अब जरुरी दस्तावेज-पत्रावलियां ही जाएगी आयुक्त के पास

उपायुक्त और प्रभारी अधिकारी स्तर होंगे सामान्य पत्रावलियों पर निर्णय

By: Vimal

Updated: 23 Feb 2021, 05:55 PM IST

बीकानेर. नगर निगम के कामकाज की गति को बढ़ाने और प्राप्त होने वाले दस्तावेज और पत्रावलियों पर त्वरित निर्णय के लिए आयुक्त के पास अब जरुरी दस्तावेज और पत्रावलियां ही जाएगी। उपायुक्त और प्रभारी अधिकारी अपने स्तर पर सामान्य पत्रावलियों और दस्तावेज पर निर्णय ले सकेंगे। इस संबंध में निगम आयुक्त एएच गौरी ने आदेश जारी किए है। आदेश में बताया है कि अधिकतर दस्तावेज-पत्रावलियां जिनका निस्तारण संबंधित उपायुक्त अथवा प्रभारी अधिकारी के स्तर पर निस्तारित किया जाना संभव है, जो अनावश्यक रूप से आयुक्त के समक्ष भिजवाए जा रहे है। इससे अनावश्यक रूप से कार्य में विलंब होता है एवं आमजन को परेशानियां होती है।


पत्र के अनुसार उपायुक्त पूर्व व पश्चिम तथा सभी अनुभाग प्रभारी अधिकारी को निर्देश दिए है कि जिन प्रकरणों में निर्णय अथवा यथास्वीकृति से संबंधित पत्रावलियां एवं दस्तावेज आयुक्त के समक्ष भिजवाए जाने के आदेश दिए गए है। ऐसे प्रकरण जिनका निस्तारण उपायुक्त पूर्व, उपायुक्त पश्चिम एवं प्रभारी अधिकारी स्तर पर किया जा सकता है से संबंधित प्रकरणों के लिए आवश्यक कार्यवाही, संबंधित आदेश, नोटिस पत्र आदि उपायुक्त एवं प्रभारी अधिकारी स्तर पर ही जारी करवाने के आदेश दिए गए है।

 

पत्रावलियों के ढेर, निर्णय में विलंब
निगम में वर्तमान में लगभग सभी प्रकार के निर्णय व आदेश-निर्देश आदि आयुक्त स्तर पर ही जारी होने से पत्रावलियों का निस्तारण समय पर नहीं हो पाता है। विलंब होने से आमजन परेशान होते है व कार्यालयी कार्य की गति भी धीमी बनी रहती है। उपायुक्त एवं प्रभारी अधिकारी स्तर पर आदेश, नोटिस पत्र आदि जारी होने से कार्य में गति आएगी। निर्माण, इजाजत तामिर, लेखाशाखा, अन्य राजस्व, स्थापना सामान्य, स्थापना एच, विधि, यूडी टैक्स, जन्म-मृत्यु पंजीयन, सफाई, सीवरेज, बेसहारा पशु, सार्वजनिक प्रकाश सहित विभिन्न कार्यो से संबंधित पत्रावलियों व दस्तावेजों के निस्तारित होने में विलंब की स्थिति बनी हुई है।

Vimal Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned