लॉकडाउन में भी खुले कर चोरी के रास्ते, 11 गाडिय़ां जब्त

bikaner news - 11 vehicles after completely exhausted

By: Jaibhagwan Upadhyay

Updated: 28 May 2021, 06:02 PM IST

राज्य कर विभाग ने वसूला आठ लाख रुपए का जुर्माना
बीकानेर.
कर चोरी में लिप्त गिरोह लॉकडाउन को भी अवसर के रूप में देख रहे हैं। जिला पुलिस प्रशासन की ओर से स्थापित की गई चौकियों ने जिन वाहनों को अनुमत श्रेणी के मानकर छोड़ दिया था, वे कर चोरी का परिवहन करते पकड़ी गई। राज्य कर विभाग के अधिकारियों ने पिछले पन्द्रह दिनों में ऐसे ग्यारह वाहनों को जब्त किया है, जो अनुमत श्रेणी की आड़ में कर के माल का परिवहन कर रही थी।

राज्य कर विभाग के अतिरिक्त आयुक्त हरिसिंह चारण के निर्देशन में ऐसे वाहनों के खिलाफ कार्रवाई कर मोटा राजस्व वसूला गया है। चारण ने बताया कि एक ओर जहां लॉकडाउन में पूरा बाजार बंद है, वहीं कुछ गिरोह कर चोरी कर सरकार को राजस्व नुकसान पहुंचा रहे थे। उन्होंने बताया कि उन लोगों ने लॉकडाउन की आड़ में कर चोरी के माल का परिवहन करना शुरू कर दिया था। वे माल की खरीद कर सीधे औद्योगिक इकाइयों में खाली कर रहे थे।


ऐसे आए पकड़ में
राज्यकर विभाग के अतिरिक्त आयुक्त (प्रशासन) हरि सिंह चारण ने बताया कि विभाग को जब खबर लगी कि कुछ गिरोह लॉकडाउन को सेवा के रूप में काम न लेकर अवसर के रूप में काम ले रहे हैं तो एक विशेष टीम का गठन किया गया। इस टीम ने औद्योगिक इकाइयों व आदतन कर चोरी में लिप्त औद्योगिक इकाइयों पर नजर रखनी शुरू कर दी। वहीं राजमार्गों और औद्योगिक क्षेत्रों में परिवहन करने वाले औद्योगिक वाहनों पर विशेष नजर रखी जाने लगी तो कर चोरी में लिप्त वाहनों के पकड़ में आने का सिलसिला भी शुरू हो गया।


ग्यारह वाहन जब्त
विभाग के सहायक आयुक्त ओम प्रकाश गोदारा ने बताया कि विभाग के अतिरिक्त आयुक्त के निर्देशानुसार पिछले 15 दिनों में ग्यारह वाहनों को जब्त कर आठ लाख रुपए का जुर्माना वसूला गया है। जब्त किए गए वाहनों में सरसों, मैथी व खाद्य तेल के सबसे अधिक वाहन थे। गोदारा ने बताया कि अधिकतर वाहन सेवा की आड़ में कर चोरी के माल का परिवहन कर रहे थे।

उन्होंने बताया कि पूर्व में भी विभाग ने दर्जनों वाहनों को जब्त कर लाखों रुपए का जुर्माना वसूला है। स्पेशल टीम में राज्यकर अधिकारी परमेन्द्र सिंह भाटी का भी विशेष सहयोग रहा। राज्य कर विभाग के अतिरिक्त आयुक्त चारण के अनुसार कर चोरी के माल का परिवहन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई का सिलसिला लगातार जारी रहेगा।

Jaibhagwan Upadhyay Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned