लोकसभा में हार के बाद कमलनाथ और गहलोत ने की थी इस्तीफे की पेशकश, अब राहुल गांधी को करना है फैसला

  • लोकसभा चुनाव में हार की जिम्मेदारी कमलनाथ ने ली है।
  • राहुल गांधी से मुलाकात के बाद कमल नाथ मे केन्द्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से भी मुलाकात की थी।
  • कांग्रेस शासित सभी राज्यों के सीएम ने राहुल गांधी को मनाने की कोशिश की।

By: Pawan Tiwari

Published: 02 Jul 2019, 10:03 AM IST

नई दिल्ली/भोपाल. मुख्यमंत्री कमल नाथ ( Kamal Nath ) के साथ कांग्रेस शासित राज्यों के सीएम ने सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष ( Congress ) राहुल गांधी ( Rahul Gandhi ) से मुलाकात की। इस दौरान राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने से मनाने की कोशिश की गई। वहीं, राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ( Ashok Gehlot ) ने कहा कि लोकसभा चुनाव के नजीते आने के बाद ही मध्यप्रदेश के सीएम कमल नाथ और मैंने इस्तीफे की पेशकश की थी।

 

फैसला पार्टी को करना है
अशोक गहलोत ने कहा- मुख्यमंत्रियों के इस्तीफे की पेशकश पर क्या फैसला लिया जाना है? यह हाईकमान को तय करना है। उन्होंने कहा कि हमने राहुल से अध्यक्ष पद पर बने रहने की अपील की है। हमें उम्मीद है कि वे हमारी अपील पर ध्यान देंगे। इसके साथ ही गहलोत ने पीएम मोदी ( pm modi ) पर भी उन्होंने निशाना साधा। पीएम मोदी पर हमला करते हुए गहलोत ने कहा- सत्ता पक्ष ने देश को राष्ट्रभक्ति के नाम पर भ्रमित किया। मोदी जी ने सेना के पीछे छिपकर राजनीति की। लोगों को धर्म के नाम पर भटकाया। राहुल गांधी ने जिस तरह से चुनाव कैंपेन किया उसकी लोगों ने सराहना की है।


कमलनाथ ने की थी इस्तीफे की पेशकश
कमल नाथ मध्यप्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष भी हैं। उन्होंने पहले भी कहा था कि सत्ता और संगठन का काम एक साथ नहीं किया जा सकता है इसलिए वो कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा देना चाहते हैं। हालांकि लोकसभा चुनाव तक उन्हें पार्टी अध्यक्ष बनाए रखे जाने का फैसला किया गया था।

 

 

कमलनाथ ने ली है जिम्मेदारी
राहुल गांधी के बयान के बाद मध्यप्रदेश के सीएम कमलनाथ ने प्रदेश में हार की जिम्मेदारी ली है। साथ ही उन्होंने कहा था कि मैंने लोकसभा चुनाव के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद छोड़ने की बात कह दी थी। उसके बाद उन्होंने अध्यक्ष पद छोड़ने की पेशकश फिर से की। मध्यप्रदेश की 29 लोकसभा सीटों में से कांग्रेस को केवल एक सीट पर जीत मिली है।

 

दीपक बाबरिया ने भी दे दिया है इस्तीफा
मध्यप्रदेश कांग्रेस के प्रभारी दीपक बाबरिया ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। दीपक बाबरिया मध्यप्रदेश कांग्रेस के प्रभारी तो थे ही, साथ में वह कांग्रेस के महासचिव भी थे। साथ ही दीपक बाबरिया ने प्रदेश में हार की भी जिम्मेदारी ली है।

 

इन राज्यों के सीएम मिले राहुल गांधी
मध्यप्रदेश के सीएम कमलनाथ, पंजाब के कैप्टन अमरिंदर सिंह, राजस्थान के अशोक गहलोत, छत्तीसगढ़ के भूपेश बघेल, पुडुचेरी के वी नारायणस्वामी कांग्रेस अध्यक्ष से मिलने उनके आवास पहुंचे। वहां घंटों कांग्रेस शासित राज्यों के सीएम के साथ राहुल गांधी ने चर्चा की।

Congress Kamal Nath pm modi
Show More
Pawan Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned