डीएलबी ने दिखाई सख्ती, आदेश को रखा यथावत

सफाई कर्मचारियों से उनके मूल पद का ही लेना होगा कार्य

 

By: Vimal

Published: 24 Feb 2021, 07:21 PM IST

बीकानेर. नगर निगम की ओर से कई सफाई कर्मचारियों से सफाई के इतर अन्य कार्य लेने और कार्यवाहक स्वच्छता प्रभारी बनाए जाने पर स्वायत्त शासन विभाग ने सख्ती दिखाई है। निगम की ओर से नौ सफाई कर्मचारियों को कार्यवाहक स्वच्छता प्रभारी लगाए जाने के आदेश को अवैधानिक बताने के डीएलबी के २८ दिस बर के आदेश के बाद भी उसकी पालना नहीं होने पर अब डीएलबी ने स ती दिखाई है। उप निदेशक प्रशासन कविता चौधरी ने निगम आयुक्त को पत्र लिखकर डीएलबी के २८ दिस बर के पत्र को निरस्त करने से इंकार कर दिया है। इस पत्र में डीएलबी निदेशक ने सफाई कर्मचारियों को स्वच्छता निरीक्षक के पद के विरुद्ध कार्य करने के अवैधानिक आदेश को निरस्त करने के आदेश आयुक्त को दिए थे। निदेशक के आदेश की पालना निगम की ओर से नहीं की गई। गौरतलब है कि निगम की ओर से सर्कलों की सं या ८ से बढ़ाकर १६ किए जाने पर निगम आयुक्त ने १६ स्वच्छता प्रभारी नियुक्त किए थे। इनमें ९ सफाई कर्मचारियों को भी स्वच्छता निरीक्षक पद के विरुद्ध कार्यवाहक स्वच्छता प्रभारी बनाया गया। इस पर डीएलबी ने दिस बर में पत्र जारी कर निगम के आदेश को अवैधानिक बताया था।


महापौर ने भी लिखा था पत्र

डीएलबी निदेशक की ओर से कार्यवाहक स्वच्छता प्रभारी लगाने को अवैधानिक बताने के बाद निगम महापौर ने निदेशक को पत्र लिखकर आदेश को तत्काल निरस्त करने के लिए कहा था। पत्र में महापौर ने कार्यवाहक स्वच्छता प्रभारियों के वर्ष २०१८ भर्ती के नहीं होने, सफाई पर्यवेक्षण का कार्य देखने, उच्च पद का कोई आर्थिक लाभ नहीं देने, पर्याप्त कर्मचारी नहीं होने सहित कई कारण बताए थे, लेकिन डीएलबी ने निगम आयुक्त के आदेश और महापौर के पत्र को नहीं मानते हुए अपने आदेश को यथावत रखा है।


करना होगा मूल पद का कार्य

डीएलबी की ओर से जारी आदेश में एक बार फिर इस बात के स्पष्ट निर्देश दिए गए है कि सफाई कर्मचारी भर्ती २०१८ के सफाई कर्मचारियों से उनके मूल पद के अनुसार सफाई का कार्य ही लेना होगा। अगर ऐसा नहीं होता है तो आयुक्त के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। साथ ही चयनित सफाई कर्मचारियों को सेवा से पृथक करने की बात भी कही है।

Vimal Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned