मुलताई पवित्र नगरी का ऐसा विकास होगा कि पूरा देश देखेगा- शिवराज सिंह चौहान

मुलताई पवित्र नगरी का ऐसा विकास होगा कि पूरा देश देखेगा- शिवराज सिंह चौहान

सीएम ने किया तीन अरब के बांध का लोकार्पण, कहा विकास तो अब चालू होगा

मुलताई. पवित्र नगरी में विकास का अध्याय अभी चालू हुआ है, मुलताई का इतना विकास करेंगे कि पूरा देश इसे पहचानेगा। उक्त उद्गार लगभग तीन अरब की लागत से निर्मित पारसडोह जलाशय का लोकार्पण करने पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने उत्कृष्ट विद्यालय मैदान पर संबोधित करते हुए कहा। उन्होंने कहा कि वे खाली हाथ नहीं आए हैं एक वर्ष पूर्व जिस बांध का भूमिपूजन किया था मात्र एक वर्ष में पूर्ण करके वे उसका लोकार्पण करने आए हैं जिससे पूरे क्षेत्रवासी लाभान्वित होंगे। अपने तय समय से लगभग दो घंटे विलंब से पहुंचे मुख्यमंत्री चौहान ने निर्धनों के लिए बनाई गई योजनाओं का उल्लेख किया। इस दौरान मंच पर उनकी पत्नी साधना सिंह, सांसद ज्योति धुर्वे, कमल पटेल, बैतूल विधायक हेमंत खंडेलवाल, बाबा माकोड़े सहित जिले के भाजपा नेता, विधायक चंद्रशेखर देशमुख तथा जिप सदस्य राजा पंवार उपस्थित थे।
आईटीआई खोलने का आश्वासन: मंच पर विधायक चंद्रशेखर देशमुख ने अपने संक्षिप्त उद्बोधन में दुनावा को तहसील, मुलताई को जिला बनाने तथा नगर में आईटीआई खोलने की मांग रखी जिस पर सीएम ने आईटीआई शीघ्र खोलने का आश्वासन दिया, लेकिन मुलताई को जिला बनाने की मांग को नजरअंदाज कर गए। उन्होंने पुलिस भर्ती में छात्राओं के 33 प्रतिशत आरक्षण, किसानों को सोयाबीन की 3400 रुपए कीमत देने, पांच एकड़ भूमि वाले किसानों को संबल योजना में शामिल करने की घोषणा की।
माल वाहनों से पहुंचे लोग: ग्रामीणों को मालवाहनों से आयोजन स्थल पर ले जाया गया। इधर बस स्टैंड मुख्य मार्ग पर भी पुलिस द्वारा बार-बार मार्ग पर बेरीकेट्स लगाने से यातायात प्रभावित होता रहा जिसमें स्कूल बसों सहित अन्य वाहनों को परेशानी होती रही।

कहा-बिजली तुम जलाओ बिल मामा भरेगा- मुख्यमंत्री नेे कहा कि गरीबों के दिन बदलने वाले हैं। उन्हेें आवास के लिए नि:शुल्क पट्टा, पट्टा मकान, फ्री में बिजली सब प्रदेश सरकार देगी अब अमीरों एवं गरीबों के बीच कोई भेदभाव नहीं रहेगा। उन्होंने कहा कि सब बढ़े हुए बिजली बिल से परेशान थे इसलिए अब पुराने बिल माफ करते हुए नयी योजना के तहत बिल कम कर दिए गए हैं। बिजली जलाओ बिल मामा भरेगा।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned