script करीब पांच सौ विद्यार्थियों का बीएड कोर्स 6 माह पिछड़ा, नहीं हुई परीक्षा | B.Ed course of about five hundred students lagged behind by 6 months.. | Patrika News

करीब पांच सौ विद्यार्थियों का बीएड कोर्स 6 माह पिछड़ा, नहीं हुई परीक्षा

locationभोपालPublished: Dec 29, 2023 09:14:09 pm

- भोज विवि प्रबंधन को सौ से अधिक ई-मेल भेज विद्यार्थियों ने की शिकायत

करीब पांच सौ विद्यार्थियों का बीएड कोर्स 6 माह पिछड़ा, नहीं हुई परीक्षा
करीब पांच सौ विद्यार्थियों का बीएड कोर्स 6 माह पिछड़ा, नहीं हुई परीक्षा
भोपाल. भोज विश्वविद्यालय से बीएड कर रहे विद्यार्थियों का पाठ्यक्रम करीब छह माह पिछड़ गया है। दिसम्बर में खत्म होने वाली परीक्षा का विश्वविद्यालय ने अब तक आयोजन ही नहीं कराया। इसके संबंध में करीब छात्रों ने कुलपति से शिकायत की है। इस देरी केे कारण कई विद्यार्थियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। मामले में विश्वविद्यालय प्रशासन ने बताया कि जल्द परीक्षा कराने की तैयारी की जा रही है।
राजाभोज विश्वविद्यालय से बीएड के पाठ्क्रम में करीब पांच सौ विद्यार्थियों ने प्रवेश लिया है। ये विद्यार्थी प्रदेश सहित देश के कई राज्यों से हैं। पाठ्यक्रम की अवधि 2021 से लेकर जून 2024 तक है। विश्वविद्यालय को दिसम्बर में इनकी परीक्षा का आयोजन करना था। ढाई साल का है पाठ्यक्रम भोज विश्वविद्यालय से संचालित बीएड पाठ्यक्रम ढाई साल का है। जिम्मेदारों ने बताया कि सामान्य बीएड की अवधि दो साल होती है जबकि ओपन से होने वाला यह कोर्स ढाई साल का होता है। इसके लिए परीक्षा जनवरी-फरवरी तक कराने की बात कही जा रही है। ऐसे में इस साल कोर्स पूरा होगा।
देशभर से विद्यार्थी हैं इसमें शामिल

भोज ओपन यूनिवर्सिटी के पाठ्यक्रम में भोपाल और आसपास के जिलों के अलावा राजस्थान, दिल्ली, चंडीगढ़, छत्तीसगढ़ सहित कई राज्यों के विद्यार्थी हैं। इन्होंने बताया कि परीक्षा तारीख के संबंध में कई बार विवि प्रबंधन से पूछ चुके हैं। ओपन कोर्स में अधिकांश छात्र यहां से सैकड़ों किमी दूर है। देरी के कारण इन्हें परेशानी हो रही है। यहां आना उन्हें भारी पड़ रहा है। विद्यार्थी सोशल मीडिया से आपस में जुड़े हैं।
जल्द परीक्षा हो तो मिले राहत:
इस मामले में विद्यार्थी तेजमल लोवंशी सहित कई विद्यार्थियों ने बताया कि देरी के कारण कई विद्यार्थियों का भविष्य खराब हो सकता है। दिसम्बर में होने वाली परीक्षा नहीं कराई गई हैं। विद्यार्थी परेशान हो रहे हैं। विकास गोस्वामी, सर्वेश सहित दर्जनों विद्यार्थियों ने जल्द कोर्स पूरा कराने की मांग की है। विद्यार्थियों ने बताया कि ओपन से परीक्षा देने में उम्र का बंधन नहीं है। कई विद्यार्थी हैं जो शिक्षक बनने की आस में बीएड कर रहे हैं। देरी के कारण नौकरी के लिए ओवर ऐज होने का खतरा इन्हें सता रहा है।
--------
आचार संहिता के कारण बीच में कुछ रूकावट आई है। लेकिन अब स्थिति सुधार ली गई हैं। पाठ्यक्रम प्रक्रिया में है। कोशिश है तय हुई समय सीमा में विद्यार्थियों का बीएड पूरा करा लिया जाएगा।
डॉ. संजय तिवारी, कुलपति भोज विश्वविद्यालय

ट्रेंडिंग वीडियो