे है। गैर हिन्दू मुल्क में रहकर भी इन लोगों ने अपने वजूद को अभी तक नहीं खोया है। इसलिए ये भारत आना-जाना और रिश्तेदारी को बदस्तूर जारी रखे हुए है।

एक्सपर्ट व्यू
खोल दो थार का रास्ता
थार एक्सप्रेस रिश्तों की रेल रही है। यह रास्ता परिवारों को जोड़ता था। सिंध, उमरकोट और सांगड़ के लोगों की रिश्तेदारी बाड़मेर-जैसलमेर में सर्वाधिक है। इन परिवारों के लिए यह रास्ता भारत सरकार खोल दे। जब बाघा बॉर्डर खुला हुआ है तो थार एक्सप्रेस के लिए क्या मुश्किल है। यह तो शांत बॉर्डर है। यहां लोग रिश्ते निभाने आएंगे।- हिन्दूसिंह सोढ़ा, सीमांत लोक संगठन

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: एकनाथ शिंदे की याचिका पर SC ने डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस और केंद्र को भेजा नोटिस, 5 दिन के भीतर जवाब मांगाMaharashtra Political Crisis: सुप्रीम कोर्ट से शिंदे खेमे को मिली राहत, अब 12 जुलाई तक दे सकते है डिप्टी स्पीकर के अयोग्यता नोटिस का जवाबMaharashtra Political Crisis: क्या महाराष्ट्र में दो-तीन दिनों में सरकार बना लेगी बीजेपी? यहां पढ़ें पूरा समीकरणPresidential Election: यशवंत सिन्हा ने भरा नामांकन, राहुल गांधी-शरद पवार समेत विपक्ष के कई बड़े नेता मौजूदPunjab Budget 2022: 1 जुलाई से फ्री बिजली; यहां पढ़ें पंजाब सरकार के पहले बजट में क्या-क्या है खासपटना विश्वविद्यालय के हॉस्टलों में छापेमारी, मिला बम बनाने का सामानMumbai News Live Updates: शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे का बड़ा बयान, कहा- ये राजनीति नहीं है, ये अब सर्कस बन गया हैMaharashtra: ईडी के समन पर संजय राउत ने कसा तंज, बोले-ये मुझे रोकने की साजिश, हम बालासाहेब के शिवसैनिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.