शराबियों का पर्स चोरी करने वाला गिरोह गिरफ्तार, नशे की लत पूरा करने करते थे चोरी

- सभी आरोपी शराब लेने के लिए बारी-बारी लाइन लगाते हैं और मौका देख कर पर्स को धीरे- धीरे धक्का देकर बाहर निकालते हैं।

By: Bhupesh Tripathi

Updated: 29 Dec 2020, 07:38 PM IST

बिलासपुर. पुरान बस स्टैण्ड व लिंक रोड स्थित शराब दुकान में लोगों का पर्स चोरी करने वाले गिरोह के ६ सदस्य को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपियों में एक अपचारी बालक भी शामिल है। पूछताछ में चोरों ने बताया कि सभी अपना शौक पूरा करने के लिए चैन बनाकर चोरी की वारदात को अंजाम देते थे।

तारबाहर थाना प्रभारी प्रदीप आर्या ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि पुराना बस स्टैण्ड स्थित सरकारी शराब दुकान में जोरापारा निवासी रजन राठौर शराब खरीदने गए थे। इस दौरान किसी ने उनका पर्स पार दिया था। पीड़ित की शिकायत पर तारबाहर पुलिस मामले में अपराध दर्ज कर जांच कर रही थी इस दौरान पुलिस को पुराना बस स्टैण्ड के पास एक संदेही मिला जो भीड़ का फायदा उठाकर पर्स चुराने की कोशिश कर रहा था।

पुलिस ने युवक को गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू की तो आरोपी ने अपना नाम दीपक सारथी बताया। पाकिटमार ने बताया कि वह अपने दोस्तों के साथ मिलकर चोरी की वारदात को अंजाम देता है। दीपक सारथी की निशानदेही पर पुलिस ने मौके से ही समारू साहू (25), अमन विश्वकर्मा, प्रहलाद केवट, मोहम्मद शाहरूख (२०) व अपचारी बालक को हिरासत में लिया। सभी ने पाकिटमारी की घटना करना स्वीकार कर लिया।

चेन सिस्टम से करते थे वारदात को अंजाम
सभी आरोपी शराब लेने के लिए बारी-बारी लाइन लगाते हैं और मौका देख कर पर्स को धीरे- धीरे धक्का देकर बाहर निकालते हैं। कई बार पर्स गिर जाता तो उठा लेते नहीं गिरने पर हल्का धक्का देकर पर्स को निकाल लेते थे। पर्स निकालने के बाद एक लड़का दूसरे व दूसरा तीसरे को और चौथा पर्स लेकर भाग जाता था।

पर्स चुराने के बाद शुलभ शौचालय के पीछे छुपाते थे
गिरफ्तार आरोपियों ने बताया पर्स चोरी करने के बाद चोर सुलभ शौचालय के पीछे पर्स को छिपा देते थे। कई बार भरत चौक लिंगिंयाडीह के पास बने शौचालय के पीछ पर्स फेंका करते थे। पुलिस ने दोनों ही जगहों से २५ से अधिक पर्स बरामद किया है।

पर्स चोरी करने वाले गिरोह को गिरफ्तार किया गया है। सभी आरोपी चेन सिस्टम से वारदात को अंजाम देते थे। सभी शराब, गांजा व नशीली दवाइयों का सेवन करने वाले हैं। अपने नशे के शौक को पूरा करने पाकि टमारी करते थे।
- प्रदीप आर्या, थाना प्रभारी तारबाहर

Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned