scriptBikaner Foundation Day | पन्द्रह सौ पैतालवें सुद बैसाख सुमेर, थावर बीज थरपियो बीके बीकानेर | Patrika News

पन्द्रह सौ पैतालवें सुद बैसाख सुमेर, थावर बीज थरपियो बीके बीकानेर

बीकानेर नगर स्थापना दिवस आज -उड़ेगा चंदा, होगी पतंगबाजी, घर-घर बनेगा खीचड़ा इमलाणी

नगर संस्थापक राव बीका का होगा स्मरण

नगर की प्रतिभाओं का होगा सम्मान

बीकानेर

Published: May 02, 2022 08:49:03 am

बीकानेर. बीकानेर नगर का 534 वां स्थापना दिवस सोमवार को धूमधाम से मनाया जाएगा। घर-घर में मिट्टी से बनी पानी की मटकियों का पूजन होगा। गेंहू, बाजरा और मूंग से बने खीचड़ा और इमलाणी ज्यूस का भोजन होगा। परम्परानुसार चंंदा उड़ाकर नगर की खुशहाली की कामना की जाएगी। आखाबीज और आखातीज पर दो दिनों तक शहर में पतंगबाजी का दौर चलेगा। जूनागढ़ के आगे राव बीका की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं पुष्प अर्पित कर नगर संस्थापक को याद किया जाएगा। इस अवसर पर नगर की प्रतिभाओं का सम्मान किया जाएगा।

पन्द्रह सौ पैतालवें सुद बैसाख सुमेर, थावर बीज थरपियो बीके बीकानेर
पन्द्रह सौ पैतालवें सुद बैसाख सुमेर, थावर बीज थरपियो बीके बीकानेर

हर तरफ गूंजेगा बोई काट्या के स्वर

नगर स्थापना दिवस पर शहर में आखाबीज और आखातीज को जमकर पतंगबाजी का दौर चलेगा। बच्चों से बुजुर्गाे तक और युवतियां व महिलाएं पतंगबाजी कर नगर स्थापना दिवस की खुशियां प्रकट करेंगी। स्थापना दिवस पर हर घर की छत पर पतंगबाजों की मंडलिया सुबह से शाम तक पतंगबाजी में मशगूल रहे। पतंगों के कटने और काटने के दौर बोई काट्या है, फेर उड़ा के स्वर गूंजते रहेंगे। पतंगबाजी के लिए घरों की छतों पर धूप से बचाव के लिए टैंट, माइक आदि की व्यवस्थाएं की गई है। पतंगबाजी के साथ खान-पान के भी दौर चलेंगे।

देर रात तक होती रही पतंग मांझा की बिक्री

नगर स्थापना दिवस पर होने वाली पतंगबाजी को लेकर शहर में पतंग-मांझा की दुकानों पर रविवार को देर रात तक खरीदारी चलती रही। बच्चों से बुजुर्गो तक ने पतंगबाजी के लिए पतंग-मांझा की खरीदारी की। पुराने शहर के गली-मौहल्लों से लेकर शहर के मुख्य बाजारों, परकोटा क्षेत्र से बाहरी क्षेत्रों व कॉलोनियों आदि में संचालित पतंग मांझों की दुकानों पर पतंग, माझां, लटाईया आदि की बिक्री चलती रही।

मिट्टी के बर्तनों की खरीदारी

नगर स्थापना दिवस पर हर घर में पानी की मटकी का पूजन होगा व हांडी में इमलाणी तैयार की जाएगी। स्थापना दिवस को लेकर शहर के विभिन्न बाजारों में मिट्टी से बनी मटकियां, हांडी, लोटड़ी, ढक्कनी, सर्वा आदि की बिक्री परवान पर रही। बड़ा बाजार, सार्दुल सिंह सर्कल, जस्सूर गेट, गंगाशहर सहित विभिन्न क्षेत्रों में दिनभर मिट्टी के बर्तनों की खरीदारी चलती रही। वहीं परचून की दुकानों पर गेंहू, बाजरा का खीचडा, मूंग, देशी घी, कालीमिर्च, इलायची, काचरी, बडी आदि की खरीदारी हुई।

जूनागढ़ में उड़ेगा चंदा

नगर स्थापना दिवस पर शहर में विभिन्न स्थानों पर चंदा उड़ाने की परम्परा का निर्वहन किया जाएगा। कीकाणी व्यास चौक, लाली बाई वाटिका के पास, भट्ठडों का चौक सहित विभिन्न स्थानों पर चंदा उड़ाया जाएगा। जाझ़ो ब्रिगेड व महाराजा रायसिंह ट्रस्ट की ओर से नगर स्थापना दिवस पर सुबह 10 बजे जूनागढ़ परिसर में चंदा महोत्सव का आयोजन किया जाएगा। अनिल कुमार बोडा के अनुसार चंदा उड़ाने से पहले चंदा पूजन होगा। विभिन्न प्रकार के दोहे और संदेश लिखे चंदा उड़ाकर नगर की खुशहाली की कामना की जाएगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Mann Ki Baat: पीएम मोदी आज 11 बजे राष्ट्र को संबोधित करेंगे, इन मुद्दों पर हो सकती हैं चर्चाब्राजील में लैंडस्लाइड और बाढ़ से 31 की मौत, हजारों लोग हुए बेघरIPL 2022 के समापन समारोह में Ranveer Singh और AR Rahman बिखेरेंगे जलवा, जानिए क्या कुछ खास होगाभारत बन सकता है Vehicle Scrapping का हब, हर जिले में शुरू होंगे 2 से 3 व्हीकल स्क्रैपेज सेंटर : नितिन गडकरीMonkeypox Spreading Reason: मंकीपॉक्स के मरीज के कपड़े और टॉवल से भी फैल सकते हैं वायरस, जानिए कैसे करें बचावमुसलमानों के खिलाफ नफरत फैलाने वाले लोगों की रक्षा कर रही है बीजेपी सरकार: जमीयत उलमा-ए-हिंदनाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मई
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.