कोरोना से ठीक के बाद भूलकर भी न करें ये काम वरना हो जाएंगे इस बीमारी के शिकार

- हर पांचवें का बढ़ा वजन, डॉक्टर की सलाह सिर्फ आराम न करें, व्यायाम भी करें
- कोरोना से 21 हजार स्वस्थ हुए, 23 सौ वजन बढ़ने से परेशान
- पोस्ट कोविड ओपीडी में रोज 5-6 मरीज पहुंच रहें

By: Ashish Gupta

Published: 04 Mar 2021, 06:37 PM IST

बिलासपुर. छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में कोरोना संक्रमितों (Coronavirus in Chhattisgarh) की संख्या 21352 हो गई है। जबकि ठीक हुए मरीजों की संख्या 20905 है। हैरान करने वाली बात यह है कि इसमें से करीब 2 हजार 342 मरीज वजन बढ़ने से परेशान हैं। यानी हर 5वां व्यक्ति मोटापे का शिकार है। इन लोगों का 14 दिन में 5 से 6 किलो वजन बढ़ गया। डॉक्टर्स का तर्क है कि कोरोना से ठीक होने के बाद मरीज 14 दिन होम आईसोलेशन में रहते हैं। इस दौरान उन्हें अच्छी डाइट, जिसमें प्रोटीन की मात्रा ज्यादा हो, लेने की सलाह दी जा रही है, जिसके कारण वो घर में आराम करने के चलते मोटापे का शिकार हो रहे हैं।

सिम्स के पोस्ट कोविड ओपीडी में रोजाना ऐसे 5 से 6 मरीज पहुंच रहें हैं। मेडिसीन विशेषज्ञ डॉ. पंकज टेम्भूॢनकर ने बताया कि पोस्ट कोविड में मोटापे (Obesity) के साथ पेट की समस्या लेकर आने वाले मरीजों को हिदायत दी जा रही है कि एक्सरसाइज करें और ज्यादातर सिर्फ आराम न करें यहां-वहां टहलें ताकि वजन न बढ़े। हो सके तो योग करें, इससे सांस संबंधी दिक्कत नहीं होगी। यदि बहुत तेजी से किसी का वजन बढ़ हा है तो डॉक्टर्स से सलाह लेने की हिदायत दी जा रही है।

सोने की कीमत में बड़ी गिरावट, एक महीने में 4000 रुपए हुआ सस्ता, जानें अब क्या है रेट

पहले वजन 70 थ,अब 75 हो गया
जूना बिलासपुर निवासी अमन वर्मा 47 वर्ष ने बताया कि कोरोना होने के बाद डॉक्टर्स ने 14 दिन तक होम आइसोलेशन में रहने और प्रोटीन युक्त डाइट लेने को कहा था। कोरोना के पहले वजन 70 किलो था जो एक महीने में 75 किलो हो गया। पहले शुगर बॉर्डर लाइन पर था, लेकिन इलाज के दौरान दी जा रही दवाओ में स्टेरॉयड होने के चलते शुगर लेवल बढ़ गया है। अब रोज चेक करना पड़ रहा है।

हैवी प्रोटीन से बढ़ी दिक्कत
मंगला जेपी विहार निवासी सुमन साहू 45 वर्ष ने बताया कि एक महने पहले कोरोना हुआ था। 10 दिन अस्पताल में भर्ती रही। इलाज के दौरान दी गई दवाओं से शुगर लेवल बढ़ रहा है। घर आने के बाद 14 दिन तक होम आईसोलेशन में रही इस दौरान हैवी प्रोटीन युक्त खाना खाया। नतीजा अब वजन 60 से बढ़कर 66 हो गया है। डॉक्टर्स के पास गई थी। उनहोने एक्सरसाइज की सलाह दी है।

इमरजेंसी इलाज में अस्पताल में तुरंत बनवाएं ये हेल्थ कार्ड, 5 लाख तक का ट्रीटमेंट होगा फ्री

ठीक होने के बाद इन तीन वजह से बढ़ रहा मोटापा
1- कोरोना से ठीक होने के बाद व्यक्ति व्यायाम नहीं करते इसके चलते शरीर का वजन बढ़ जाता है।
2- फेफड़ों में सूजन के चलते मरीजों को लंबे समय तक दवा के रूप में स्टेरॉयड दिया जाता है। इससे भी वजन और शुगर बढ़ता है।
3- होम आईसोलेशन में रहने के दौरान व्यक्ति 14 दिन कहीं जा नहीं पाता है। लगातार प्रोटीन युक्त खाना खाने से भी वजन बढऩे की परेशानी सामने आ रही है।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned