script IT की रेड पड़ेगी तुम्हारे घर.. इनकम टैक्स का खौफ दिखाकर काम से बच रहे पुलिस, 35 लाख से अधिक की चोरी | Police avoid work fear of income tax, theft more than 35 lakhs | Patrika News

IT की रेड पड़ेगी तुम्हारे घर.. इनकम टैक्स का खौफ दिखाकर काम से बच रहे पुलिस, 35 लाख से अधिक की चोरी

locationभिलाईPublished: Nov 26, 2023 10:17:57 am

Submitted by:

Kanakdurga jha

Crime News : चोरी पर नियंत्रण करने में पुलिस सफल नहीं हो रही है।

इनकम टैक्स का खौफ दिखाकर काम से बच रहे पुलिस
इनकम टैक्स का खौफ दिखाकर काम से बच रहे पुलिस
भिलाई। Crime News : चोरी पर नियंत्रण करने में पुलिस सफल नहीं हो रही है। अब तो अपनी नाकामी छुपाने के लिए चोरी के मामलों पर एफआईआर करने में अनाकानी करने लगी है। यहां तक की शिकायत करने वालों को समझाती है कि चोरी का सामान कम बताओ, नहीं तो इनकम टैक्स का रेड पड़ सकता है।
इनकम टैक्स का भय दिखा कर पुलिस असल में अपनी नाकामी पर पर्दा डालना चाहती है। क्योंकि मशरूका कम लिखने से बड़ी चोरी भी छोटी मोटी साधारण चोरी लगेगी। इसका ताजा उदाहरण शुक्रवार को स्मृति नगर में हुई चोरी की बड़ी घटना है। इसमें चोरों ने करीब 35 लाख रुपए के जेवरात और नकदी चोरी कर ली। शिकायतकर्ता को इनकम टैक्स का भय दिखाकर चोरी का मशरूका कम दर्ज करवा लिया।
यह भी पढ़ें

CM भूपेश बघेल ने किया कार्तिक स्नान, महादेव घाट में लगाई डुबकी



स्मृति नगर में थाना से आधा किलोमीटर दूर स्थित त्रिवेणी नगर, सडक़-सी, प्लाट-22 निवासी सराफा व्यापारी अमन कुमार सांगाणी के घर पर 22 से 24 नवंबर के बीच चोरी हो गई। सांगाणी का पूरा परिवार वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल होने शिवनाथ नदी के पास रोमन पार्क गया था। दो दिन घर में ताला लगा हुआ था। 24 नवंबर को सुबह 11.50 बजे परिवार घर लौटा। तब चोरी का पता चला। मुख्य दरवाजे का ताला टूटा हुआ था। घर के सभी कमरे की आलमारियों के लॉकर टूटे मिले। सामान बिखरा पड़ा था। आलमारियों से पुस्तैनी इस्तेमाली सोने-चांदी के जेवर व बर्तन, हीरा, डायमंड की ज्वेलरी, विदेशी रकम समेत नकदी करीब 35 लाख चोरी हो गई थी।
पुलिस ने कहा, कम बताओ मशरुका वरना आईटी वाले करेंगे पूछताछ

अमन ने बताया कि घर में 35 लाख से अधिक की चोरी हुई है। शिकायत करने पर पुलिस कहने लगी कि मशरुका कम बताओ, वरना आईटी वाले जांच करने पहुंच जाएंगे। इस कारण 6 लाख की चोरी ही दर्ज कराया है। जबकि उन्होंने बताया कि हमारे परिवार के जेवर है, सभी एक नंबर में है। पुलिस पर भरोसा है जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तर कर लिए जाएंगे।
यह भी पढ़ें

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महादेव घाट में किया कार्तिक स्नान, प्रातः काल शिव पूजा कर लिया आशीर्वाद, देखें PHOTO'S



पकडऩा तो दूर चोरी की ऑडिट नहीं कर सकी पुलिस

15 अक्टूबर को स्मृति नगर थाना से एक किलोमीटर दूर पर सडक़-19, मकान-236 निवासी बालमुकुंद याग्यिक अपने परिवार के साथ ग्वालियर गए थे। काम करने वाली को घर की साफ-सफाई करना था। पड़ोसी के पास चाबी छोड़ गई थी। इनके परिवार के सदस्य विदेश में रहते हैं। घटना को 40 दिन बीत गए। चोरी के आरोपी नहीं पकड़ाए। स्मृति नगर प्रभारी कितनी चोरी हुई इसका ऑडिट तक नहीं कर सके।
डॉग स्क्वायड की नहीं ले रहे मदद
दुर्ग जिले में दो डॉग स्क्वाड हैं, जो कई बड़े मामले में पुलिस की मदद कर चुका है। अब उनकी आवश्यकता ही थानेदार नहीं समझतें। बड़ी-बड़ी चोरियों में भी उनकी अब मदद नहीं ली जा रही है।
बॉक्स
इन घरों में हुई चोरिया

जमापूंजी जोड़ कर बनाएं थे, घर से पूरे जेवरात पार
दुर्ग कोतावाली थाना अंर्तगत 22 नवंबर रात की घटना है। लुचकी पारा दुर्ग निवासी ने शिकायत की। तीन माले का उनका मकान है। आलमारी से सोने का मंगलसूत्र-5, अंगूठी-3, नाक कि फुल्ली-6, कान का टाप्स-3, कान लड़ी-1, मोती दाना-4, चांदी के जेवर में पायल-6 और नकदी पर चोरों ने हाथ साफ कर दिया।
कैमरे में कैद 12 लाख की चोरी के आरोपी, हाथ मल रही पुलिस
मोहन नगर थाना अंतर्गत सिकोलाभाठा के एक व्यापारी के सूने मकान में चोरी हुई। चोरों ने 12 लाख के जेवरात और नकदी पर हाथ साफ कर दिया। पुलिस जांच करने पहुंची। उनके हाथ आरोपियों के सीसीसटीवी फुटेज लगा। इसके बाद भी चोर नहीं पकड़ाए।
सूने मकान से लाखों की चोरी
जामुल थाना अंर्तगत 20 नवंबर को सुबह की घटना है। पूरा परिवार छठ पूजा कार्यक्रम में सम्मिलित होने हाउसिंग बोर्ड सूर्य कुण्ड तालाब गया था। तीन घंटे बाद जब परिवार लौटा तो घर से सोने-चादी के जावरात और नकदी 8 लाख की चोरी हो गई थी।
खरा नहीं उतर रही एसीसीयू

तात्कालीन डीजीपी ने क्राइम ब्रांच को भंग कर एसीसीयू (एंटी क्राइम एंड साइबर यूनिट) का गठन किया। इसका उद्देश्य यह बताया गया कि संपत्ति से संबंधित अपराध और गंभीर मामलों में यह यूनिट जांच करगी। यह यूनिट उम्मीदों पर खरा नहीं उतर रही है।
एसीसीयू के पास जंबो टीम
दुर्ग एसीसीयू के पास भारी भरकम टीम है। एएसपी, डीएसपी, दो निरीक्षक, दो एएसआई और प्रधान आरक्षक व आरक्षक समेत 65 से अधिक स्टॉफ है। यह टीम कुछ नहीं कर पा रही है।
आंकड़े जानिए क्या बयां कर रहे

25 दिन में 69 चोरी
नकबजनी- 26
साधारण चोरी- 12
वाहन चोरी- 27
लूट- 04

जनवरी से अब तक
नकबजनी- 315
साधारण चोरी-200
वाहन चोरी - 485
लूट व स्नेचिंग- 36

एसीसीयू का कमाल, जनवरी से अब तक
नकबजनी - 46
साधारण चोरी-21
वाहन चोरी- 20
लूट व स्नेचिंग-03

ट्रेंडिंग वीडियो