थर्मल प्लांट से 2.38 लाख टन कोयला गायब!

  • बिजली मंत्री सेंथिल बालाजी ने किया दावा

By: Ram Naresh Gautam

Updated: 21 Aug 2021, 06:27 PM IST

चेन्नई. अगर बिजली मंत्री सेंथिल बालाजी का कहना सटीक है तो तमिलनाडु में बहुत बड़े कोयला घोटाला सामने आएगा। मंत्री ने शुक्रवार को दावा किया कि उत्तरी चेन्नई थर्मल पावर स्टेशन से 2.38 लाख टन कोयला गायब है।

ताप बिजली घर का निरीक्षण करने के बाद ऊर्जा मंत्री ने कहा कि कोल रेकॉर्ड रजिस्टर और स्टॉक का मिलान करने पर करीब 2.38 लाख टन कोयले की विसंगति पाई गई है जिसकी अनुमानित कीमत 85 करोड़ रुपए है।

सेंथिल बालाजी ने कहा कि इसकी अगले चरण में और गहन जांच कराई जाएगी और पूरी गलतियों का पता लगाया जाएगा और गलती करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

इसी प्रकार तुत्तुकुड़ी और मेटूर ताप विद्युत घरों में अनुसंधान कार्य किया जा रहा है। इसकी सही स्थिति भी अध्ययन के बाद बताई जाएगी।

बिजली शुल्क संबंधी शिकायत की हेल्पलाइन
बिजली मंत्री सेंथिल बालाजी ने कहा है कि बिजली दरों के संबंध में उपभोक्ता सेवा केंद्र में संपर्क कर शिकायत की जा सकती है।

कोरोना से प्रभावित लोगों पर प्रभाव नहीं पड़े इसलिए मुख्यमंत्री ने आदेश दिया कि कोई अतिरिक्त जमा वसूल नहीं की जाए।

बिजली दरों में वृद्धि के संबंध में फील्ड में अध्ययन कर उचित समाधान निकाला जाएगा। बिजली बिल संबंधी शिकायत उपभोक्ता सेवा केंद्र के नंबर 94987-94987 पर संपर्क किया जा सकता है।

Ram Naresh Gautam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned