आईपीएल-13 : 6 विस्फोटक बल्लेबाज जो नहीं कर पाए अपनी क्षमता के अनुरूप प्रदर्शन

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन में लीग चरण तक कुछ खिलाड़ी अपने फॉर्म को लेकर संघर्ष करते हुए दिखाई दिए हैं....

By: भूप सिंह

Published: 04 Nov 2020, 10:16 PM IST

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन में लीग चरण तक कुछ खिलाड़ी अपने फॉर्म को लेकर संघर्ष करते हुए दिखाई दिए हैं। उन छह खिलाड़ियों पर एक नजर डाले तो इस सीजन में लीग चरण तक अपने प्रतिभा के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं।

महेंद्र सिंह धोनी (उम्र : 39, टीम : चेन्नई सुपर किंग्स)
आईपीएल-13 में धोनी से अच्छे शुरुआत की उम्मीद नहीं थी, क्योंकि उन्होंने एक साल से अधिक समय तक कोई पेशेवर क्रिकेट नहीं खेला था और टूर्नामेंट शुरू होने से एक महीने पहले ही उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी थी।

चेन्नई सुपर किंग्स के लिए बल्ले के साथ धोनी का यह सबसे खराब सीजन था और साथ ही साथ उनकी टीम के लिए भी। धोनी ने 12 पारियों में केवल 200 ही बनाए। इस सीजन में उनका सर्वोच्च स्कोर नाबाद 47 रन था। इस बार चेन्नई की विफलता का कारण धोनी का फिनिशर के रूप में न चलना रहा।

शेन वाटसन (उम्र : 39, टीम : चेन्नई सुपर किंग्स)
वॉटसन और फाफ डु प्लेसिस की 181 रन की साझेदारी ने चेन्नई को अक्टूबर की शुरुआत में किंग्स इलेवन पंजाब पर 10 विकेट से जीत दिलाई थी, इससे लगने लगा था कि तीन बार के चैंपियन और उनके स्टार वाटसन ने वापसी कर ली है। हालांकि, इसके बाद वाटसन ने छह पारियों में केवल ही बार 30 या उससे ज्यादा रन बनाए। उन्होंने चेन्नई के अंतिम मैच के बाद क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा कर दी।

पृथ्वी शॉ (उम्र : 20, टीम : दिल्ली कैपिटल्स)
रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ पांच अक्टूबर को शॉ की 23 गेंदों पर 42 रन की पारी ने कमेंटेटरों को उन्हें आईपीएल के अगले सुपरस्टार के रूप में स्थापित करने के लिए प्रेरित किया। लेकिन इसके बाद उनका प्रदर्शन 5, 64, 2 66 रन का ही रहा। उनकी अगली पांच पारियों का स्कोर 19, 4, 0, 0 और 7 ही रहा। इसके बाद उनके खराब प्रदर्शन के कारण अंतत: उन्हें दो मैचों के लिए उनकी जगह अजिंक्य रहाणे को टीम में लाया गया। शॉ ने इस सीजन में अब तक 228 रन ही बनाए हैं।

ग्लेन मैक्सवेल (उम्र : 32, टीम : किंग्स इलेवन पंजाब)
किंग्स इलेवन पंजाब पूरे सीजन में मैक्सवेल को मौके देती रही, लेकिन मैक्सवेल का बल्ला खामोस ही रहा। इस सीजन में मैक्सवेल का उच्चतम स्कोर 24 गेंदों में 32 रन था। उन्होंने इस सीजन में केवल 108 रन ही बनाया। पंजाब प्लेऑफ से बाहर हो चुकी है।

आंद्रे रसेल (उम्र : 32, टीम : कोलकाता नाइट राइडर्स)
रसेल के लिए आईपीएल का यह सीजन सबसे खराब रहा है। 2019 का सीजन उनके लिए बेहद शानदार रहा था जब उन्होंने 56.67 की औसत से 510 रन बनाए थे। रसेल ने आईपीएल-13 में 13.00 की औसत से 117 रन बनाए और उनका सर्वोच्च स्कोर 25 था। उन्होंने छह विकेट भी लिए।

एरॉन फिंच (उम्र : 33, टीम : रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर)
आस्ट्रेलिया के सीमित ओवरों के कप्तान और फिंच अभी भी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए इस सीजन में कम से कम एक मैच में अपनी उपस्थिति दर्ज करा सकते हैं और ग्रुप चरण की नाकामी को पीछे छोड़ सकते हैं। फिंच ने इस सीजन में अब तक 236 रन बनाए हैं।

पैट कमिंस (उम्र : 27, टीम : कोलकाता नाइट राइडर्स)
रिकॉर्ड कीमत पर बिकने वाले कमिंस ने पहले 10 मैचों में सिर्फ तीन विकेट लिए थे। इसके बाद अंतिम पिछले चार मैचों में उन्होंने नौ विकेट चटकाए, जिसमें चार विकेट लिए। लेकिन लीग चरण के दूसरे भाग में केकेआर के पीछे रहने का मतलब कमिंस का देरी से फॉर्म में आना था।

भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned