साइबर क्राइम कंट्रोल पर काम करेंगी पुलिस

पुलिस की वर्ष २०२१ के लिए प्राथमिकताएं तय

By: Jaiprakash

Updated: 29 Dec 2020, 12:49 AM IST

बीकानेर। पुलिस मुख्यालय ने वर्ष २०२१ के लिए पुलिस की प्राथमिकताओं को तय कर दिया है। इन प्राथमिकताओं को प्रदेश के रेंज पुलिस महानिरीक्षकों एवं पुलिस अधीक्षकों को भिजवा दिया गया है। इस बार पुलिस मुख्यालय ने साइबर क्राइम कंट्रोल और पुलिस को साइबर क्राइम के लिए करने को प्राथमिकता में शामिल किया है।

अपराध नियंत्रण एवं साइबर क्राइम से निबटने के लिए आईटी एवं आधुनिक तकनीक का अधिक से अधिक उपयोग करने की हिदायत दी गई है। साथ ही आईडी उपकरणों का पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों को अधिकाधिक प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रशासनिक प्राथमिकताओं में तय किया गया है कि आर्थिक एवं साइबर अपराध नियंत्रण पाने के लिए इस साल प्रदेश में कांस्टेबल से लेकर शीर्ष अधिकारियों को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य सबसे ऊपर रखा गया है।
पुलिस मुख्यालय की ओर से वर्ष २०२१ की पुलिस प्राथमिकताओं का निर्धारण कर इसकी पूर्ति के लिए प्रदेश के सभी जिला पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिए गए हैं।

यह है प्राथमिकताएं
- प्रत्येक पुलिसकर्मी एवं प्रशासनिक स्टाफ को कम्प्यूटर, इंटरनेट, ई-मेल, स्मार्टफोन, सोशल मीडिया, पुलिस कार्य संबंधी मोबाइल एप्पस के उपयोग के संबंध में आधारभूत प्रशिक्षण देना।
- कम्प्यूटर, मोबाइल फोन व अन्य डिवाइस के अपराध अनुसंधान तथा असूचना संकलन के संबंध में उपयोग, सीसीटीएनएस, राजस्थान पुलिस में प्रचलित विभिन्न आईटी मॉड्यूल्स, जिला यूनिटों को आबंटित तकनीकी उपकरणों के उपयोग के लिए प्रशिक्षित करना।
- अपराध संबंधी रिकॉर्ड को डिजिटाइजेशन करना।
- बीटबुक डिजिटाइजेशन (ई-बीटबुक) बनाकर मोबाइल एप के रूप में उपलब्ध करवाना।
- पुलिस वेब पोर्टल पर परफोर्मेन्स मेजरमेंट सिस्टम (पीएमएस) प्रणाली में थानों द्वारा इन्द्राज करने के बजाय सीसीटीएनएस से जोड़कर गणना कर रिपोर्ट जनरेट करना।
- पुलिस की सभी यूनिटों को सोशल मीडिया पर सक्रिय कर जनसंपर्क में अभिवृद्धि तथा इसका अधिकाधिक उपयोग जागरूकता, आवश्यक सूचनाओं का प्रसारण, मिथ्या जानकारी का खंडल तथा अपराध एवं कानून व्यवस्था नियंत्रण व प्रबंधन में किया जाना सुनिश्चित करना।
- रेंज, आयुक्तालय अथवा जिलों में स्वयं के निर्देशन में सउनि पद तक के पुलिस कर्मचारियों का साइबर क्राइम अनुसंधान से संबंधित प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन करना।
- बीट कांस्टेबल को सोशल मीडिा के प्रभावी उपयोग के लिए प्रशिक्षित करना तथा उसके क्षेत्र में सक्रिय वाट्सअप गु्रप में जोडऩा।


प्राथमिकताएं तय
पुलिस मुख्यालय की ओर से वर्ष २०२१ के लिए प्रदेश पुलिस के लिए प्राथमिकताएं तय कर ली गई है। पुलिस प्राथमिकताओं के मद्देेनजर कार्य करेंगी। साइबर क्राइम को रोकने एवं अपराधों पर नियंत्रण के लिए पुलिस कर्मचारियों को प्रशिक्षित किया जाएगा। पुलिस को हाईटेक करने को प्राथमिकता दी जाएगी।
प्रहलादसिंह कृष्णियां, पुलिस अधीक्षक

Jaiprakash Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned