सफाई व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए निगम को और मिलेंगे 90 सफाईकर्मी

एक सप्ताह में मुख्य मार्गों के गड्ढे ठीक हों- मेहता
साप्ताहिक समीक्षा बैठक में दिए निर्देश

By: dinesh swami

Published: 29 Dec 2020, 06:05 PM IST

बीकानेर. शहर में सफाई व्यवस्था को दुरुस्त बनाने के लिए नगर निगम को 90 और सफाई कर्मी मिलेंगे। जिला कलक्टर नमित मेहता ने मंगलवार को कलक्ट्रेट सभागार में आयोजित साप्ताहिक समीक्षा बैठक में यह जानकारी दी। मेहता ने बताया कि निगम द्वारा शहर की सफाई व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त बनाए रखने के लिए 90 और सफाई कर्मियों का टेंडर बुधवार को खोला जाएगा। उन्होंने कहा कि इससे रात्रिकालीन सफााई व्यवस्था के साथ-साथ समस्त सफाई व्यवस्था सुधारने के लिए मानव संसाधन और मजबूत हो सकेगा। उन्होंने निगम आयुक्त को निर्देश दिए कि शहर की सफाई व्यवस्था, सार्वजनिक प्रकाश व्यवस्था सहित अन्य छोटे-छोटे कार्यों के लिए संबंधित विभाग के साथ समन्वय करते हुए काम किया जाए।

एक सप्ताह में ठीक हों गड्ढे
जिला कलक्टर ने कहा कि अगले 1 सप्ताह में शहर के मुख्य मार्गों पर बने सभी बड़े खड्डे दुरुस्त करवाने का काम पूरा हो जाए। उन्होंने गंगाशहर में हाई मास्ट लाइट चालू करवाने के भी निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने कहा कि अवैध विवाह स्थलों को बंद करवाने की कार्रवाई शीघ्र अति शीघ्र पूरी करवाएं, साथ ही पॉलिथीन जब्ती के लिए भी विशेष अभियान चलाकर कार्रवाई करें।

गोद दिए जाएंगे पार्क
जिला कलक्टर ने नगर विकास न्यास अभियंता को निर्देश दिए कि पब्लिक पार्क के सभी पार्कों का चिन्हीकरण करते हुए भामाशाह और अन्य इच्छुक स्वयंसेवी संस्थाओं के साथ बैठक कर इन पार्क गोद दें। इससे जनता का जुड़ाव बढ़ेगा साथ ही पार्क मेंटेनेंस के काम में नगर विकास न्यास को मदद मिल सकेगी।

60 दिन से ऊपर का एक भी प्रकरण ना रहे बकाया
जिला कलक्टर ने कहा कि सभी विभाग 60 दिन से ऊपर के बकाया प्रकरण प्राथमिकता से निस्तारित करें। प्रकरणों की प्राप्ति के तुरंत बाद निस्तारण कार्यवाही प्रारम्भ कर समयबद्ध रूप से परिवादी को संतुष्ट करें। हो सकने लायक कार्यों में बिना वजह लापरवाही ना हो। जो शिकायत 60 दिन से अधिक पुरानी है उनके समाधान के लिए आवश्यकता पड़ने पर के लिए संबंधित विभाग से समन्वय करते हुए कार्यवाही करें। बैठक में बताया गया कि संपर्क पोर्टल पर जिले में 2 हजार 166 प्रकरण दर्ज है इनमें से 321 शिकायतें 60 दिन से अधिक पुरानी है। मेहता ने कहा कि वन विभाग में अवैध खनन से जुड़ी शिकायतों को विभाग के डी ए ओ स्वयं देखते हुए उनका निस्तारण करवाना सुनिश्चित करेंगे। यदि अधिक पुरानी शिकायतें निस्तारित नहीं होती है तो संबंधित अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी किया जाए। सीएमओ तथा राइट टू सीएम के तहत प्राप्त होने वाली शिकायत निस्तारण में सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाए। साथ ही प्रभारी मंत्री बैठक की अनुपालना रिपोर्ट भी समय पर प्रस्तुत की जाए।

जिला कलक्टर ने कहा कि खाजूवाला की समस्त ढाणियों तक पाइप लाइन से घर घर कनेक्शन के लिए प्रस्ताव भिजवा दिए जाएं, प्रभारी मंत्री की बैठक में उठाए गए बिंदुओं पर आवश्यक कार्रवाई करते हुए शीघ्र अतिशीघ्र कर रिपोर्ट सब्मिट करें। बैठक में पीएचइडी के अधीक्षण अभियंता दीपक बंसल ने बताया कि शहर की निजी कॉलोनियों में नहरी पानी के प्रस्ताव को 2037 की आबादी के अनुसार तैयार की जा रही वाटर स्कीम में शामिल कर लिया गया है। जिला कलक्टर ने पंचायती राज विभाग द्वारा खुदवाए गए ट्यूबवेल पीएचईडी के साथ समन्वय करते हुए फंक्शनल करवाने के निर्देश दिए।

जीएसएस के लिए शीघ्र आवंटित करें भूमि
जिला कलक्टर मेहता ने कहा कि विद्युत आपूर्ति व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने के लिए मुरलीधर व्यास नगर में स्वीकृत 132 के वी जीएसएस के लिए भूमि आवंटन के कार्यवाही को उपखंड अधिकारी के साथ मिलकर शीघ्र पूरा किया जाए, इस कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता दें। मेहता ने नगर विकास न्यास, सड़क, पानी बिजली सहित विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा की और आवश्यक दिशा निर्देश दिए। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर ( प्रशासन ) ए एच गौरी ,सीईओ जिला परिषद नरेंद्र पाल सिंह , जिला रसद अधिकारी यशवंत भाकर नगर निगम आयुक्त पंकज शर्मा सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

dinesh swami Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned