Police Closed Shop -- कहां भीड़ देखकर पुलिस ने बंद कराई दुकान

कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर पुलिस ने सख्ती दिखानी शुरू कर दी है। सेठिया बस स्टैण्ड पर गुरुवार को निर्धारित समय से पहले खुली सब्जी की दुकान पर भीड़ को देखकर पुलिसकर्मियों ने दुकान बंद कराई। ऐसा ही स्टेशन रोड की एक अन्य दुकान पर देखने को मिला। एक मोटरसाइकिल पर जा रहे तीन युवकों के बिना मास्क मिलने पर पुलिसकर्मियों ने सख्ती दिखाई।

Vijay

27 Mar 2020, 12:14 PM IST

मोटरसाइकिल पर बिना मास्क के जा रहे तीन युवकों पर पुलिसकर्मियों ने दिखाई सख्ती
सुजानगढ़ (चूरू). कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर पुलिस ने सख्ती दिखानी शुरू कर दी है। सेठिया बस स्टैण्ड पर गुरुवार को निर्धारित समय से पहले खुली सब्जी की दुकान पर भीड़ को देखकर पुलिसकर्मियों ने दुकान बंद कराई। ऐसा ही स्टेशन रोड की एक अन्य दुकान पर देखने को मिला। एक मोटरसाइकिल पर जा रहे तीन युवकों के बिना मास्क मिलने पर पुलिसकर्मियों ने सख्ती दिखाई। इसी प्रकार गली-मोहल्लो में उंटगाड़ी पर प्याज व अन्य सब्जी बेचने वाले जब पहुंचते हंै तब महिलाओ की भीड़ उमड़ जाती है, इस पर भी रोक की कोशिश की।

लाउड स्पीकर लगाकर मोहल्लेवासियों से की अपील
सुजानगढ़. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की देशव्यापी लॉक डाउन को प्रभावी बनाने के लिए गली-मोहल्लो में युवा आगे आ रहे हैं। भारत माता चौक क्षेत्र में भाजयु मोर्चा नगर अध्यक्ष नरेन्द्र गुर्जर ने गुरुवार को नई पहल की। उन्होंने गुरुवार को अपने घर पर लाउड स्पीकर लगाकर दिनभर खुद ने माइक से अपील करके मोहल्लेवासियों को घर से बाहर न निकलने व हाथ धोने की अपील की। उन्होंने जिला कलक्टर को ईमेल से पत्र भेजकर कहा कि प्रत्येक वार्ड में 2-2 युवाओं को कार्ड बनाकर सेवा कार्य के लिए अधिकृत करें, जो वार्डवासियों के जरूरी कार्य कर सकेंगे। इससे लोगों की भीड़ बाहर नहीं जाएगी।
सिद्धमुख. लॉक डाउन के चलते कस्बे में राशन एवं सब्जी की दुकानें 9 से 12 बजे खुली। इस पर लोगों ने जरूरत के मुताबिक राशन सामग्री की खरीद की। इसके बाद कस्बेवासियों ने भी पुलिस का सहयोग किया व घरों को लौट गए।पुलिस ने हरियाणा सीमा पर धानोठी तिराहे पर चैकपोस्ट पर वाहनों की जांच की। संक्रमण से बचाव के लिए मुख्य मार्गों व सार्वजनिक स्थानों पर दवाई का छिड़काव किया गया। गांव किशनपुरिया बास, रेजडी में भी युवाओं ने गांव में दवा का छिड़काव किया।

तीन दिन बाद भी जांच नहीं
सरदारशहर. पूर्व सरपंच तुलसीराम जोशी ने बताया कि राणासर बीकान गांव में तीन दिन पहले भीड़वाड़ा से पांच लोग आए थे। उनकी सूचना प्रशासन को दे दी गई। फिर भी तीन दिन बाद भी भीड़वाड़ा से आने वाले लोगों की जांच नहीं हुई जिसके कारण गांव में भय का वातावरण बना हुआ है। बाहर से आने वाले लोग सुरक्षा का ध्यान नहीं दे रहे हैं।

Show More
Vijay Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned