MP में चयनित शिक्षकों के लिये खुशखबरी : 1 अप्रैल से फिर शुरू होगा दस्तावेजों का सत्यापन

करीब डेढ़ साल से अपनी भर्ती का इंतजार देख रहे उम्मीदवारों के दस्तावेजों का सत्यापन 1 अप्रैल से दौबारा शुरु कर दिया जाएगा।

By: Faiz

Published: 08 Mar 2021, 09:58 PM IST

भोपाल/ लंबे इंतजार के बाद मध्य प्रदेश में शिक्षक भर्ती परीक्षा पास करने वाले चयनित शिक्षकों के लिये खुशखबरी सामने आई है। करीब डेढ़ साल से अपनी भर्ती का इंतजार देख रहे उम्मीदवारों के दस्तावेजों का सत्यापन 1 अप्रैल से दौबारा शुरु कर दिया जाएगा। स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री इंदर सिंह परमार के निर्देश पर में लोक शिक्षण संचालनालय की ओर से सोमवार को इस संबंध में गाइडलाइन जारी की गई है।

पढ़ें ये खास खबर- महिला दिवस विशेष : CM शिवराज पत्नी साधना के साथ पहुंचे दीदी कैफे, स्‍वादिष्‍ट व्‍यंजन देखकर बोले- यहीं भोजन करेंगे


इस तरह आवेदक करा सकेंगे दस्तावेज सत्यापन

उच्च माध्यमिक शिक्षक एवं माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा की चयन सूची/प्रतीक्षा सूची जारी कर दी गई था, लेकिन कोरोना संक्रमण को देखते हुए 4 जुलाई 2020 में सत्यापन कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया था। मंत्री परमार के मुताबिक, इच्छुक आवेदक उच्च माध्यमिक शिक्षक 1 अप्रैल और माध्यमिक शिक्षक के 15 अप्रैल से दस्तावेज सत्यापन की कार्यवाही करा सकते हैं। आपको बता दें कि, प्रदेशभर में इस सत्र के 30 हजार से अधिक चयनित शिक्षकों के पद भरे जाने हैं।

news

15 हजार पदों के लिए 1 जुलाई 2020 को शुरू हुई थी प्रक्रिया

लोक शिक्षण संचालनालय की ओर से उच्च माध्यमिक शिक्षक भर्ती के 15 हजार पदों के पर 1 जुलाई 2020 से सत्यापन प्रक्रिया शुरू की गई थी, लेकिन कोरोना काल के चलते बंद रहीं परिवहन व्यवस्था का हवाला देते हुए इस प्रक्रिया शुरु होने के तीन दिन बाद ही रोक दिया गया। आदिम जाति कल्याण विभाग ने भी उच्च माध्यमिक शिक्षक 2220 का पूरा शेड्यूल जारी कर दिया था, लेकिन ये प्रक्रिया भी रोक दी गई। इसके बाद उम्मीदवारों ने अलग अलग ढंग से जिला स्तर पर कई आंदोलन किये। इनमें मुख्य रूप से आवेदकों द्वारा प्रदेशभर के कलेक्ट्रेट में भर्ती प्रक्रिया शुरू कराने का अभियान चलाया गया।

 

सितंबर 2018 में भर्ती का नोटिफिकेशन हो चुका

शिक्षक भर्ती के लिए चयनित उम्मीदवारों के मुताबिक, सितंबर 2018 में भर्ती का नोटिफिकेशन जारी किया जा चुका है। परीक्षा समय पर नहीं हुई, तो उम्मीदवारों ने धरना प्रदर्शन किया। इसके परिणाम स्वरूप करीब 6 माह बाद यानी फरवरी-मार्च 2019 में प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड (PEB) द्वारा पात्रता परीक्षा कराई गई। इसके बाद लोकसभा चुनाव का नाम लेकर सरकार द्वारा 6 माह तक एक बार फिर रिजल्ट अटका रहा। उच्च माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा का रिजल्ट 28 अगस्त 2019 को आया और माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा का रिजल्ट 26 अक्टूबर 2019 को आया। अब रिजल्ट आए हुए भी एक साल से ज्यादा बीत चुका है।

 

पत्रिका समूह के स्थापना दिवस पर हुआ आयोजन - video

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned