script2000 का नोट बदलने के लिए नहीं भरना पड़ेगा कोई फॉर्म, आधार-पैन की भी जरूरत नहीं, SBI ने दी जानकारी | How to Exchange 2000 Rupee note know RBI Guideline and full Process | Patrika News

2000 का नोट बदलने के लिए नहीं भरना पड़ेगा कोई फॉर्म, आधार-पैन की भी जरूरत नहीं, SBI ने दी जानकारी

locationनई दिल्लीPublished: May 21, 2023 03:31:13 pm

Submitted by:

Prabhanshu Ranjan

Exchange 2000 Rupee Note: आरबीआई ने 19 मई को 2000 रुपए का नोट वापस लेने का फैसला लिया था। इस फैसले में बताया गया कि 23 मई से 30 सितंबर तक लोग 2000 रुपए के नोट बदलवा सकते हैं। आरबीआई के बाद अब एसबीआई ने गाइडलाइन जारी कर नोट बदलने की प्रक्रिया को बताया है।
 

2000_noteक्या 2000 का नोट बदलने के लिए भरना पड़ेगा कोई फॉर्म?_.jpg

क्या 2000 का नोट बदलने के लिए भरना पड़ेगा कोई फॉर्म?

Exchange 2000 Rupee Note: रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने 19 मई को 2000 का नोट वापस लेने का फैसला लिया था। आरबीआई के इस फैसले को ‘एक और नोटबंदी’ के रूप में देखा जा रहा है। हालांकि सरकार इसे नोटबंदी नहीं नोटबदली कह रही है। दावा है कि 2000 रुपए के नोट में जाली मुद्रा का चलन काफी बढ़ गया था। साथ ही इस नोट का इस्तेमाल काला धन छिपाने के लिए किया जा रहा था। इसलिए ‘क्लीन नोट पॉलिसी’ के तहत 2000 रुपए के नोट को वापस लेने का फैसला लिया गया है। 19 मई आरबीआई ने फैसले की कॉपी जारी करते हुए कहा था कि 23 मई से 30 सितंबर तक 2000 रुपए के नोट बदले जाएंगे। 30 सितंबर के बाद 2000 रुपए के नोट बंद हो जाएंगे।



नोट बदलने को लेकर उठ रहे ये सवाल

अब जिनके पास 2000 रुपए नोट है वो इसे कैसे बदल सकते हैं? क्या इसे बदलने के लिए किसी तरह का फॉर्म भी भरना होगा? नोट बदलने के लिए आधार या कोई पहचान पत्र भी देना होगा? जैसे कई सवाल लोगों में मन में है। इन सवालों पर सरकारी आदेश के दो पत्र सामने आए है। जिससे थोड़ी गफलत की स्थिति हो गई है। आइए 2000 रुपए के नोट को बदलने की पूरी प्रक्रिया-

2000 रुपए के नोट को बदलने की प्रक्रिया

– जिनके पास 2000 रुपए के नोट हैं, वो इसे बैकों में जमा करा सकते हैं।

– इसके लिए 30 सितंबर 2023 तक की समयसीमा तय की गई है।

– 23 मई 2023 से किसी भी बैंक में एक समय में 2000 रुपए के नोट को दूसरे नोटों से बदला जा सकेगा।

– 2000 रुपए के नोट को बदलने की सीमा 20000 रुपए तय की गई है।

– साथ ही लोग 2000 रुपए के नोट को अपने बैंक खातों में भी जमा करा सकते हैं।

– 23 मई 2023 से आरबीआई के 19 रिजनल ऑफिसेज में 20000 रुपए की लिमिट तक 2000 रुपये के बदले जा सकेंगे।

– आरबीआई ने बैंकों को 2000 रुपये के नोट तत्काल रूप से नहीं जारी करने को कहा है।

– आरबीआई ने आम लोगों अपील की है कि वे 30 सितंबर 2023 तक समय निकाल 2000 रुपये के नोट को एक्सचेंज कर लें या फिर उसे बैंक में डिपॉजिट कर लें।

यह भी पढ़ें – जिनके पास नहीं है बैंक अकाउंट, वो कैसे बदल सकेंगे 2000 रुपए के नोट?


क्या नोट बदलने के लिए कोई फार्म भी भरना होगा?

2000 रुपए का नोट बदलने के लिए फार्म भरना होगा या नहीं, इसपर अभी तक स्थिति पूरी तरह से साफ नहीं है। कहा जा रहा है कि आरबीआई ने इसके लिए एक फार्म फॉर्मेट मुहैया कराया है। जिसमें लोगों को अपनी जानकारी के साथ-साथ कितने नोट बदलने है, इसकी जानकारी देना होगी।

यह भी पढ़ें – 2000 के नोट PM मोदी को नहीं थे पसंद, पूर्व प्रधान सचिव ने बताई इसके पीछे की वजह

हालांकि यदि कोई व्यक्ति नोट को अपने खाते में जमा कराना चाहता है तो उसे फार्म नहीं भरना होगा। वहीं दूसरी ओर एसबीआई ने पत्र जारी कर कहा है कि नोट बदलने के लिए कोई फार्म नहीं लगेगा।

नीचे देंखें, नोट बदलने वाला फार्म

 
2000_note.jpg


नोट बदलने के लिए आधार कार्ड भी लगेगा?

कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि 2000 का नोट बदलने के लिए लोगों को अपना पहचान पत्र देना होगा। इसमें आधार कार्ड, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट का कुछ और हो सकता है। हालांकि इस मामले में एसबीआई की ओर से जारी गाइडलाइन बता रही है कि नोट बदलने के लिए न तो कोई पहचान पत्र नहीं देना होगा और न ही कोई चार्ज।

नीचे देंखें, 2000 का नोट बदलने पर SBI का गाइडलाइन

sbi_guide_line.jpg


आरबीआई ने क्यों बंद किए 2000 के नोट

आरबीआई के इस फैसले के बाद यह सवाल उठ रहा है कि आखिर 2000 रुपए के नोटों को क्यों बंद किया? इस सवाल का जवाब है ‘क्लीन नोट पॉलिसी’। इस पॉलिसी के तहत आरबीआई ने 2000 रुपए के नोटों को बंद करने का फैसला लिया है। साथ ही कहा जा रहा है कि 2000 रुपए नोटों में जाली नोटों की भरमार हो गई है। कई लोग काला धन जमा करने के लिए इस नोट का इस्तेमाल कर रहे थे। ऐसे में इसे बंद करने का फैसला लिया गया।

2000 का बंद होने से आम लोगों पर क्या असर होगा?

2000 का नोट बंद होने से आम लोगों को परेशानी उठानी पड़ सकती है। हालांकि यह 2016 जैसी स्थिति नहीं होगी। क्योंकि तब 500 और 1000 को नोट को बंद कर दिया गया था। ये दोनों नोट उस समय में चलन में काफी अधिक थे। ऐसे में इसे बदलने के लिए लोगों को लंबी लाइनों में लगना पड़ा था। लेकिन 2000 का नोट मार्केंट में पहले से ही कम है ऐसे में इस नोट को बदलने में ज्यादा परेशानी उठानी नहीं पड़ेगी।

यह भी पढ़ें – क्यों बंद हुए 2000 के नोट? कैसे और कब तक बदल सकेंगे, सभी जरूरी जानकारी यहां

 
loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो