Gautam Adani दोबारा से एशिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स बने, दुनिया में 14 वें स्थान पर

अडाणी समूह के चेयरमैन गौतम अडाणी (Gautam Adani) ने चीनी कारोबारी झोंग शानशान को पीछे छोड़ दिया है। इस सूची में सबसे अव्वल स्थान पर रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) हैं।

By: Mohit Saxena

Published: 02 Sep 2021, 07:26 PM IST

नई दिल्ली। ब्लूमबर्ग बिलेनियर्स इंडेक्स (Bloomberg Billionaires Index) के अनुसार अडाणी समूह के चेयरमैन गौतम अडाणी (Gautam Adani) दोबारा से एशिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स बन गए हैं। संपत्ति के मामले में उन्होंने चीन के कारोबारी झोंग शानशान को पीछे छोड़ दिया है। इस सूची में सबसे अव्वल स्थान पर रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) हैं। दुनिया के सबसे अमीर लोगों की सूची में अडाणी 14वें नंबर पर हैं।

इतनी है अडाणी की संपत्ति

गौतम अडाणी के पास अब तक 71.3 अरब डॉलर की संपत्ति है। बताया जा रहा है कि अडाणी समूह की कंपनियों के शेयरों में तेजी के कारण गौतम अडाणी की संपत्ति में इजाफा हुआ है। अडाणी पावर, अडाणी गैस और अडाणी ट्रांसमिशन के शेयरों में बीते दस दिनों में बेहतर उछाल देखने को मिला है। मुकेश अंबानी और चीनी कारोबारी झोंग शानशान की संपत्ति 87.8 अरब डॉलर और 66.6 अरब डॉलर है।

ये भी पढ़ें: Indian Railways: 2030 तक काबर्न उत्सर्जन पर लगाएगा लगाम, 17 हजार करोड़ रुपये के ईंधन की होगी बचत

कंपनियों के शेयर में दोबारा से तेजी देखी गई

अडाणी समूह की कंपनियों के शेयर में दोबारा से तेजी देखी जा रही है। हाल ही में कुछ मीडिया रिपोर्ट में कहा कि नेशनल सिक्योरिटीज डिपॉजिटरी लिमिटेड (National Securities Depository Limited NSDL) द्वारा तीन फॉरेन पोर्टफोलियो इन्वेस्टर्स फंड (FPI) का डीमैट अकाउंट ब्लॉक करा गया है। इससे उनकी संपत्ति में गिरावट आएगी। मगर अडाणी समूह ने साफ कहा है कि इस खबर में कोई सच्चाई नहीं है। ये सिर्फ अफवाह फैलाई गई है।

मीडिया रिपोर्ट में कहा गया कि एनएसडीएल ने तीन विदेशी फंड्स Albula इन्वेस्टमेंट फंड, क्रेस्टा फंड और एपीएमएस इन्वेस्टमेंट फंड के खातों को फ्रीज करा गया है। इनके पास अडाणी ग्रुप की चार कंपनियों के 43,500 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के शेयर हैं।

ये भी पढ़ें: RBI ने नियम तोड़ने के कारण Axis बैंक पर 25 लाख रुपए का जुर्माना लगाया

अडाणी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन लिमिटेड ने एनएसडीएल द्वारा तीन विदेशी फंड्स के खाते फ्रीज करने की खबर का खंडन किया। उन्होंने कहा कि पूरी तरह से गलत है और निवेश करने वाले समुदाय को जानबूझकर गुमराह करा गया है।

Gautam Adani
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned