33 राजस्व गांवों में खुलेंगे ई मित्र केंद्र

1000 से अधिक आबादी वाले ई मित्र से वंचित गांवों के लिए मिलेगी अनुमति

 

By: Vimal

Published: 29 Dec 2020, 06:17 PM IST

बीकानेर. जिले की विभिन्न पंचायत समितियों के 33 और राजस्व गांवों में ई मित्र सेंटर खोले जाएंगे। इसके लिए शिक्षित बेरोजगार आवेदन कर सकते हैं।
सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग के संयुक्त निदेशक सत्येंद्र सिंह राठौड़ के अनुसार स्थानीय स्तर पर ग्रामीणों को सरकारी सुविधाएं प्रदान करने के लिए विभिन्न पंचायत समितियों में 1000 से अधिक आबादी वाले राजस्व गांवों में ई मित्र केंद्र खोलने के लिए विभाग की ओर से मंजूरी दी जाएगी। ई मित्र केंद्र का आवेदन करने वाले शिक्षित बेरोजगार जिनके पास अपना कंप्यूटर सिस्टम स्कैनर प्रिंटर आदि की व्यवस्था होना आवश्यक है।

 

इन गांवों में खुलेंगे केन्द्र
राठौड़ के अनुसार बज्जू खालसा पंचायत समिति के गोगडियावाला, बीकानेर पंचायत समिति के जगदेव वाला, खीचिया, सवाईसर और भेरूखेरा में आवेदन किया जा सकता है। खाजूवाला पंचायत समिति के 2 केडब्ल्यूएम , 5 के जे डी , 31 के वाई डी, 1 ए एल एम, 7 पी एच एम, 6 बीबीसी , 39 के जे डी, 280के जे डी, 14 केपीडी , 12 के जे डी , तथा 17 के जेडीए, लूणकरणसर पंचायत समिति के शोभोलाई और दुलमेरा स्टेशन, नोखा पंचायत समिति के भोम मैयासर, दुर्गापुरा ,दासनूं और गोविंद नगर में आवेदन किया जा सकता है, उन्होंने बताया कि पांचू पंचायत समिति के तोलियासर, मुंजासर, रासीसर तालरिया, पूगल पंचायत समिति के रानीसर, सूरासर और 1 एसएलडी तथा श्री डूंगरगढ पंचायत समिति के भोजास और नोसरिया में ई-मित्र केंद्र करने के लिए आवेदन किया जा सकता है। सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग के पंचायत समिति पर स्थित कार्यालय में संपर्क कर ई मित्र केंद्र खोलने की प्रक्रिया के बारे में जानकारी ली जा सकती है।

Vimal Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned