script5 thousand trucks full of wheat goods stuck at ports | गेहूं के एक्सपोर्ट पर बैन लगने से कारोबारियों को झटका, माल से भरे 5 हजार ट्रक बंदरगाहों पर अटके | Patrika News

गेहूं के एक्सपोर्ट पर बैन लगने से कारोबारियों को झटका, माल से भरे 5 हजार ट्रक बंदरगाहों पर अटके

संगठन ने घोषणा की है कि, गेहूं निर्यात पर प्रतिबंध के खिलाफ राज्य की सभी 270 कृषि उपज मंडियों में मंगलवार और बुधवार को कारोबार नहीं होगा।

भोपाल

Updated: May 16, 2022 04:54:29 pm

भोपाल. केंद्र सरकार द्वारा गेंहू के एक्सपोर्ट पर अचानक लगाए गए प्रतिबंध को लेकर मध्य प्रदेश कारोबारी संगठन में नाराजगी देखी जा रही है। संगठन ने सोमवार को सरकार के फैसले की आलोचना करते हुए कहा कि, अचानक लिए गए इस फैसले से प्रदेश के कारोबारियों को खासा नुकसान हो रहा है। करीब 5000 ट्रक देश के 2 बड़े बंदरगाहों पर अटक गए हैं।

News
गेहूं के एक्सपोर्ट पर बैन लगने से कारोबारियों को झटका, माल से भरे 5 हजार ट्रक बंदरगाहों पर अटके

आपको बता दें कि, सरकार के फैसले के विरोध में आए व्यापारी संगठन ने पांच हजार से अधिक ट्रकों के जरिए गेहूं की बड़ी खेप निर्यात के लिए बंदरगाहों तक पहुंचा दी थी, ताकि इन्हें विदेशों में बेचा जा सके। संगठन ने घोषणा की है कि, गेहूं निर्यात पर प्रतिबंध के खिलाफ राज्य की सभी 270 कृषि उपज मंडियों में मंगलवार और बुधवार को कारोबार नहीं होगा।

यह भी पढ़ें- धर्मांतरण मामले पर सख्त हुई सरकार, इन स्कूलों पर अब नजर रखेगी इंटेलिजेंस

अटक गए निर्यात सौदे

मध्य प्रदेश सकल अनाज दलहन तिलहन व्यापारी महासंघ समिति के अध्यक्ष गोपालदास अग्रवाल ने न्यूज एजेंसी से कहा कि, 'केंद्र सरकार की तरफ से गेहूं निर्यात पर अचानक प्रतिबंध लगाए जाने से राज्य के व्यापारियों द्वारा भेजे गए करीब 5,000 ट्रक कांडला और मुंबई के बंदरगाहों पर खड़े हैं और उनमें लदी गेहूं की बड़ी खेप का एक्सपोर्ट नहीं हो पा रही है।' 'उन्होंने ये भी कहा कहा कि, प्रदेश सरकार ने इस बार गेहूं निर्यात के लिए व्यापारियों को खूब प्रोत्साहित किया था, जिसके बाद उन्होंने न्यूनतम समर्थन मूल्य से ऊंची कीमतों पर किसानों से जमकर गेहूं खरीदा, लेकिन अब केंद्र सरकार द्वारा रोक लगाए जाने की वजह से बड़े पैमाने पर सौदे अटक गए हैं।


केंद्र सरकार ने लगाया एक्सपोर्ट पर बैन

आपको बता दें कि, भीषण गर्मी और लू की वजह से गेहूं उत्पादन प्रभावित होने की चिंताओं के बीच भारत ने अपने इस प्रमुख खाद्यान्न की कीमतों में आई भारी तेजी पर अंकुश लगाने के मकसद से गेहूं के निर्यात पर रोक लगाई है। सरकार का कहना है कि, पड़ोसी और कमजोर देशों की खाद्यान्न आवश्यकता को पूरा करने के अलावा इस फैसले से गेहूं और आटे की खुदरा कीमतों को नियंत्रित करने में मदद मिलेगी जो पिछले एक साल में करीब 20 फीसदी तक बढ़ गई है।

दूल्हे के हर्ष फायर का वीडियो वायरल, देखें वीडियो

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

बीईओ का रिटायर्ड शिक्षक से रिश्वत मांगने का ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल, 60 हजार की थी डिमांडMumbai Rain: IMD की बड़ी भविष्यवाणी, मुंबई में अगले 24 घंटे में मूसलाधार बारिश होने की संभावनाIND vs ENG: Virat Kohli की खराब फॉर्म इंग्लैंड में भी जारी, 4 मैच खेलने वाले गेंदबाज ने किया आउट, देंखे विडियोMumbai News Live Updates: सीएम एकनाथ शिंदे ने कहा- भारी बारिश से जनता को कोई नुकसान न हो, इसके लिए टीम अलर्ट हैनूपुर शर्मा केस: कांग्रेस बोली- BJP सरकार को मांगनी चाहिएMaharashtra Politics: बीजेपी नेता राहुल नार्वेकर ने विधानसभा स्पीकर के लिए दाखिल किया नामांकन, 3 जुलाई को होगा चुनावRajasthan Monsoon Update: सात जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, यहां झूम के बरसे बादलIndian Railway: अब सभी ट्रेनों में जनरल कोच शुरू
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.