script8 questions were asked for the first time from Material Science | मटेरियल साइंस से पहली बार 8 प्रश्न पूछे गए, इस बार इंजीनियरिंग सर्विसेज में कड़ा होगा मुकाबला | Patrika News

मटेरियल साइंस से पहली बार 8 प्रश्न पूछे गए, इस बार इंजीनियरिंग सर्विसेज में कड़ा होगा मुकाबला

18 सेंटर्स पर हुई इंजीनियरिंग सर्विसेज प्रीलिम्स, 2631 प्रतिभागी हुए शामिल

भोपाल

Published: July 18, 2021 11:53:53 pm

भोपाल। संघ लोक सेवा आयोग की ओर से इंजीनियरिंग सेवा की प्रीलिम्स परीक्षा-2021 रविवार को आयोजित की गई। हालांकि, कोविड-19 संक्रमण के हालातों को देखते हुए प्रतिभागियों ने आयोग से परीक्षा स्थगित करने की मांग की थी। शहर के 18 सेंटर्स पर 2631 प्रतिभागियों ने परीक्षा दी जबकि इसके लिए करीब 6626 ने फॉर्म भरा था। राजस्व उपायुक्त संजू कुमारी ने बताया कि किसी भी प्रतिभागी के कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी नहीं मिली। रविवार को हुई परीक्षा का प्रतिशत 39.7 फीसदी रहा है। इस परीक्षा में पूरे प्रदेश के प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। अनलॉक की स्थिति के बाद पब्लिक ट्रांसपोर्ट संचालित हो रहे हैं, ऐसे में सभी अपने साधनों से ही सेंटरों तक पहुंचे। परीक्षा दो पालियों में सुबह-9 से 12 और दोपहर-2 से 5 बजे तक आयोजित की गई। यह परीक्षा कुल 215 पदों के लिए हुई। 10 अक्टूबर को मैन्स की परीक्षा आयोजित की जाएगी। यह परीक्षा हर साल जनवरी में आयोजित की जाती है, लेकिन कोरोना के चलते पोस्टपोन होते हुए यह अब हो पाई है।

मटेरियल साइंस से पहली बार 8 प्रश्न पूछे गए, इस बार इंजीनियरिंग सर्विसेज में कड़ा होगा मुकाबला
मटेरियल साइंस से पहली बार 8 प्रश्न पूछे गए, इस बार इंजीनियरिंग सर्विसेज में कड़ा होगा मुकाबला
मटेरियल साइंस से पहली बार 8 प्रश्न पूछे गए, इस बार इंजीनियरिंग सर्विसेज में कड़ा होगा मुकाबला

परीक्षा में नहीं किया गया बदलाव
मैड ईजी के सेंटर हेड विजय तिवारी ने बताया कि पहले सत्र में ईएसई-1 का 200 नम्बर का पेपर हुआ। इसमें 10 टॉपिक्स से प्रश्न पूछे जाते हैं। इसमें 8 इंजीनियरिंग सर्विसेज के, एक इंजीनियरिंग मैथेमेटिक्स का और एक रीजनिंग एण्ड एप्टीट्यूड का विषय होता है। इस बार एनर्जी एनवायरमेंट से 4 प्रश्न पूछे गए, जबकि मटेरियल साइंस से 8 प्रश्न आए। ऐसा पहली बार हुआ है क्योंकि हर बार मटेरियल साइंस से एक या दो प्रश्न ही आते हैं। ये सब्जेक्ट ईसी और इलेक्ट्रीकल इंजीनियरिंग करने वाले स्टूडेंट्स ही पढ़ते हैं, तो उन्हें प्रश्न हल करने में आसानी हुई जबकि मैकेनिकल और सिविल स्टूडेंट्स के लिए यह पोर्शन टफ हो गया। कुल मिलाकर पेपर मॉडरेट रहा। दूसरे सत्र में इंजीनियरिंग की चारों ब्रांच के अलग-अलग सब्जेक्टिव पेपर हुए, पेपर-2 हर साल की तरह ही एवरेज था। कोरोना के चलते इस बार परीक्षा में किसी तरह का बदलाव नहीं किया गया है।

वैकेंसी हुई कम
पिछले साल सिविल इंजीनियरिंग का कट ऑफ 230 था जो इस साल 240 तक जाएगा। मैकेनिकल का भी 260 से बढ़कर 265 तक कटऑफ रहेगा। तिवारी के अनुसार इसी परीक्षा से रेलवे में भी भर्ती की जाती थी, पिछले साल आइआरएमएस के माध्यम से रेलवे में भर्ती की घोषणा की गई थी, लेकिन अब तक वैकेंसी नहीं निकाली गई।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Health Tips: रोजाना बादाम खाने के कई फायदे , जानिए इसे खाने का सही तरीकाCash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतSchool Holidays in January 2022: साल के पहले महीने में इतने दिन बंद रहेंगे स्कूल, जानिए कितनी छुट्टियां हैं पूरे सालVideo: राजस्थान में 28 जनवरी तक शीतलहर का पहरा, तीखे होंगे सर्दी के तेवर, गिरेगा तापमानJhalawar News : ऐसा क्या हुआ कि गुस्से में प्रधानाचार्य ने चबाया व्याख्याता का पंजामां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतAaj Ka Rashifal - 24 January 2022: कुंभ राशि वालों की व्यापारिक उन्नति होगीMaruti की इस सस्ती 7-सीटर कार के दीवाने हुएं लोग, कंपनी ने बेच दी 1 लाख से ज्यादा यूनिट्स, कीमत 4.53 लाख रुपये

बड़ी खबरें

Punjab Election 2022: गठबंधन के तहत BJP 65 सीटों पर लड़ेगी चुनाव, जानिए कैप्टन की PLC और ढींढसा को क्या मिलाराष्ट्रीय वीरता पुरस्कार के विजेताओं से पीएम मोदी ने किया संवाद, 'वोकल फॉर लोकल' के लिए मांगी बच्चों की मददब्रेंडन टेलर का खुलासा, इंडियन बिजनेसमैन ने किया ब्लैकमेल; लेनी पड़ी ड्रग्ससंसद में फिर फूटा कोरोना बम, बजट सत्र से पहले सभापति नायडू समेत अब तक 875 कर्मचारी संक्रमितकर्नाटक में कोविड के 50 हजार नए मामले आने के बाद भी सरकार ने हटाया वीकेंड कर्फ्यू, जानिए क्या बोले सीएमकोरोना से ठीक होने के बाद ऐसे रखें अपने सेहत है ख्यालUP election 2022 - सपा ने जारी की विधानसभा प्रत्याशियों की सूचीएनएफएसयू का साइबर डिफेंस सेंटर अब आईएसओ-आईसी प्रमाणित, बनी देश की पहली लैब
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.