scriptBikaner in top ten in district ranking of Samagra Shiksha Abhiyan | समग्र शिक्षा अभियान की जिला रैंकिंग में बीकानेर टॉप टेन में | Patrika News

समग्र शिक्षा अभियान की जिला रैंकिंग में बीकानेर टॉप टेन में

bikaner news - Bikaner in top ten in district ranking of Samagra Shiksha Abhiyan

बीकानेर

Published: July 29, 2021 08:31:02 pm

बीकानेर.
राजस्थान स्कूल शिक्षा परिषद द्वारा हाल ही में जारी जिला रैकिंग में बीकानेर ने प्रदेश के टॉप टेन जिलों में स्थान हासिल किया है। कोरोना काल से पूर्व जिला इस रैकिंग में 18वें नंबर पर था, जबकि अब इसमें आठ स्थानों का सुधार हुआ है।
समग्र शिक्षा अभियान की जिला रैंकिंग में बीकानेर टॉप टेन में
समग्र शिक्षा अभियान की जिला रैंकिंग में बीकानेर टॉप टेन में
अतिरिक्त जिला कलक्टर बलदेवराम धोजक की अध्यक्षता में राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान की समीक्षा बैठक में अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक शिक्षा हेतराम सारण ने यह जानकारी दी। अतिरिक्त जिला कलक्टर धोजक ने कोरोना काल में विद्यालयों के बंद रहते विद्यार्थियों की शिक्षण व्यवस्था के बारे में जानकारी ली और निर्देश दिए कि आओ घर से सीखें, शिक्षा दर्शन, शिक्षावाणी, ई-कक्षा, मिशन समर्थ आदि कार्यक्रमों के माध्यम से बच्चों के अध्ययन-अध्यापन की नियमित मॉनिटरिंग की जाए। उन्होंने विद्यार्थियों को घर पर डिजिटल माध्यम से स्टडी मेटिरियल देने की समीक्षा की और निर्देश दिए कि सभी विद्यार्थियों तक स्टडी मेटिरियल पहुंचना सुनिश्चित किया जाए।
विद्युत कनेक्शन से वंचित विद्यालयों में कनेक्शन करवाना सुनिश्चित किया जाए। समग्र शिक्षा अभियान के तहत विद्यालयों में कक्षा-कक्षों व अन्य निर्माण कार्यों की समीक्षा की और निर्देश दिए कि सभी निर्माण कार्य निर्धारित अवधि में गुणवत्तापूर्वक पूरे होने चाहिए। निर्माण कार्यों की गुणवत्ता की जांच भी की जाए। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक एलडी पंवार ने बताया कि जिले में 6 हजार 991 विधवा पेंसनर्स में से 3 हजार 124 महिला पालनहार से जुड़ी है। शेष 3 हजार 867 विधवा की पालनहार पात्रता की जांच करते हुए पात्र महिलाओं को इससे जोडऩे की बात कही। वहीं मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी राज कुमार शर्मा ने जिले की स्कूलों में पौधा रोपण कार्यक्रम की जानकारी दी और बताया कि जिला कलक्टर के निर्देश पर सभी स्कूलों में एक साथ पौधारोपण किया जाना है।

बैठक में अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक समग्र शिक्षा हेतराम सारण ने जिला परिषद के माध्यम से टॉयलेट विहीन विद्यालयों में शौचालय निर्माण, विद्यालयों की चारदीवारी निर्माण, खेल मैदान बनाए जाने की आवश्यकता जताई। इस पर अतिरिक्त जिला कलक्टर ने निर्देश दिए संस्था प्रधान इस संबंध में अपनी ग्राम पंचायत के माध्यम से जिला परिषद को प्रस्ताव भिजवाएं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

2 बच्चों के पिता और 47 साल के मर्द पर फ़िदा है ‘पुष्पा’ की 25 साल की एक्ट्रेस, जाने कौन है वोशादी के बाद पत्नी का ये रुप देखकर बढ़ गई पति और ससुर की टेंशन, जान बचाने थाने भागे100-100 बोरी धान लेकर पहुंचे थे 2 किसान, देखते ही कलक्टर ने तहसीलदार से कहा- जब्त करोNew Maruti Wagon R : अनोखे अंदाज में आ रही है आपकी फेवरेट कार, फीचर्स होंगे ख़ास और मिलेगा 32Km का माइलेज़फरवरी में मकर राशि में ग्रहों का महासंयोग, मेष से लेकर मीन तक इन राशियों को मिलेगा लाभMaruti Brezza CNG इस महीने होगी लॉन्च, नए नाम के साथ मिलेगा 26Km से ज्यादा का माइलेज़फरवरी में इन राशियों के जातक अपने प्रेम का कर सकते हैं इजहार, लव मैरिज के शुभ योगराजस्थान में यहां JCB से मिलाया 242 क्विंटल चूरमा, 6 क्विंटल काजू बादाम किशमिश डाले

बड़ी खबरें

दर्दनाक हादसा- नदी में समा गई 14 लोगों से भरी जर्जर नाव; कई बच्चे लापताइजरायल के साथ भारत की 'Pegasus डील' की रिपोर्ट आधारहीन- सरकारी सूत्रों का दावारीट पेपर लीक होने से पहले बाजार में लगी थी बोली, मिला उसे जिसने लगाए सबसे ऊंचे दामरीट पेपर लीक मामलाः डीपी जारोली पर गिरी गाज, माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से किया बर्खास्तमहाराष्ट्र: गांधीधाम पुरी एक्सप्रेस में लगी आग, यात्रियों में हड़कंपचालक की हत्या कर ट्रक लूटने वाले 6 आरोपी गिरफ्तार, पुलिस ने आरोपियों को भेजा जेलUP Election 2022: अखिलेश यादव एंड कम्पनी के भाग्य में केवल मुंगेरीलाल के हसीन सपने: केशव मौर्यBudget 2022: दोनों सदनों में 31 जनवरी और 1 फरवरी को नहीं होगा शून्यकाल, जानें वजह
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.