माराडोना के बाद 'वर्ल्ड कप हीरो' पापा बाउबा का निधन, महज 42 वर्ष की उम्र में दुनिया छोड़ गया फुटबॉलर

-डिएगो माराडोना के बाद वर्ष 2002 के वर्ल्ड कप हीरो पापा बाउबा का 42 वर्ष की उम्र में निधन।
-लंबे समय से बीमार चल रहे थे पापा बाउबा। पेरिस में हुआ उनका निधन।
-इंटरनेशनल कॅरियर में पापा बाउबा के नाम 36 मैचों में 11 गोल हैं।
-पापा बाउबा के अच्छे प्रदर्शन की बदौलत वर्ल्ड कप के क्वॉर्टर फाइनल में पहुंची थी सेनेगल की टीम।

 

By: भूप सिंह

Published: 01 Dec 2020, 10:25 AM IST

नई दिल्ली। 25 नवंबर को महान फुटबॉलर डिएगो माराडोना ( Diego Maradona) का आर्ट अटैक के चलते निधन हो गया था। अभी फुटबॉल जगत माराडोना (Diego Maradona) के निधन के खबर से उभर नहीं पाया था कि वर्ष 2020 वर्ल्ड के हीरो पापा बाउबा (Papa Bouba Diop dies) का रविवार देर रात 42 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। एक के बाद एक दो महान फुटबॉलर के यूं दुनिया छोड़कर चले जाने से फुटबॉल खिलाड़ी शोक लहर में डूबे हैं। रिपोर्ट्स के अनुसार, सेनेगल (senegal) के दिग्गज फुटबॉलर पापा बाउबा (Papa Bouba Diop) लंबे समय से बीमार चले रहे थे। उनका निधन पेरिस में हुआ।

 

2020 वर्ल्डकप में पापा बाउबा ने रचा था इतिहास
गौरतलब है कि पापा (Papa Bouba Diop) वही फुटबॉलर हैं, जिन्होंने वर्ष 2002 में वर्ल्ड कप में अपने करिश्माई गोल से चैंपियन फ्रांस को स्तब्ध कर दिया था। उनके गोल की मदद से ही फुटबॉल की रैकिंग में काफी पीछे रहने वाली सेनेगल ने फ्रांस जैसी दिग्गज टीम को 1—0 से हराते हुए इतिहास रच दिया था। उस मैच में पापा के प्रदर्शन ने सभी को हैरान कर दिया था। यह वर्ल्ड कप का पहला ही मैच था।

 

पापा बाउबा के निधन पर संचालन संस्था फीफी ने रविवार को कहा, 'फीफा सेनेगल के महान फुटबॉलर पापा बाउबा के निधन की खबर सुनकर काफी दुखी है।’ जापान और दक्षिण कोरिया में हुए 2002 विश्व कप के शुरूआती मैच में पापा के गोल की मदद से सेनेगल ने गत चैम्पियन फ्रांस को 1-0 से शिकस्त देकर उलटफेर किया था।

 

क्वॉर्टर फाइनल में पहुंची थी सेनेगल की टीम
सबसे अहम बात यह है कि 2020 वर्ल्ड कप में सेनेगल की टीम ने पर्दापण किया था। पापा बाउबा के अच्छे प्रदर्शन की बदौलत सेनेगल की टीम क्वॉर्टर फाइनल तक पहुंची थी। फीफा ने ट्विटर पर श्रृद्धांजलि देते हुए कहा, ‘एक बार विश्व कप का नायक हमेशा विश्व कप का नायक रहता है।’ बता दें कि पापा बाउबा का जन्म 28 जनवरी, 1978 को डकार में हुआ था। उन्होंने अपने कॅरियर में 261 मैच खेले और 26 गोल दागे। इंटरनेशनल कॅरियर की बात करें तो उनके नाम 36 मैचों में 11 गोल हैं। उनके निधन पर फुटबॉल जगत के खिलाड़ी गम में डूबे और उन्हें श्रद्धाजंलि दे रहे हैं।

Show More
भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned