scriptVedanta Group may spend up to 12 billion dollar to buy BPCL | BPCL को खरीदने के लिए 12 अरब डॉलर तक खर्च कर सकता है वेदांता ग्रुप | Patrika News

BPCL को खरीदने के लिए 12 अरब डॉलर तक खर्च कर सकता है वेदांता ग्रुप

देश की सरकारी तेल कंपनी भारत पेट्रोलियम कार्पोरेशन यानी BPCL को खरीदने के लिए वेदांता समूह ने दिलचस्पी दिखाई है। खास बात यह है कि इसकी खरीदारी के लिए वेदांता 12 बिलियन डॉलर खर्च करने को भी तैयार है। वेदांता समूह के चेयरमैन और अरबपति अनिल अग्रवाल ने एक इंटरव्यू में इसको लेकर पुष्टि भी की है।

नई दिल्ली

Published: January 14, 2022 11:15:37 am

वेदांता समूह देश की सरकारी पेट्रोलियम कंपनी भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड यानि BPCL को खरीदने की तैयारी में है। बीपीसीएल को खरीदने के लिए समूह इस अधिग्रहण के लिए 12 अरब डॉलर खर्च करने को तैयार है। भारतीय करेंसी के मुताबिक ये राशि करीब 887.10 अरब रुपए है। दरअसल भारत सरकार लंबे समय से बीपीसीएल का विनिवेश करना चाहती है, लेकिन इसके विनिवेश को लेकर लगातार देरी हो रही है। ये माना जा रहा है कि सरकार को मनमानी कीमत या हिस्सेदारी नहीं मिल रही है। हालांकि इस बीच वेदांता की ओर से दिखाई जा रही दिलचस्पी सरकार के लिए भी अच्छा विकल्प हो सकती है।
Vedanta Group may spend up to $12 billion to buy BPCL
वेदांता ग्रुप भारतीय पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड को खरीद लेता है तो ये बिक्री देश की सबसे बड़ी एसेट सेल में शामिल होगी। हाल में वेदांता ग्रुप के चेयरमैन और अरबपति अनिल अग्रवाल ने एक इंटरव्यू में कहा था कि, हम आक्रामक तरीके से बोली नहीं लगाने जा रहे हैं, लेकिन हम सही कीमत रखेंगे। उन्होंने कहा कि कंपनी का मार्केट कैप करीब 11 अरब डॉलर से 12 अरब डॉलर है। इसलिए हम इसे निवेश के तौर पर देख रहे हैं।

यह भी पढ़ेँः CBDT ने 1.54 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा का रिफंड जारी किया, चेक करें आपको मिला या नहीं
BPCL के प्राइवेटाइजेश की भारत सरकार की योजना मुश्किलों का सामना कर रही है। बिडर्स को भागीदारों को खोजने और बड़े अधिग्रहण के लिए अपने वित्तीय जोखिमों को बढ़ाने के लिए संघर्ष का सामना करना पड़ रहा है।

देश उम्मीद कर रहा था कि ऑयल की दिग्गज वैश्विक कंपनियां बिक्री में भाग लेने के लिए निवेश कोष के साथ मिलकर सामने आएंगी, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। वहीं अनिल अग्रवाल को इस बात की उम्मीद है कि, भारत इसी वर्ष मार्च के महीने में बीपीसीएल के लिए बोलियां खोलेगा।
यह भी पढ़ेँः दिग्गज आईटी कंपनी विप्रो को तीसरी तिमाही में हुआ 2970 करोड़ रुपये का मुनाफा

ये दो कंपनियां भी रेस में


बीपीसीएल की खरीदारी के लिए सिर्फ वेदांत समूह आगे नहीं है, इसके अलावा, निजी इक्विटी फर्म अपोलो ग्लोबल मैनेजमेंट और आई स्क्वेयर्ड कैपिटल ने भी तेल रिफाइनर में सरकार की हिस्सेदारी हासिल करने में रुचि दिखाई है।

इस बीच बीपीसीएल के निजीकरण की प्रक्रिया में देरी होने की आशंका जाहिर की जा रही है। ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि निजीकरण की प्रक्रिया अगले वित्त वर्ष में पूरी हो सकती है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Video Weather News: कल से प्रदेश में पूरी तरह से सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, होगी बारिशVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!पाकिस्तान से राजस्थान में हो रहा गंदा धंधाइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजहार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां

बड़ी खबरें

यूपी की हॉट विधानसभा सीट : गुरुओं की विरासत संभालने उतरे योगी आदित्यनाथ और अखिलेश यादवक्या चुनावी रैलियों पर खत्म होंगी पाबंदियां, चुनाव आयोग की अहम बैठक आजदेशभर में नकली नोट व नकली सोना चलाने वाला गिरोह पकड़ा, एक महिला सहित पांच गिरफ्तारदेश विरोधी कंटेंट के खिलाफ सरकार की बड़ी कार्रवाई, 35 यूट्यूब चैनल किए ब्लॉकCo-WIN में बदलाव, अब एक मोबाइल नंबर पर 6 लोग कर सकेंगे रजिस्ट्रेशनसावधान! कोरोना वायरस फैला रहा टीबी, बढ़ती संख्या पर आइसीएमआर ने चेतायाweather forecast news today live updates: दिल्ली-UP समेत उत्तर भारत में शीतलहर, कई राज्यों में आज भी बारिश की सम्भावनाpetrol diesel price today: 79वें दिन पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.