नोखा उप कारागार से फरार दो बंदी गिरफ्तार

तीन दिन पहले नोखा जेल तोडऱ भाग गए थे पांच बंदी
हनुमानगढ़ व बीकानेर पुलिस ने नाकाबंदी के दौरान दबोचा

By: Jaiprakash

Published: 23 Apr 2021, 02:43 PM IST

बीकानेर। नोखा उप कारागार से रस्सी के सहारे दीवार फांद कर भागे पांच बंदियों में से दो को पुलिस ने पकड़ लिया है। हनुमानगढ़ व बीकानेर पुलिस ने नाकाबंदी के दौरान पकड़ा। ६२ घंटे बाद पुलिस को सफलता मिली है।
पुलिस अधीक्षक प्रीतिचन्द्रा ने बताया कि बंदी हनुमानगढ़ के नवां गांव निवासी सलीम पुत्र कादर खान एवं पीलीबंगा के वार्ड नंबर २२ निवासी सुरेश कुमार पुत्र रमेश कुमार ओड को गिरफ्तार कर लिया गया है। बीकानेर डीएसटी टीम व हनुमानगढ़ पुलिस लगातार आरोपियों की धरपकड़ के प्रयास कर रही थी।


३५ सीसीटीवी फुटेज खंगाले
पुलिस ने नोखा में गुरुवार को उप कारागार से शहर के विभिन्न मार्गों पर लगे करीब ३५ कैमरों की फुटेज खंगाले। वहीं आरोपियों के ठिकानों पर पुलिस टीमों ने दबिश दी। वहीं दूसरी ओर आईजी जेल जयपुर विक्रमङ्क्षसह एवं जोधपुर जेल डीआई सुरेन्द्रङ्क्षसह शेखावत ने बंदियों के फरारी प्रकरण की जांच करने में जुटे है। गुरुवार को फरार होने वाले बंदियों की बैरक में बंद बंदियों और जेल कार्मिकों के बयान लिए हैं।

जेल नियमों को तोड़ चुके है दो आरोपी
जांच व पुलिस अधिकारियों के मुताबिक जांच-पड़ताल में पता चला है कि पांचों बंदी एनडीएस के मामले में बंद थे, इनमें से एक बंदी हत्या के मामले में बंद था। वह पांच बंदियों में से बंदी अनिल ब्राह्मण एवं मोहम्मद सलीम पैरोल एक्ट का उल्लंघन कर चुके हैं। सलीम पर जेल में मोबाइल व अन्य सामान रखने का मामला भी दर्ज हैं।


अपराध की दुनिया में हाल ही में रखा है कदम
फरार बंदियों के खिलाफ हत्या, लूट, लूट का प्रयास, डकैती, जबदस्ती कब्जा, धमकी देना, उपद्रव करने और मादक पदार्थ तस्करी करने के मामले दर्ज हैं। फरार हुए पांच बंदियों में केवल सुरेश कुमार ही एक ऐसा बंदी है, जिस पर एनडीपीएस का केवल एक मामला दर्ज है। इससे पता चलता है कि सुरेश ने अपराध की दुनिया में हाल ही कदम रखा है। मंदीपसिंह पर चार मामले दर्ज हैं लेकिन वह गंभीर अपराधों के हैं। शेष रतिराम व सलीम पर कई गंभीर मामले दर्ज हैं।

बंदी सुरेश कुमार :- एनडीपीएस का मामला दर्ज है।
बंदी मंदीपसिंह :- मारपीट, हत्या का प्रयास, अपहरण, मादक पदार्थ तस्करी सहित विभिन्न धाराओं में ४ मामले दर्ज हैं।
बंदी रतिराम :- लूट, लूट का प्रयास, मारपीट, धमकी देने, चोट पहुंचाना, कब्जा करना, जबदस्ती वसूली करना सहित विभिन्न धाराओं में दस मामले दर्ज हैं।
बंदी अनिल कुमार :- धमकाना, मारपीट करना, उपद्रव करना सहित अन्य धाराओं में १९ मामले दर्ज हैं।
बंदी सलीम खान :- आम्र्स एक्ट, लूट-डकैती का प्रयास, मारपीट सहित अन्य धाराओं में ३२ मामले दर्ज हैं।

यह है मामला
नोखा उप कारागार से मंगलवार रात करीब ढाई बजे पांच बंदी जेल की बैरक की खिड़की तोड़कर बाहर निकले और बाद में कम्बल से रस्सी बनाकर जेल की दीवार फांदकर भाग गए। बंदियों के भागने की सूचना के बाद जेल महानिदेशक राजीव दासोत बीकानेर आए। जेल महानिदेशक ने मामले में जेल प्रशासन की लापरवाही मानते हुए डिप्टी जेलर सुरेश कुमार, मुख्य प्रहरी कानाराम, प्रहरी गोमाराम को तुरंत प्रभाव से निलंबित कर दिया।

Jaiprakash Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned